Home देश इस सरकारी बैंक में 15 फरवरी से नहीं कर पाएंगे पैसों का...

इस सरकारी बैंक में 15 फरवरी से नहीं कर पाएंगे पैसों का लेनदेन, करना होगा ये काम

0

इस सरकारी बैंक में 15 फरवरी से नहीं कर पाएंगे पैसों का लेनदेन, करना होगा ये काम

यदि आप भी इलाहाबाद बैंक Allahabad Bank)के ग्राहक हैं तो यह खबर आपके लिए है। इलाहाबाद के इंडियन बैंक Indian Bank)में मर्ज होने की प्रक्रिया अब अंतिम चरण में है। इंडियन बैंक के साथ इलाहाबाद बैंक का मर्जर 15 फरवरी को पूरा हो जाएगा। इसके साथ ही पूरे देश में इलाहाबाद बैंक की शाखाओं के IFSC कोड भी बदल जाएंगे। ऐसे में यदि आप इंटरनेट बैंकिंग के जरिए लेनदेन करते हैं तो आपको अब ट्रांजेक्शन के लिए नया IFSC कोड दर्ज करना होगा। आपको बता दें कि 1 अप्रैल 2020 से इलाहाबाद बैंक का इंडियन बैंक में मर्जर हो चुका है।

इंडियन बैंक ने इस संबंध में इलाहाबाद बैंक के ग्राहकों को एसएमएस और अन्य माध्यमों से संदेश भेजा है। बैंक के अनुसार आरटीजीएस RTGS), एनईएफटी NEFT), आईएमपीएस IMPS) के लिए कोड ‘IDIB’ से शुरू होगा। अपना नया आईएफएस कोड जानने के लिए अपनी होम ब्रांच से संपर्क करें।

इण्डियन बैंक ने इलाहाबाद बैंक के ग्राहकों को 15 फरवरी से होने वाले इस बदलाव की जानकारी दी है। इसके साथ ही बैंक ने अपने ट्विटर पर एक वीडियो भी ट्वीट किया है। इस वीडियो में बैंक ने ग्राहकों को नया IFSC कोड प्राप्त करने का प्रोसेस बताया है। बैंक के मुताबिक, नया IFSC कोड आप बैंक की वेबसाइट पर जाकर या अपने निकटतम इण्डियन बैंक शाखा से प्राप्त कर सकते हैं।

ऑनलाइन ट्रांजेक्शन के लिए बैंक अकाउंट नंबर के साथ बैंक का IFSC यानी इंडियन फाइनेंशियल सिस्टम कोड एड करना पड़ता है। IFSC कोड 11 अंकों का होता है। आईएफएससी कोड में शुरू के चार अक्षर बैंक के नाम को दर्शाते हैं। IFSC कोड का इस्तेमाल इलेक्ट्रॉनिक पेमेंट के दौरान किया जाता है। IFSC कोड का इस्तेमाल नेशनल इलेक्ट्रॉनिक फंड ट्रांसफर NEFT) और रियल टाइम ग्रॉस सेटलमेंट RTGS) में कर सकते हैं।

- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here