राजस्थान में आई नागरिकता संशोधन कानून के प्रति उत्साह: जश्न के माहौल में आतिशबाजी और मिठाईयां 

 0
राजस्थान में आई नागरिकता संशोधन कानून के प्रति उत्साह: जश्न के माहौल में आतिशबाजी और मिठाईयां 
ADVERTISEMENT ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT ADVERTISEMENT

राजस्थान में आई नागरिकता संशोधन कानून के प्रति उत्साह: जश्न के माहौल में आतिशबाजी और मिठाईयां 

राजस्थान, भारत: मोदी सरकार द्वारा नागरिकता संशोधन कानून के लागू होने के बाद राजस्थान में उत्सवी माहौल छाया है। लोकसभा चुनाव से पहले ही यह महत्वपूर्ण निर्णय लिया गया था। सीएए के लागू होने के बाद, लोगों में जश्न के भाव उमड़ रहे हैं।

जश्न का आनंद कोटा में: राजस्थान के कोटा शहर में लोगों ने इस मौके पर धूमधाम से जश्न मनाया। मुस्लिम राष्ट्रीय मंच ने आतिशबाजी का आयोजन किया, जिसमें समुदाय के लोगों ने शामिल होकर खुशी का इजहार किया।

लोगों की प्रतिक्रिया:  लोगों का कहना है कि जब दुनिया भर के लोगों को अन्य देशों में शरण मिलती है, तो उन्हें समाज और सुविधाएं मिलनी चाहिए। इसी प्रकार, अब यह कानून भारत में रह चुके पाकिस्तान, अफगानिस्तान और बांग्लादेश के लोगों को भी समाज में समाहित करेगा।

उत्सवी माहौल जोधपुर और बाड़मेर में भी:  जश्न का माहौल जोधपुर और बाड़मेर में भी छाया है। यहाँ रहने वाले पाक विस्थापित लोगों ने इस कानून का स्वागत किया है, क्योंकि उन्हें अब भारतीय समाज में आसानी से शामिल होने का अवसर मिलेगा।

इस महत्वपूर्ण कदम से राजस्थान के लोगों में आशा और उत्साह का संचार हो रहा है, जो एक समर्थन और एकता की भावना को उत्पन्न कर रहा है।

Enthusiasm for Citizenship Amendment Act in Rajasthan: Fireworks and sweets in celebratory atmosphere

Rajasthan, India: There is a festive atmosphere in Rajasthan after the implementation of the Citizenship Amendment Act by the Modi government. This important decision was taken even before the Lok Sabha elections. After the implementation of CAA, there is a feeling of celebration among the people.

Celebration in Kota: People celebrated this occasion with great pomp in Kota city of Rajasthan. Muslim Rashtriya Manch organized fireworks, in which people of the community participated and expressed happiness.

People's reaction: People say that when people around the world get refuge in other countries, they should get society and facilities. Similarly, now this law will also integrate the people of Pakistan, Afghanistan and Bangladesh living in India into the society.

Festive atmosphere in Jodhpur and Barmer also: Festive atmosphere prevails in Jodhpur and Barmer also. The Pakistani displaced people living here have welcomed this law, because now they will get the opportunity to easily integrate into the Indian society.

This important step is instilling hope and enthusiasm among the people of Rajasthan, creating a feeling of support and unity.

ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT