दिनदहाड़े पुलिसकर्मी की हत्या: पेट में दनादन दागी गोलियां दागी...

 0
दिनदहाड़े पुलिसकर्मी की हत्या: पेट में दनादन दागी गोलियां दागी...
ADVERTISEMENT ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT ADVERTISEMENT

दिनदहाड़े पुलिसकर्मी की हत्या: पेट में दनादन दागी गोलियां दागी...

राजस्थान में सरकार बदल गई है, लेकिन माफिया राज और जंगल राज नहीं बदल रहा है। नई सरकार ने इन्हें बदलने के दावे किए लेकिन इन तमाम दावों को एक पुलिसकर्मी की हत्या ने झुटला दिया । खबर राजस्थान के टोंक जिले से है । टोंक जिले में हथियार तस्करी करने वाले तस्करों को पकड़ने गई पुलिस टीम पर तस्करों ने फायर कर दिया । एक पुलिसकर्मी के पेट में गोलियां दाग दी, उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया। लेकिन कई घंटे के प्रयास के बाद भी उसे बचाया नहीं जा सका।

परिवार में छाया मातम
पुलिसकर्मी का पार्थिव शरीर को भरतपुर पैतृक गांव ले जाया गया और कल देर शाम राजकीय सम्मान से अंतिम संस्कार किया गया ।परिवार में मातम छाया हुआ है, माता-पिता का रो-रोकर बुरा हाल है।‌इस घटना के बाद से परिवार में कोहराम मचा हुआ है ।‌ वहीं कुछ लोगों ने इस पूरे मामले पर पुलिस की नाकामी करार दिया है। इस घटना के बाद कुछ आरोपी हिरासत में लिए गए हैं । कुछ के फरार होने की सूचना है।

भरतपुर का जवान टोंक जिले में था तैनात
दरअसल टोंक जिले के बरौनी थाने में भरतपुर जिले का पुलिसकर्मी सत्येंद्र चौधरी तैनात था। सत्येंद्र वहां पर कांस्टेबल था। पुलिस को सूचना मिली थी कि गुरुवार शाम बरौनी थाना इलाके के जेवड़िया गांव में अवैध हथियारों की तस्करी हो रही है । ऐसे में बरौनी थाने की पुलिस टीम मौके पर पहुंची और तस्करों को काबू करने की कोशिश की। लेकिन उन तस्करों ने पुलिस टीम पर फायरिंग कर दी ।‌ उसके बाद तुरंत टोंक एसपी को इसकी सूचना भेजी गई ।

पलिसकर्मी ने इलाज के दौरान तोड़ा दम
टोंक एसपी ने तुरंत पुलिस कर्मियों को मौके पर भेजा और दो तस्करों को काबू किया।‌ एक तस्कर वहां से फरार हो गया।‌ लेकिन इस फायरिंग में सत्येंद्र चौधरी के गोली लगी।‌ उसे पहले टोंक जिले में भर्ती कराया गया, उसके बाद कल जयपुर रेफर किया गया । जयपुर में इलाज के दौरान कल उसकी मौत हो गई । सत्येंद्र कुछ समय पहले ही पुलिस में भर्ती हुआ था।

Policeman murdered in broad daylight: Bullets fired in the stomach...

The government has changed in Rajasthan, but the mafia rule and jungle rule are not changing. The new government made claims of changing these but all these claims were belied by the murder of a policeman. The news is from Tonk district of Rajasthan. Smugglers opened fire on the police team that had gone to arrest arms smugglers in Tonk district. A policeman was shot in the stomach and admitted to hospital. But even after several hours of efforts he could not be saved.

mourning in the family
The mortal remains of the policeman were taken to Bharatpur native village and the last rites were performed with state honors late yesterday evening. There is mourning in the family, the parents are in bad condition after crying. There is chaos in the family after this incident. It has happened. Some people have termed this entire matter as a failure of the police. Some accused have been detained after this incident. There is information that some are absconding.

Bharatpur's soldier was posted in Tonk district
Actually, policeman Satyendra Chaudhary of Bharatpur district was posted in Barauni police station of Tonk district. Satyendra was a constable there. Police had received information that illegal weapons were being smuggled in Jewadiya village of Barauni police station area on Thursday evening. In such a situation, the police team of Barauni police station reached the spot and tried to control the smugglers. But those smugglers opened fire on the police team. After that information was immediately sent to Tonk SP.

Policeman died during treatment
Tonk SP immediately sent police personnel to the spot and arrested two smugglers. One smuggler escaped from there. But in this firing, Satyendra Choudhary was shot. He was first admitted to Tonk district, then yesterday. Referred to Jaipur. He died yesterday during treatment in Jaipur. Satyendra had joined the police some time ago.

ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT