उम्र भले ही 6 साल की, लेकिन बड़े-बड़े करते हैं प्रणाम...लोग कहते यह तो भगवान का अवतार

 0
उम्र भले ही 6 साल की, लेकिन बड़े-बड़े करते हैं प्रणाम...लोग कहते यह तो भगवान का अवतार

उम्र भले ही 6 साल की, लेकिन बड़े-बड़े करते हैं प्रणाम...लोग कहते यह तो भगवान का अवतार

6 साल की उम्र के बच्चे को कितना ज्ञान होता होगा। शायद उसे अपने घरवालों के नंबर भी मुश्किल से याद हो। लेकिन क्या कभी आप सोच सकते हैं कि इतनी सी उम्र में किसी को धार्मिक ग्रंथ याद हो। इतना ही नहीं वह धार्मिक कथाओं का वाचन करें। ऐसा राजस्थान के फतेहपुर में हकीकत में हो रहा है। यहां 6 साल उम्र की बच्ची कृष्णा किशोरी व्यास नानी बाई के मायरे की कथा सुना रही है। जिसे सुनने के लिए रोजाना सैकड़ो लोग वहां आ रहे हैं। इस छोटी सी उम्र की बच्ची की आवाज भी इतनी मधुर है कि चाहे बुजुर्ग हो या युवा वह इसे सुनने के लिए जरूर आएगा।

4 साल की उम्र सुना रही भगवान की कथा...
कृष्णा किशोरी व्यास बताती है कि घर में हमेशा से धार्मिक माहौल था। उनके पिता महेश का कहना है कि 4 साल की उम्र में वह भगवान कृष्ण की भक्ति करने लगी। जब भी भगवान कृष्ण और राधा की तस्वीर देखी तो कहती कि यही मेरे मामा और मामी है। करीब एक डेढ़ साल पहले जब परिवार का वृंदावन जाना हुआ तो वापस आकर कृष्णा अपने मामा मां के घर जाकर आई है।

एक बार पढ़ने और सुनने से हो जाता है सब याद
कृष्णा का कहना है कि उसके दादा स्वर्गवासी बनवारी लाल भी नानी बाई के मायरे की कथा का वाचन करते थे ऐसे में कृष्णा ने अपने दादा की रिकॉर्ड कैसेटस को सुना और आज उसे पूरी कथा याद हो गई। घर वालों ने भी काफी सपोर्ट किया। इसके अलावा भगवान के भजन और अन्य कई कथाएं भी याद है। जब भी कस्बे में कोई धार्मिक कार्यक्रम होता है तो वहां कृष्णा जाती जरूर है। रोजाना सुबह 5 उठकर भगवान की पूजा करना और लहसुन प्याज नहीं खाना। स्कूल की पढ़ाई के अलावा धार्मिक किताबों को पढ़ना 6 साल की इस मासूम ने अपनी आदत बना लिया है।

यह खबर भी पढ़ें:-

Even though he is only 6 years old, he is greeted by elders...people say that he is an incarnation of God.

How much knowledge would a 6 year old child have? Perhaps he can hardly remember even the numbers of his family members. But can you ever imagine that someone at such an age would remember religious texts? Not only this, he should read religious stories. This is actually happening in Fatehpur, Rajasthan. Here 6 year old girl Krishna Kishori Vyas is narrating the story of Nani Bai's mother. Hundreds of people are coming there every day to listen to it. The voice of this young girl is so sweet that whether it is old or young, everyone will definitely come to listen to it.

4 year old telling the story of God...
Krishna Kishori Vyas tells that there was always a religious atmosphere in the house. Her father Mahesh says that at the age of 4 she started worshiping Lord Krishna. Whenever she saw the picture of Lord Krishna and Radha, she used to say that these are my maternal uncle and aunt. About one and a half years ago, when the family went to Vrindavan, Krishna came back to his maternal uncle's house.

Everything is remembered by reading and listening once.
Krishna says that his grandfather late Banwari Lal also used to recite the story of Nani Bai's story, in such a situation Krishna listened to his grandfather's record cassettes and today he remembered the entire story. The family members also supported a lot. Apart from this, God's hymns and many other stories are also remembered. Whenever there is any religious program in the town, Krishna definitely goes there. Wake up at 5 in the morning every day and worship God and do not eat garlic and onion. Apart from school studies, this 6 year old child has made reading religious books his habit.