संडे की सबसे बड़ी खबर:राजस्थान में पेट्रोल पंप 2 दिन के लिए बंद, लाखों लोगों को हो सकती है मुश्किल 

 0
संडे की सबसे बड़ी खबर:राजस्थान में पेट्रोल पंप 2 दिन के लिए बंद, लाखों लोगों को हो सकती है मुश्किल 
ADVERTISEMENT ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT ADVERTISEMENT

संडे की सबसे बड़ी खबर:राजस्थान में पेट्रोल पंप 2 दिन के लिए बंद, लाखों लोगों को हो सकती है मुश्किल 

राजस्थान में सभी पेट्रोल पंपों के मालिकों ने 10 मार्च से सुबह 6 बजे से हड़ताल की घोषणा की है। इसका मतलब है कि प्रदेश के लोगों को रविवार और सोमवार तक पेट्रोल और डीजल की कमी हो सकती है। पेट्रोलियम डीलर एसोसिएशन के अधिकारियों ने कहा है कि अगर सरकार उनकी मांगों को पूरा नहीं करती है, तो हड़ताल का समय बढ़ सकता है।

मांग: कमीशन बढ़ाने की बजाए, सरकार द्वारा वेतन कटौती का जवाब नहीं मिला 

राजस्थान पेट्रोल डीजल संगठन के अध्यक्ष राजेंद्र सिंह भाटी का कहना है कि यदि सरकार पेट्रोल और डीजल पर कमीशन नहीं बढ़ाती है, तो पेट्रोल और डीजल स्टेशन लंबे समय तक बंद रहेंगे। उन्होंने कहा कि सरकार ने कई बार वेतन कटौती के मामले में वादा किया है, लेकिन अब तक कोई कदम नहीं उठाया गया है।

मांग: बदलाव का इंतजार 

राजेंद्र सिंह भाटी ने बताया कि राजस्थान में पेट्रोल और डीजल की कीमतें अन्य राज्यों से अधिक हैं, और यह असहाय बना रहता है। वे कहते हैं कि राजस्थान में 5800 से अधिक पेट्रोल डीजल स्टेशन हैं, जिनमें से 4000 से अधिक स्टेशन बंद रहेंगे।

परिणाम: सड़कों पर कमी, आम लोगों को परेशानी 

यह हड़ताल लाखों लोगों को प्रभावित कर सकती है, क्योंकि पेट्रोल और डीजल की अचानक कमी सड़कों पर परेशानी पैदा कर सकती है। इस संदर्भ में, पिछले सालों में भी कई बार पेट्रोल डीजल संचालकों ने हड़ताल की थी, लेकिन इस समस्या का समाधान अभी भी नहीं हुआ है।

Sunday's biggest news: Petrol pumps in Rajasthan closed for 2 days, lakhs of people may face difficulties

Owners of all petrol pumps in Rajasthan have announced a strike from 6 am from March 10. This means that the people of the state may face shortage of petrol and diesel till Sunday and Monday. Petroleum Dealers Association officials have said that if the government does not meet their demands, the strike time may be extended.

Demand: Instead of increasing the commission, the government did not respond to salary cuts.

Rajendra Singh Bhati, President of Rajasthan Petrol Diesel Organization, says that if the government does not increase the commission on petrol and diesel, then petrol and diesel stations will remain closed for a long time. He said that the government has made promises regarding salary cuts several times, but no steps have been taken so far.

Demand: waiting for change

Rajendra Singh Bhati said that the prices of petrol and diesel in Rajasthan are higher than other states, and it remains helpless. They say that there are more than 5800 petrol diesel stations in Rajasthan, out of which more than 4000 stations will remain closed.

Result: Reduction in roads, problems for common people

The strike could affect millions of people, as a sudden shortage of petrol and diesel could create problems on the roads. In this context, petrol diesel operators had gone on strike several times in the last few years, but this problem has still not been resolved.

ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT