सोशल मीडिया पर कमेंट खराब लगा तो कर दी हत्या:दोस्त ने नाबालिग पर किए चाकू से 20 वार, तड़पता हुआ छोड़ भागा

 0
सोशल मीडिया पर कमेंट खराब लगा तो कर दी हत्या:दोस्त ने नाबालिग पर किए चाकू से 20 वार, तड़पता हुआ छोड़ भागा

सोशल मीडिया पर कमेंट खराब लगा तो कर दी हत्या:दोस्त ने नाबालिग पर किए चाकू से 20 वार, तड़पता हुआ छोड़ भागा

सोशल मीडिया पोस्ट में कमेंट से गुस्साए युवक ने अपने नाबालिग दोस्त की चाकू से गोद कर हत्या कर दी। हत्या के पीछे वजह इंस्टाग्राम पोस्ट है, जो अरहान मंसूरी (16) ने अपने दोस्त 18 वर्षीय अमरनाथ कटारा के बारे में की थी। इसमें अरहान ने अमरनाथ के नाटेपन (बौनापन) का मजाक उड़ाया था। इसी बात को लेकर दीपावली (रविवार) की रात दोनों में झगड़ा हो गया। आवेश में आकर अमरनाथ ने अरहान पर चाकू से एक के बाद एक 20 वार कर दिए और अरहान को तड़पता हुआ छोड़कर भाग गया।

मामला बांसवाड़ा शहर के राजतालाब थाने के अंतर्गत खांदू कॉलोनी का है। पुलिस ने इस मामले का मंगलवार रात खुलासा किया। पुलिस ने वारदात की रात अमरनाथ को हिरासत में लेकर पूछताछ की थी। इसमें उसने स्वीकार कर लिया कि उसने ही अपने दोस्त की हत्या की है।

स्कूल के मैदान में हुआ था झगड़ा
बांसवाड़ा डीएसपी सूर्यवीर सिंह ने बताया- खांदू कॉलोनी निवासी साहिल पुत्र मोइनुद्दीन की‎ ओर से रिपोर्ट दर्ज कराई गई थी। रिपोर्ट के मुताबिक उनका सबसे छोटा‎ भाई अरहान मंसूरी 8वीं का छात्र था। रविवार रात‎ करीब 8 बजे घर से दोस्तों के साथ निकला था। ‎करीब 9:15 बजे तक वह घर के बाहर दिखा। ‎इसके बाद लापता हो गया। परिजनों ने साथ में गए‎ दोस्त और पड़ोस के ही रहने वाले अंकित पुत्र नटवरलाल ‎से जब अरहान के बारे में पूछा तो उसने बताया कि ‎लक्ष्मी कालिका माता मंदिर निवासी अमरनाथ पुत्र‎ चेतन कटारा के साथ अरहान का खांदू कॉलोनी स्थित हायर सेकेंडरी ‎स्कूल के मैदान में झगड़ा हो गया था। मारपीट होने पर वह‎ और अन्य लड़के वहां से भाग गए।

इसके बाद हम‎ अंकित के साथ मौके पर पहुंचे तो वहां अरहान‎ लहूलुहान हालत में पड़ा था। घर लाकर देखा तो गर्दन ‎से लेकर पैर तक हर जगह धारदार हथियार से हमला‎ किया गया था।‎ हम उसे एमजी अस्पताल ले गए, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

सीसीटीवी फुटेज ने की अरहान तक पहुंचने में मदद‎
अरहान जहां खेलने गया था, वहां सीसीटीवी कैमरे लगे हुए थे। अरहान के गायब होने के बाद सीसीटीवी फुटेज चेक किए तो उसमें वह अंकित के साथ जाता हुआ दिखाई दिया। तब जाकर परिजनों ने अंकित से बात की और पूरा मामला उजागर हुआ। अरहान के मिलने के बाद पुलिस अंकित को मौके पर ले जाने के बाद थाने ले गई। वहां पूछताछ में उसने पुलिस को भी अमरनाथ के साथ झगड़े की बात बताई। इसके बाद पुलिस ने अमरनाथ को पकड़ा। पूछताछ में उसने हत्या करना कबूल कर लिया।

बांसवाड़ा डीएसपी सूर्यवीर सिंह ने कहा- हमने हत्या की सूचना मिलने के बाद ही टीम बना दी थी। उसके बाद टीम ने महज 6-7 घंटे में ही आरोपी को पकड़ लिया था। पूछताछ में उसने वारदात कबूल कर ली।

When she found the comments on social media bad, she committed murder: Friend stabbed a minor 20 times with a knife, left her in pain and ran away

Angered by a comment on a social media post, a young man killed his minor friend by stabbing him with a knife. The reason behind the murder is the Instagram post which Arhaan Mansoori (16) had made about his friend Amarnath Katara, 18. In this, Arhaan had made fun of Amarnath's shortness (dwarfism). There was a fight between the two on Diwali (Sunday) night regarding this matter. In a fit of rage, Amarnath stabbed Arhaan 20 times with a knife and ran away leaving Arhaan in pain.

The matter is of Khandu Colony under Rajtalab police station of Banswara city. Police disclosed this matter on Tuesday night. The police had detained Amarnath and interrogated him on the night of the incident. In this he admitted that he had murdered his friend.

There was a fight in the school grounds
Banswara DSP Suryaveer Singh said – The report was lodged on behalf of Sahil son of Moinuddin, resident of Khandu Colony. According to the report, his youngest brother Arhaan Mansoori was a student of 8th class. Had left home with friends at around 8 pm on Sunday night. ‎By around 9:15 he was seen outside the house. After this he went missing. When the family members asked their friend and neighbor Ankit's son Natwarlal about Arhaan, he told that Arhaan along with Amarnath's son Chetan Katara, a resident of Lakshmi Kalika Mata Temple, was attending Higher Secondary School in Khandu Colony. There was a fight in the field. When the fight broke out, he and other boys ran away from there.

After this, when we reached the spot with Ankit, Arhaan was lying there in a bloody condition. When we brought him home, we saw that he had been attacked everywhere from neck to legs with sharp weapons. We took him to MG Hospital, where the doctors declared him brought dead.

CCTV footage helped in reaching Arhaan.
There were CCTV cameras installed where Arhaan had gone to play. After Arhaan's disappearance, when we checked the CCTV footage, he was seen going with Ankit. Only then did the family talk to Ankit and the whole matter came to light. After finding Arhaan, the police took Ankit to the spot and took him to the police station. During interrogation there, he also told the police about the quarrel with Amarnath. After this the police caught Amarnath. During interrogation he confessed to the murder.

Banswara DSP Suryaveer Singh said- We had formed the team only after receiving information about the murder. After that the team caught the accused in just 6-7 hours. During interrogation he confessed to the crime.