मस्जिद में मौलाना का मर्डर: चीखते-चिल्लाते रहे...लेकिन कोई बचाने नहीं आया

 0
मस्जिद में मौलाना का मर्डर: चीखते-चिल्लाते रहे...लेकिन कोई बचाने नहीं आया

 मस्जिद में मौलाना का मर्डर: चीखते-चिल्लाते रहे...लेकिन कोई बचाने नहीं आया

अजमेर. ख्वाजा नगरी के नाम से मशहूर राजस्थान के अजमेर जिले से एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है। यहां पीट - पीट कर एक मौलाना की हत्या कर दी गई। यह हत्या कहीं और नहीं बल्कि मस्जिद में ही की गई। तीन बदमाशों ने लाठी और डंडों से मौलाना को पीटा। जिस वक्त यह सब कुछ हुआ उस दौरान बच्चे भी थे लेकिन बदमाशों ने उन्हें धमकी दे दी कि कुछ भी कहा तो जान से मार देंगे।

मौलाना अपने परिवार के साथ मस्जिद में सो रहे थे
पूरा मामला रामगंज थाना इलाके के मोहम्मदी मदीना मस्जिद का है। मौलाना मोहम्मद माहिर बच्चों के साथ मस्जिद में बने कमरे में सो रहे थे। अलसुबह अंदर रहने वाले बच्चे चिल्लाते हुए आए तो आसपास के लोगों को पूरे मामले का पता चला। अब तक की जानकारी में सामने आया है की मस्जिद के पीछे के रास्ते से तीनों बदमाश घुसे और फिर हत्या करके फरार हो गए।

मौत के कारणों का खुलासा नहीं
घटना के बाद स्थानीय पुलिस भी मौके पर पहुंची है। जिनका कहना है कि अभी तक मौत के कारणों का खुलासा नहीं हो पाया है। हालांकि मस्जिद के पीछे बने बाड़े से 2 डंडे बरामद हुए हैं। फिलहाल अब डॉग स्क्वायड मौके से साक्ष्य जुटा रहा है। जिस दौरान यह पूरा घटनाक्रम हुआ उस वक्त मौलाना गहरी नींद में थे।

चीखते रहे मौलाना को बचाने नहीं आया कोई
जब मौलाना के साथ बदमाशों ने मारपीट की तो मौलाना चिल्लाए जरूर लेकिन खुद को बदमाशों से खुद को बचा नहीं पाए। आपको बता दे कि मस्जिद में वर्तमान में ज्यादातर बच्चे तो ईद के कारण घर पर गए हुए थे। वही मौलाना को 6 महीने पहले ही मुख्य मौलाना की जिम्मेदारी दी गई थी। मौलाना वैसे तो उत्तर प्रदेश के रामपुर के रहने वाले हैं लेकिन 7 साल से यहीं पढ़ाने का काम कर रहे हैं।

यह खबर भी पढ़ें:-


Maulana murdered in Ajmer mosque: Kept screaming...but no one came to save him

Ajmer. A surprising case has come to light from Ajmer district of Rajasthan, known as Khwaja Nagari. Here a Maulana was beaten to death. This murder was not committed anywhere else but in the mosque itself. Three miscreants beat Maulana with sticks and rods. When all this happened, there were children also, but the miscreants threatened them that if they said anything, they would kill them.

Maulana was sleeping in the mosque with his family.
The whole matter is of Mohammadi Madina Mosque of Ramganj police station area. Maulana Mohammad Mahir was sleeping with his children in a room in the mosque. Early in the morning, when the children living inside came screaming, the people nearby came to know about the whole matter. The information so far has revealed that the three miscreants entered from the back side of the mosque and then escaped after committing the murder.

Causes of death not disclosed
After the incident, local police also reached the spot. Who say that the cause of death has not been revealed yet. However, two sticks have been recovered from the enclosure behind the mosque. At present the dog squad is collecting evidence from the spot. Maulana was in deep sleep when this entire incident happened.

Kept screaming, no one came to save Maulana
When the miscreants beat up Maulana, the Maulana certainly shouted but could not save himself from the miscreants. Let us tell you that at present most of the children in the mosque had gone home due to Eid. The same Maulana was given the responsibility of Chief Maulana only 6 months ago. Although Maulana is a resident of Rampur, Uttar Pradesh, he has been teaching here for 7 years.