बड़ी खबर:-पूर्व नेता और विधायक ने अपने घर में आत्महत्या कर ली, पुलिस का कहना है कि पारिवारिक कलह 

 0
बड़ी खबर:-पूर्व नेता और विधायक ने अपने घर में आत्महत्या कर ली, पुलिस का कहना है कि पारिवारिक कलह 

बड़ी खबर:-पूर्व नेता और विधायक ने अपने घर में आत्महत्या कर ली, पुलिस का कहना है कि पारिवारिक कलह 

भीलवाड़ा के मांडलगढ़ से पूर्व, कांग्रेस नेता और विधायक विवेक धाकड़ ने गुरुवार की सुबह साढ़े 7 बजे अपने घर में खुदकुशी कर ली। उन्होंने अपनी हाथों की नसें काट लीं। इसके बाद उन्हें महात्मा गांधी हॉस्पिटल में ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। पुलिस का कहना है कि सुसाइड का मुख्य कारण पारिवारिक कलह था। धाकड़ ने 2019 के उप चुनाव में मांडलगढ़ से विधायक के रूप में जीत हासिल की थी, लेकिन 2023 के विधानसभा चुनाव में उन्हें भाजपा के उम्मीदवार गोपाल शर्मा से हार का सामना करना पड़ा था।

धाकड़ बुधवार को कांग्रेस के लोकसभा प्रत्याशी सीपी जोशी के नामांकन के दौरान कलेक्टर कार्यालय में मौजूद थे। वे प्रचार कर रहे थे जब अचानक उन्होंने खुदकुशी कर ली। धाकड़ के शव को भीलवाड़ा के महात्मा गांधी हॉस्पिटल में रखा गया है। घरेलू तनाव के कारण धाकड़ ने सुबह अपनी हाथों की नसें काट ली थी। उनके पिता कन्हैया लाल धाकड़ ने बताया कि वे मॉर्निंग वॉक पर गए थे और वापस आते समय उन्होंने बेटे को गर्दन लुढ़कते हुए पाया, जिसके हाथ से खून बह रहा था। पुलिस ने भीलवाड़ा के महात्मा गांधी हॉस्पिटल में उनका शव रखवा दिया है।

Big news:- Former leader and MLA committed suicide in his house, police say family dispute

Vivek Dhakad, former Congress leader and MLA from Mandalgarh in Bhilwara, committed suicide at his house at 7.30 am on Thursday. He cut the veins of his hands. After this he was taken to Mahatma Gandhi Hospital, where doctors declared him dead. Police say that the main reason for suicide was family dispute. Dhakad had won the 2019 by-election as MLA from Mandalgarh, but lost to BJP candidate Gopal Sharma in the 2023 assembly elections.

Dhakad was present in the Collector's office during the nomination of Congress Lok Sabha candidate CP Joshi on Wednesday. He was campaigning when suddenly he committed suicide. Dhakad's body has been kept in Mahatma Gandhi Hospital, Bhilwara. Due to domestic tension, Dhakad had cut the veins of his hands in the morning. His father Kanhaiya Lal Dhakad told that he had gone for a morning walk and while returning, he found his son lying face down and his hand was bleeding. The police have kept his body in Mahatma Gandhi Hospital, Bhilwara.