क्रूर बेटे: पिता को मारकर किचन में दफनाई लाश, उसी पर बैठकर खाया खाना और वहीं सोए

 0
क्रूर बेटे: पिता को मारकर किचन में दफनाई लाश, उसी पर बैठकर खाया खाना और वहीं सोए
ADVERTISEMENT ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT ADVERTISEMENT

क्रूर बेटे: पिता को मारकर किचन में दफनाई लाश, उसी पर बैठकर खाया खाना और वहीं सोए

देश में आज भी लाखों करोड़ों परिवार ऐसे हैं जिनको पहली संतान बेटा ही चाहिए.....। बेटे की चाह में लोग क्या - क्या नहीं करते...। लेकिन राजस्थान में चार बेटों के पिता की यह हालात देखकर अब शायद ही कोई परिवार बेटे की चाह रखेगा...। जहां एक ने बाप को दर्दनाक मौत देकर मार डाला तो दूसरे ने उनकी लाश को किचन में ही दफना दी। जब पुलिस ने इस केस का खुलासा किया तो हर कोई दंग रह गया।


बीमार पिता का इलाज नहीं करा सके क्रूर बेटे
दरअसल. डूंगरपुर जिले में स्थित कोतवाली थाना इलाके में रहने वाले साठ साल के राजेंन्द्र के चार बेटे हैं। लेकिन चारों मिलकर भी उसके पेट के मामूली दर्द का इलाज नहीं करा सके। पिता ने बार बार इलाज कराने की मांग की तो एक बेटे ने पिता की हत्या कर दी और शव को किचन में दबा दिया।

पिता कहता रहा-मैं मरना नहीं चाहता...मुझे जीना है-बचा लो बेटा
दरअसल राजेन्द्र के चार बेटे जिनमें पप्पू, दिनेश, चुन्नीलाल और एक अन्य शामिल हैं। सबसे छोटा बेटा और मां गुजरात में रहकर मजदूरी करते हैं और अपना पेट पालते हैं। इधर गांव में सौ मीटर पर दो घर बने हुए हैं एक में चुन्नीलाल और पिता राजेन्द्र रह रहे थे और दूसरे में दोनो भाई। 19 मार्च को शाम को राजेन्द्र ने बेटे चुन्नीलाल से कहा कि पेट दर्द है, मैं मरना नहीं चाहता, डॉक्टर के ले चल....। बेटे ने पिता के सिर में डंडा मार दिया और हत्या कर दी। लाश को उसी रात किचन में चार फीट नीचे दबा दिया। तीन दिनों तक वहीं सोया, वहीं खाना बनाया, लाश पर बैठकर खाना खाया।

दो बेटों को पिता की हत्या की भनक तक नहीं थी...
 सुबह जब पप्पू और दिनेश ने चुन्नीलाल को पूछा कि पापा कहां है, दिख नहीं रहे तीन दिन से। चुन्नीलाल उनको अपने घर ले आया और पिता को जहां दबाया था वह जगह दिखाई और चला गया। वहां दोनो बेटों ने खुदाई की तो पिता का शव मिला। पुलिस को सूचना दी गई। पुलिस ने कल शाम को चुन्नीलाल को पकड़ा तो उसने यह सारा खुलासा किया। उसने कहा कि बार बार पेट दर्द के लिए कह रहे थे, मैने मार दिया। दोनो बेटों ने पुलिस को बताया कि छोटा भाई चुन्नीलाल सनकी है। मारपीट करता है और इसी कारण सबसे अलग रहता है।

Cruel son: killed his father and buried his body in the kitchen, ate food sitting on it and slept there

Even today, there are lakhs and crores of families in the country who want a son as their first child. What do people not do in the desire of having a son? But seeing this condition of the father of four sons in Rajasthan, hardly any family will wish to have a son. While one killed his father by giving him a painful death, the other buried his body in the kitchen itself. When the police revealed this case, everyone was stunned.


Cruel son could not get sick father treated
In fact. Sixty-year-old Rajendra, who lives in Kotwali police station area in Dungarpur district, has four sons. But even all four together could not cure his minor stomach ache. When the father repeatedly demanded treatment, a son killed the father and buried the body in the kitchen.

The father kept saying - I don't want to die... I want to live - save me son.
Actually Rajendra has four sons including Pappu, Dinesh, Chunnilal and one other. The youngest son and mother live in Gujarat and work as laborers to support themselves. Here in the village, there are two houses built 100 meters apart. Chunnilal and his father Rajendra were living in one and two brothers were living in the other. On the evening of 19 March, Rajendra told his son Chunnilal that he has stomach ache, I do not want to die, take him to the doctor. The son hit the father on the head with a stick and killed him. The body was buried four feet under the kitchen the same night. Slept there for three days, cooked food there, and ate food sitting on the dead body.

The two sons had no idea of their father's murder.
  In the morning, when Pappu and Dinesh asked Chunnilal where father was, he was not seen for three days. Chunnilal brought him to his home and showed him the place where his father was pressed and went away. When both the sons dug there, their father's body was found. Police was informed. When the police caught Chunnilal yesterday evening, he revealed all this. He said that he was repeatedly asking for stomach ache, so I killed him. Both the sons told the police that the younger brother Chunnilal is crazy. He fights and because of this he remains isolated from everyone.

ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT