शादी से पहले गायब हो गया दूल्हा, जानिये फिर किसकी हो गई दुल्हन, उसी मंडप में की दूसरे से शादी

 0
शादी से पहले गायब हो गया दूल्हा, जानिये फिर किसकी हो गई दुल्हन, उसी मंडप में की दूसरे से शादी

शादी से पहले गायब हो गया दूल्हा, जानिये फिर किसकी हो गई दुल्हन, उसी मंडप में की दूसरे से शादी

नागौर. जोड़ियां तो ऊपर वाला बनाता है। ये कहावत राजस्थान के नागौर जिले में सच होती नजर आई। जब एक दूल्हा शादी से 2 घंटे पहले फरार हो गया तो दूल्हन के पिता ने अपने ही दोस्त के लड़के से उसकी शादी कर दी। इससे साफ पता चल रहा है कि इस लड़की की उसी से शादी होनी थी। जो बेफिक्र होकर घर में सो रहा था। लेकिन अचानक उसके पिता के पास फोन आया और वह सेहरा बांधकर दुल्हन को लेने चल दिया।

एक साथ होनी थी दोनों बहनों की शादी
नागौर जिले में एक साथ दो बहनों की शादी होनी थी। एक बारात आ चुकी थी दूसरी बारात का इंतजार किया जा रहा था। फेरों का समय हो रहा था, पता चला 2 घंटे पहले मेकअप करने के नाम पर दूल्हा भाग गया। आनन-फानन में लड़की के पिता ने दूसरे दूल्हे का इंतजाम किया और शादी धूमधाम से हुई।

भावड़ा गांव का मामला
दरअसल नागौर जिले के भावड़ा थाना इलाके में रहने वाले बुजुर्ग की दो बेटियों की एक साथ शादी होनी थी। 23 अप्रैल को यह शादी संपन्न होनी थी। रात 8 बजे एक बारात आ पहुंची, दूसरी बारात को 10 बजे तक पहुंचना था और देर रात 12 बजे दोनों बहनों के एक साथ फेरे होने थे।

रिश्तेदारों से बात कर दूल्हे का किया इंतजाम
लेकिन करीब 9 बजे दुल्हन के पिता को पता चला दूल्हा शादी नहीं करना चाहता। वह मेकअप कराने के नाम पर फरार हो गया। दुल्हन के पिता की हालत काटो तो खून नहीं जैसी हो गई। उन्होंने अपने रिश्तेदारों से बातचीत की। यह तय हुआ कि जल्द से जल्द एक दूल्हे का इंतजाम किया जाए।

हवलदार को किया फोन, बेटे को लेकर आजा
दूल्हे के पिता ने अपने हवलदार दोस्त को फोन किया और कहा मेरी बेटी की शादी तुम्हारे बेटे से आज रात 12 बजे करनी है, बारात लेकर आ जाना। हवलदार ने अपनी पत्नी को यह बात बताई और सीधा घर पहुंचा। पता चला रात 9:30 बजे बेटा सो रहा था। बेटे को जगाया और कहा जल्दी तैयार हो जाओ 12 बजे तुम्हारी शादी है। दूल्हा भी फटाफट तैयार हो गया और 12 बजे 15 गाड़ियां और बैंड बाजे लेकर दूसरा दूल्हा पहुंच गया ठीक। 12 बजे दोनों बहनों के फेरे हुए। इस शादी की पूरे गांव में चर्चा है। लोगों का कहना है असली दोस्ती यही है।

यह खबर भी पढ़ें:-


The groom disappeared before the wedding, know whose bride he became, married someone else in the same pavilion

Nagaur. The upper one makes the pairings. This saying seemed to be true in Nagaur district of Rajasthan. When a groom eloped 2 hours before the wedding, the bride's father married her to his own friend's son. It is clear from this that this girl was to be married to him. Who was sleeping carefree in the house. But suddenly his father got a call and he tied his head and went to pick up the bride.

Both sisters were to get married together
Two sisters were to get married together in Nagaur district. One procession had arrived and the second procession was awaited. It was time for the wedding, we found out that the groom had run away 2 hours earlier in the name of doing make-up. The girl's father hurriedly arranged for another groom and the marriage took place with great pomp.

Bhavda village case
Actually, two daughters of an elderly person living in Bhavda police station area of Nagaur district were to get married together. This marriage was to take place on 23 April. One procession arrived at 8 o'clock in the night, the second procession was to reach by 10 o'clock and at 12 o'clock in the night both the sisters were to take the rounds together.

Made arrangements for the groom after talking to relatives
But around 9 o'clock the bride's father came to know that the groom did not want to marry. He ran away in the name of getting make-up done. The condition of the bride's father became like no blood. He talked to his relatives. It was decided that a groom should be arranged as soon as possible.


Called the constable and came with his son.
The groom's father called his constable friend and said that my daughter's marriage has to be done with your son at 12 o'clock tonight, bring the wedding procession. The constable told this to his wife and went straight home. Found out the son was sleeping at 9:30 pm. Woke up my son and said, get ready quickly, your wedding is at 12 o'clock. The groom also got ready quickly and at 12 o'clock the second groom arrived with 15 vehicles and a band. Both the sisters had their rounds at 12 o'clock. This marriage is discussed in the entire village. People say that this is real friendship.