आरबीआई ने कैंसिंल कर दिया राजस्थान के इस बैंक का लाइसेंस, खाते में जमा 5 लाख रुपये तक ही मिलेंगे वापस

 0
आरबीआई ने कैंसिंल कर दिया राजस्थान के इस बैंक का लाइसेंस, खाते में जमा 5 लाख रुपये तक ही मिलेंगे वापस
ADVERTISEMENT ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT ADVERTISEMENT

आरबीआई ने कैंसिंल कर दिया राजस्थान के इस बैंक का लाइसेंस, खाते में जमा 5 लाख रुपये तक ही मिलेंगे वापस

भारतीय रिजर्व बैंक ने राजस्थान के पाली  जिले में स्थित सुमेरपुर मर्केंटाइल अर्बन को-ऑपरेटिव बैंक  का लाइसेंस रद्द कर दिया है. बुधवार को इसका कारण बताते हुए आरबीआई अधिकारियों ने कहा कि इस बैंक के पास पर्याप्त पूंजी और कमाई की संभावनाएं नहीं हैं. इसीलिए ये फैसला लिया गया है.

5 लाख रुपये तक की जमा मिलेगी वापस
रिजर्व बैंक ने एक बयान में कहा कि राजस्थान के सहकारी समितियों के पंजीयक से भी बैंक को बंद करने और एक परिसमापक नियुक्त करने का आदेश जारी करने का अनुरोध किया गया है. परिसमापन पर, प्रत्येक जमाकर्ता जमा बीमा और क्रेडिट गारंटी निगम  से अपनी जमा राशि की 5 लाख रुपये तक की जमा बीमा दावा राशि प्राप्त करने का हकदार होगा. रिजर्व बैंक ने कहा, 'बैंक के आंकड़ों के अनुसार, 99.13 प्रतिशत जमाकर्ता डीआईसीजीसी से अपनी जमा राशि की पूरी राशि प्राप्त करने के हकदार हैं.'

45.22 करोड़ का भुगतान पहले ही किया
आरबीआई ने बताया कि 30 नवंबर, 2023 तक, DICGC ने बैंक के संबंधित जमाकर्ताओं से प्राप्त इच्छा के आधार पर DICGC अधिनियम, 1961 की धारा 18A के प्रावधानों के तहत कुल बीमाकृत जमा का ₹45.22 करोड़ का भुगतान पहले ही कर दिया है. अब इस बैंक के लाइसेंस को रद्द करने के परिणामस्वरूप, सुमेरपुर मर्केंटाइल अर्बन कोऑपरेटिव बैंक लिमिटेड सुमेरपुर पाली को 'बैंकिंग' का व्यवसाय संचालित करने से प्रतिबंधित किया गया है, जिसमें अन्य बातों के अलावा, जमा स्वीकार करना और जमा राशि का पुनर्भुगतान शामिल है.


   
   
   

RBI has canceled the license of this bank of Rajasthan, only up to Rs 5 lakh deposited in the account will be returned.

The Reserve Bank of India has canceled the license of Sumerpur Mercantile Urban Co-operative Bank located in Pali district of Rajasthan. Explaining the reason for this on Wednesday, RBI officials said that this bank does not have sufficient capital and earning potential. That is why this decision has been taken.

Deposit up to Rs 5 lakh will be returned
The Reserve Bank said in a statement that the Registrar of Cooperative Societies, Rajasthan has also been requested to issue an order to close the bank and appoint a liquidator. On liquidation, every depositor will be entitled to receive deposit insurance claim amount of up to Rs 5 lakh of his deposits from the Deposit Insurance and Credit Guarantee Corporation. The Reserve Bank said, 'As per the bank's data, 99.13 per cent of depositors are entitled to receive the full amount of their deposits from DICGC.'

Rs 45.22 crore already paid
RBI informed that as of November 30, 2023, DICGC has already paid ₹45.22 crore of total insured deposits under the provisions of Section 18A of the DICGC Act, 1961, based on the willingness received from the respective depositors of the bank. Now consequent to the cancellation of the license of this bank, Sumerpur Mercantile Urban Cooperative Bank Limited Sumerpur Pali is prohibited from conducting the business of 'banking' which inter alia, includes accepting deposits and repayment of deposits.

ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT