जैसलमेर की पाकिस्तान बॉर्डर पर जो विमान हुआ क्रेश, वो सेना के लिए करता था जासूसी

 0
जैसलमेर की पाकिस्तान बॉर्डर पर जो विमान हुआ क्रेश, वो सेना के लिए करता था जासूसी

जैसलमेर की पाकिस्तान बॉर्डर पर जो विमान हुआ क्रेश, वो सेना के लिए करता था जासूसी

 राजस्थान के जैसलमेर जिले से बड़ी खबर आ रही है। जैलसमेर जिले में पाकिस्तान बॉर्डर के नजदीक वायुसेना का विमान क्रेश हुआ है। इस विमान में कोई पायलट नहीं था और न ही कोई अन्य व्यक्ति था। दरअसल यह मानव रहित हल्का विमान था। लेकिन यह जिस जगह पर गिरा उसके नजदीक ही रिहायशी बस्ती थी। विमान जैसलमेर जिले के पिथाना गांव के नजदीक क्रेश हुआ है।

क्रैश विमान में अंदर नहीं था कोई
स्थानीय ग्रामीणों ने बताया कि सवेरे लोग अपने अपने काम में व्यस्त थे। अचानक विमान में आग लगती दिखी और वह तेजी से नीचे की ओर आता दिखाई दिया। जमीन पर गिरते ही धमाका हुआ और आग काफी तेजी से लग गई। गांव वालों ने आग को जैसे तैसे काबू किया। उनको लग रहा था कि अंदर कितने लोग हैं। गनीमत रही कि अंदर कोई नहीं था।

क्रेश हुआ विमान सेना के लिए जासूसी करता था
पुलिस पहुंची तो पुलिस ने आसपास के पूरे क्षेत्र को खाली कराया। उसके बाद वायु सेना के अफसर भी वहां आ गए। पता चला कि यह टोही विमान था। जिसका काम जासूसी करना और सूचनाओं का संकलन करना था। इसमें विशेष उपकरण लगे हुए थे। विमान नष्ट होने से नुकसान हुआ है। लेकिन गनीमत रही कि यह विमान किसी इंसानी बस्ती पर नहीं गिरा नहीं तो बड़ा नुकसान होना तय था।

यह खबर भी पढ़ें:-


The plane that crashed on the Pakistan border of Jaisalmer used to spy for the army.

Jaipur. Big news is coming from Jaisalmer district of Rajasthan. An Air Force plane has crashed near the Pakistan border in Jailsamer district. There was no pilot nor any other person in this plane. Actually it was an unmanned light aircraft. But there was a residential area near the place where it fell. The plane crashed near Pithana village in Jaisalmer district.

There was no one inside the crashed plane
Local villagers told that people were busy in their work in the morning. Suddenly the plane was seen on fire and was seen descending rapidly. As soon as it fell on the ground, there was an explosion and fire broke out very quickly. The villagers somehow controlled the fire. They were wondering how many people were inside. It was fortunate that there was no one inside.

The crashed plane used to spy for the army
When the police arrived, they evacuated the entire surrounding area. After that Air Force officers also came there. It turned out that it was a reconnaissance aircraft. Whose job was to spy and collect information. Special equipment was installed in it. There has been loss due to the destruction of the aircraft. But it was fortunate that this plane did not fall on any human settlement otherwise there would have been a huge loss.