Karwa Chauth 2023: करवा चौथ आज, पूजा के लिए मिलेगा बस इतना समय, नोट करें मुहूर्त

Karwa Chauth 2023 shubh muhurt: करवा चौथ का व्रत 1 नवंबर दिन बुधवार को रखा जाएगा. करवा चौथ की पूजा का शुभ मुहूर्त शाम 5.36 बजे से लेकर शाम 6.54 बजे तक रहेगा. यानी करवा चौथ पूजन के लिए आपको सिर्फ 1 घंटा 18 मिनट का ही समय मिलने वाला है.

 0
Karwa Chauth 2023: करवा चौथ आज, पूजा के लिए मिलेगा बस इतना समय, नोट करें मुहूर्त
विज्ञापन3
.

Karwa Chauth 2023: करवा चौथ आज, पूजा के लिए मिलेगा बस इतना समय, नोट करें मुहूर्त

Karwa Chauth 2023 shubh muhurt: करवा चौथ अखंड सौभाग्य की प्राप्ति का सबसे प्रमुख और त्योहार है. हिन्दू कैलेंडर के अनुसार, हर साल कार्तिक महीने के कृष्ण पक्ष की चतुर्थी को करवा चौथ व्रत रखा जाता है. इस दिन सुहागिनें 16 श्रृंगार करती हैं और पति की लंबी उम्र के लिए निर्जला उपवास रखती हैं. इसके अलावा, इस दिन बहु द्वारा अपनी सास को सरगी देने की भी परंपरा है. इस साल करवा चौथ का व्रत बुधवार, 1 नवंबर यानी कल रखा जाएगा. आइए जानते हैं कि आखिर सरगी क्या होती है और करवा चौथ पर पूजा के लिए कितनी देर का मुहूर्त रहने वाला है.

क्या है करवा चौथ की सरगी?
सरगी के जरिए सास अपनी बहू को सुहाग का आशीर्वाद देती है. सरगी की थाल में 16 श्रृंगार की सभी समाग्री, मेवा, फल, मिष्ठान आदि होते हैं. सरगी में रखे गए व्यंजनों को ग्रहण करके ही इस व्रत का आरंभ किया जाता है. सास न हो तो जेठानी या बहन के जरिए भी ये रस्म निभा सकती हैं.

सरगी के सेवन का मुहूर्त
करवा चौथ व्रत वाले दिन सरगी सूर्योदय से पूर्व 4-5 बजे के करीब कर लेना चाहिए. सरगी में भूलकर भी तेल मसाले वाली चीजों को ग्रहण न करें. इससे व्रत का फल नहीं मिलता है. ब्रह्म मुहूर्त में सरगी का सेवन अच्छा माना जाता है.

विज्ञापन9 .
विज्ञापन .

करवा चौथ शुभ मुहूर्त
करवा चौथ का व्रत 1 नवंबर दिन बुधवार को रखा जाएगा. करवा चौथ की पूजा का शुभ मुहूर्त शाम 5.36 बजे से लेकर शाम 6.54 बजे तक रहेगा. यानी करवा चौथ पूजन के लिए आपको सिर्फ 1 घंटा 18 मिनट का ही समय मिलने वाला है. इस दिन चंद्रोदय का समय रात 8 बजकर 15 मिनट बताया जा रहा है.

करवा चौथ व्रत विधि
करवा चौथ के दिन स्नान आदि के बाद करवा चौथ व्रत और चौथ माता की पूजा का संकल्प लेते हैं. फिर अखंड सौभाग्य के लिए निर्जला व्रत रखा जाता है. पूजा के लिए 16 श्रृंगार करते हैं. फिर पूजा के मुहूर्त में चौथ माता या मां गौरी और गणेश जी की विधि विधान से पूजा करते हैं. पूजा के समय उनको गंगाजल, नैवेद्य, धूप-दीप, अक्षत्, रोली, फूल, पंचामृत आदि अर्पित करते हैं. दोनों को श्रद्धापूर्वक फल और हलवा-पूरी का भोग लगाते हैं. इसके बाद चंद्रमा के उदय होने पर अर्घ्य देते हैं और उसके बाद पति के हाथों जल ग्रहण करके व्रत का पारण करते हैं

<meta name="keywords" content="Karwa Chauth 2023, Karwa Chauth date, Karva Chauth shubh muhurt, Karva Chauth auspicious time, Karwa Chauth Sargi, Karva Chauth fast method, Karva Chauth rituals, moonrise time">

विज्ञापन0 .
विज्ञापन .

Karwa Chauth 2023: Karwa Chauth today, only this much time will be available for worship, note the auspicious time.


Karwa Chauth 2023 shubh muhurt: Karwa Chauth fast will be observed on Wednesday, 1st November. The auspicious time for Karva Chauth puja will be from 5.36 pm to 6.54 pm. That means you are going to get only 1 hour 18 minutes time for Karva Chauth worship.

Karwa Chauth 2023 shubh muhurt: Karwa Chauth is the most important festival of attainment of unbroken good fortune. According to the Hindu calendar, Karva Chauth fast is observed every year on the Chaturthi of Krishna Paksha of Kartik month. On this day, married women do 16 adornments and observe a waterless fast for the long life of their husbands. Apart from this, there is also a tradition of giving sargi by the daughter-in-law to her mother-in-law on this day. This year, the fast of Karva Chauth will be observed on Wednesday, 1st November i.e. tomorrow. Let us know what Sargi is and how long is the auspicious time for worship on Karva Chauth.

What is the Sargi of Karva Chauth?
Through Sargi, the mother-in-law blesses her daughter-in-law for her marital bliss. The Sargi plate contains all the ingredients for 16 adornments, dry fruits, fruits, sweets etc. This fast is started by consuming the dishes kept in Sargi. If there is no mother-in-law, this ritual can also be performed through sister-in-law or sister.

Time to consume Sargi
On the day of Karva Chauth fast, Sargi should be done before sunrise, around 4-5 o'clock. Do not consume things containing oil and spices even by mistake in Sargi. Due to this, fasting does not give results. Consuming Sargi in Brahma Muhurta is considered good.

Karva Chauth auspicious time
Karva Chauth fast will be observed on Wednesday, 1st November. The auspicious time for Karva Chauth puja will be from 5.36 pm to 6.54 pm. That means you are going to get only 1 hour 18 minutes time for Karva Chauth worship. The time of moonrise on this day is said to be 8:15 pm.

karva chauth fast method
On the day of Karva Chauth, after bathing etc., people take a pledge to fast Karva Chauth and worship Chauth Mata. Then Nirjala fast is observed for unbroken good fortune. 16 adornments are done for the puja. Then during the auspicious time of puja, Chauth Mata or Maa Gauri and Ganesh ji are worshiped as per the rituals. At the time of puja, Ganga water, Naivedya, incense sticks, Akshat, Roli, flowers, Panchamrit etc. are offered to him. Fruits and halwa-puri are offered to both of them with devotion. After this, when the moon rises, they offer Arghya and then break the fast by taking water from the husband's hands.

What's Your Reaction?

like

dislike

love

funny

angry

sad

wow

विज्ञापन4 .