मेहंदीपुर बालाजी को चढ़ा सोने का चोला, इस मंदिर में छिपे हैं सबसे ज्यादा रहस्य

 0
मेहंदीपुर बालाजी को चढ़ा सोने का चोला, इस मंदिर में छिपे हैं सबसे ज्यादा रहस्य

मेहंदीपुर बालाजी को चढ़ा सोने का चोला, इस मंदिर में छिपे हैं सबसे ज्यादा रहस्य

देशभर में आज हनुमान जयंती का पर्व हर्षोल्लास के साथ मनाया जा रहा है। कहीं भगवान हनुमान की शोभायात्रा निकाली जा रही है तो कहीं उन्हें अलग-अलग तरीके के भोग लगाए जा रहे हैं। इसी बीच राजस्थान के मेहंदीपुर बालाजी में भी आज कई विशेष आयोजन हो रहे हैं।

चप्पे-चप्पे पर तैनात हैं पुलिसवाले और जवान
आम दिनों में तो यहां हजारों लोग दर्शन करने के लिए आते हैं लेकिन आज हनुमान जयंती के मौके पर यहां लाखों लोगों के पहुंचने का अनुमान है। सुबह से ही भीड़ इतनी है कि लोगों को दर्शन करने के लिए घंटा इंतजार करना पड़ रहा है। भीड़ के चलते करीब 300 से ज्यादा सुरक्षाकर्मी व्यवस्था संभाले हुए हैं।

यह खबर भी पढ़ें:-


सोने के चोले से सजाए गए हैं बालाजी महाराज
आज हनुमान जयंती के मौके पर मंदिर द्वारा भी विशेष आयोजन किया जा रहा है। जहां बालाजी महाराज को 251 किलो पंचामृत से स्नान करवाकर सोने के चोले से उनके बालरूप की झांकी सजाई गई है। इसके साथ ही बालाजी महाराज को 1176 किलो का छप्पन भोग भी लगाया गया है।

40 लाख से ज्यादा श्रद्धालु दर्शन करने पहुंचते
आपको बता दे कि राजस्थान का यह मंदिर राजधानी जयपुर से उत्तर प्रदेश की तरफ जाने वाले रूट पर स्थित है। मंदिर अपनी आस्था के अलावा भूत प्रेत जैसी समस्याओं को दूर करने के लिए भी अपनी पहचान रखता है। यहां हर साल करीब 40 लाख से ज्यादा श्रद्धालु दर्शन करने के लिए पहुंचते हैं।

यह खबर भी पढ़ें:-


Mehndipur Balaji was presented with a golden robe, most of the secrets are hidden in this temple

Today, the festival of Hanuman Jayanti is being celebrated with great enthusiasm across the country. At some places, processions of Lord Hanuman are being taken out and at other places different types of offerings are being offered to him. Meanwhile, many special events are also being organized in Mehandipur Balaji of Rajasthan today.

Policemen and soldiers are deployed at every nook and corner
On normal days, thousands of people come here for darshan, but today on the occasion of Hanuman Jayanti, lakhs of people are expected to reach here. There is so much crowd since morning that people have to wait for hours to have darshan. Due to the crowd, more than 300 security personnel are maintaining the arrangements.

Balaji Maharaj is decorated with gold robe
Today, on the occasion of Hanuman Jayanti, a special event is also being organized by the temple. Where Balaji Maharaj was bathed with 251 kg Panchamrit and a tableau of his child form was decorated with a golden robe. Along with this, Chhappan Bhog of 1176 kg has also been offered to Balaji Maharaj.

More than 40 lakh devotees come for darshan
Let us tell you that this temple of Rajasthan is situated on the route going from the capital Jaipur towards Uttar Pradesh. Apart from its faith, the temple is also known for removing problems like ghosts. Every year more than 40 lakh devotees come here for darshan.