शादी में दुल्हन को किडनैप करने की कोशिश: घटना की जांच में पुलिस का सक्रिय रोल 

 0
शादी में दुल्हन को किडनैप करने की कोशिश: घटना की जांच में पुलिस का सक्रिय रोल 
ADVERTISEMENT ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT ADVERTISEMENT

शादी में दुल्हन को किडनैप करने की कोशिश: घटना की जांच में पुलिस का सक्रिय रोल 

 शादी के दिन एक घटना ने उस समुदाय को हिला दिया, जिसने आज तक अपने सामाजिक वातावरण में शांति और सद्भावना का आदर्श बना रखा था। दुल्हन को किडनैप करने का प्रयास करने वाले चचेरे भाई और उनके साथी बदमाशों ने इस खास दिन को गड़बड़ कर दिया।

घटना के अनुसार, दुल्हा और दुल्हन खाना खाने के लिए बैठे थे, जब अचानक बोलेरो कैंपर में सवार होकर चचेरा भाई और उसके साथी बदमाश उपस्थित हुए। वे कन्यादान के रुपए और ज्वेलरी से भरा बैग छीनकर ले गए और फिर दुल्हन को किडनैप करने की कोशिश की। भागने के प्रयास में उन्हें पकड़ा गया, परन्तु यहाँ तक ही नहीं, गाड़ी में भागने वाले और घटना के पीछे के साजिशकर्ताओं को भी पुलिस ने गिरफ्तार किया।

दुल्हन के पिता ने बताया कि इस पूरे विवाह समारोह के पहले ही भाई के पुत्र ने घर पर बान दिया था और उस दिन को खाने के लिए सभी रिश्तेदारों को नहीं बुलाया था। यह बात उसके भाई को नाराज कर गई थी और उसने महिला के घर जाकर धमकी दी थी कि अगर उन्होंने खाना नहीं खिलाया, तो दुल्हन को किडनैप कर ले जाएगा।

परिवार ने इस वारदात की जांच के लिए पुलिस अधिकारियों से मिलकर न्याय की मांग की। पुलिस ने तत्काल कार्रवाई की और दो आरोपियों को गिरफ्तार किया। गिरफ्तारियों को कोर्ट में पेश किया गया है और बचाव उनके खिलाफ चल रहा है।

इस घटना ने समाज को एक बड़ी चेतावनी दी है कि ऐसी घटनाओं को ना सिर्फ भविष्य में रोका जाना चाहिए, बल्कि सामाजिक उत्थान और सद्भावना को बनाए रखने के लिए हमें मिलकर काम करना होगा। इस प्रकार की अपराधिक गतिविधियों को रोकने के लिए समाज को साथ मिलकर कठिन परिश्रम करना होगा।

आखिरकार, पुलिस और न्यायिक प्रक्रिया के माध्यम से यह सुनिश्चित किया जाना चाहिए कि इस घटना में शामिल सभी आरोपियों को सख्त से सख्त सजा मिले और ऐसे अपराधों को बाध्यता से निर्मूलन किया जाए। अंत में, समाज को साथ मिलकर इस प्रकार की घटनाओं से बचने के लिए सक्रिय रूप से काम करने की जरूरत है और सभी सामाजिक वर्गों को इसमें योगदान देना होगा।

Attempt to kidnap bride at wedding: Police's active role in investigating the incident

An incident on the day of the wedding shook the community, which till date had maintained an ideal of peace and harmony in its social environment. The special day is ruined by the cousin brother and his fellow criminals who attempt to kidnap the bride.

According to the incident, the bride and groom were sitting to have dinner, when suddenly the cousin and his fellow criminals appeared in a Bolero camper. They snatched away the bag full of Kanyadaan money and jewelery and then tried to kidnap the bride. He was caught while trying to escape, but not only this, the people who fled in the car and the conspirators behind the incident were also arrested by the police.

The bride's father told that even before the entire marriage ceremony, the brother's son had banned the house and had not invited all the relatives for dinner that day. This angered her brother and he went to the woman's house and threatened that if she did not feed him, he would kidnap the bride.

The family met the police officers to investigate the incident and demanded justice. The police took immediate action and arrested two accused. The arrestees have been produced in the court and the defense is going on against them.

This incident has given a big warning to the society that such incidents should not only be prevented in future, but we have to work together to maintain social upliftment and goodwill. Society will have to work hard together to stop such criminal activities.

Ultimately, it should be ensured through the police and judicial process that all the accused involved in this incident get the strictest punishment and such crimes are compulsorily eradicated. Ultimately, the society needs to work together actively to avoid such incidents and all social sections have to contribute in this.

ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT