बेटे की जिदंगी के लिए सब इंस्पेक्टर लगा रहा गुहार, मौत के करीब जा रहा 22 माह का बच्चा

 0
बेटे की जिदंगी के लिए सब इंस्पेक्टर लगा रहा गुहार, मौत के करीब जा रहा 22 माह का बच्चा
ADVERTISEMENT ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT ADVERTISEMENT

बेटे की जिदंगी के लिए सब इंस्पेक्टर लगा रहा गुहार, मौत के करीब जा रहा 22 माह का बच्चा

राजस्थान के धौलपुर जिले में स्थित मनिया थाने में सब इंस्पेक्टर नरेश शर्मा सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं। नरेश और उनकी पत्नी अपने 22 महीने के बेटे हृदयांश को लेकर परेशान है। बेटा धीरे धीरे मौत के करीब जा रहा है। लेकिन माता पिता के पास आंसू बहाने के अलावा और कोई रास्ता नहीं है। साथी, रिश्तेदार, नातेदार मदद कर रहे हैंं लेकिन यह मदद बहुत ही छोटी साबित हो रही है। बच्चे को बचाने के लिए 17 करोड़ रूपए के इंजेक्शन की जरूरत है।जो दो महीने में ही लगाया जाना है। लेकिन इतना पैसा जमा करना संभव नहीं हो पा रहा है।

22 माह के बच्चे को गंभीर बीमारी
दरअसल 22 महीने के बच्चे को मासंपेशियों से जुड़ी गंभीर बीमारी है। बच्चे के कमर के नीचे का हिस्सा तेजी से खराब हो रहा है और अब वह चलने फिरने की हालत में नहीं है। पिता नरेश का कहना है कि कुछ समय पहले ही पता चला कि वह बेहद गंभीर बीमारी से पीड़ित है। दो साल की उम्र पूरी होने से पहले उसे एक विशेष इंजेक्शन लगाया जाना है। यह इंजेक्शन विदेश से आएगा, लेकिन इसकी कीमत करीब 17 करोड़ रूपए है। इसके लिए सोशल मीडिया और अन्य माध्यमों से मदद मांग रहे हैं। मदद मिल भी रही है लेकिन वह बहुत ही कम है।

पुलिस महकमा कर रहा कोशिश
धौलपुर के पुलिस एसपी ज्योति कुमार उपाध्याय ने बताया कि हम प्रयास कर रहे हैं। पूरा पुलिस महकमा अपने स्तर पर प्रयास कर रहे हैं। पुलिसकर्मी मदद कर रहे हैं। सीनियर आईपीएस अफसरों को भी इसकी जानकारी भेजी गई है। सरकार से भी मदद लेने की कोशिश कर रहे हैं। उम्मीद यही है कि एसआई नरेश के बच्चे को बचा लिया जाएगा। उधर जयपुर स्थित पुलिस मुख्यालय से डीजीपी यू आर साहू ने भी अपने स्तर पर पुलिस अफसरों से मदद करने की अपील की है।


   
   
   

Sub Inspector is pleading for his son's life, 22 month old child is getting closer to death

Sub Inspector Naresh Sharma of Maniya police station located in Dholpur district of Rajasthan is going viral on social media. Naresh and his wife are worried about their 22-month-old son Hridayansh. The son is slowly moving closer to death. But parents have no other option but to shed tears. Friends, relatives and relatives are helping but this help is proving to be very little. To save the child, an injection worth Rs 17 crore is required, which is to be administered within two months. But it is not possible to deposit this much money.

22 month old child has serious illness
Actually, the 22 month old child has a serious disease related to muscles. The child's lower back is deteriorating rapidly and he is no longer able to walk. Father Naresh says that some time ago it came to light that he was suffering from a very serious illness. He has to be given a special injection before he turns two years of age. This injection will come from abroad, but its cost is around Rs 17 crore. For this, help is being sought through social media and other means. Help is also being provided but it is very little.

Police department is trying
Dholpur Police SP Jyoti Kumar Upadhyay said that we are making efforts. The entire police department is trying at its level. Policemen are helping. This information has also been sent to senior IPS officers. Trying to get help from the government also. The hope is that SI Naresh's child will be saved. On the other hand, DGP UR Sahu from Jaipur Police Headquarters has also appealed to the police officers at his level to help.

ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT