एटीएम डकैती गिरोह के एक सदस्य की गिरफ्तारी, कई राज उगले

 0
एटीएम डकैती गिरोह के एक सदस्य की गिरफ्तारी, कई राज उगले
ADVERTISEMENT ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT ADVERTISEMENT

 एटीएम डकैती गिरोह के एक सदस्य की गिरफ्तारी, कई राज उगले

नागौर में साथियों के साथ एटीएम की लूट करने वाले गिरोह के एक सदस्य को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। आरोपी 23 सितंबर को खींवसर के बिरलोका और 27 दिसंबर को जोधियासी से कुल 56 लाख रुपयों से भरी एटीएम की मशीन उखाड़ कर ले गए थे। पुलिस आरोपी को राजगढ़ जेल से प्रोडक्शन वारंट पर लेकर लाई है। श्रीबालाजी पुलिस के अनुसार बिरलोका, जोधियासी सहित चूरू में एक के बाद एक 3 एटीएम उखाड़कर ले जाने वाली वारदातों को एक ही गैंग ने अंजाम दिया है। गिरफ्तार आरोपी नरेश उर्फ दिनेश कुमार ने पूछताछ में यह खुलासा किया। आरोपी नरेश अलवर के बाजौली थाना क्षेत्र के रेनी का निवासी है। वारदातों में शामिल वांछित आरोपियों की पहचान की जा रही है।

पुलिस ने बताया कि गैंग ने बिरलोका से 31 लाख 76 हजार रुपए और जोधियासी से 24 लाख 26100 रुपए से भरी एटीएम मशीन की चोरी की थी। गैंग में शामिल 5 अन्य बदमाशों की पहचान कर तलाशी शुरू कर दी है। पुलिस पूछताछ में गिरफ्तारा आरोपी ने बताया कि गैंग में सभी बदमाश पढ़े-लिखे हैं, इसलिए वारदात को सुनियोजित ढंग से अंजाम देते हैं। गैंग में अलवर, सीकर और नीमकाथाना से आधा दर्जन से ज्यादा बदमाश शामिल है। सभी वारदातों में चोरी की गाड़ी काम में लेते हैं।


पुलिस ने बताया कि बदमाश रात 12 से 2 बजे के बीच रेकी किए हुए एटीएम के बाहर पहुंचते हैं। फिर 2 जनें बाहर रुकते है और दो जनें एटीएम में घुसते हैं। फिर मशीन व कैमरों पर स्प्रे करते हुए मशीन को बांधकर गाड़ी से खींचकर उखाड़ ले जाते हैं। ये बदमाश जहां एटीएम उखाडऩे जाते हैं, वहां साथ में मोबाइल नहीं ले जाते हैं। जिससे पुलिस लोकेशन ट्रेस नहीं कर सकें। वापसी के लिए कच्चे रास्तों को चुनते है, जहां सीसीटीवी कैमरे नहीं हो। वारदात सफल होने के बाद सभी चुराई हुई राशि को आपस में बांट लेते हैं।

ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT