eSIM भी खतरे में: ई-सिम के जरिए आपके बैंक अकाउंट में सेंध लगा सकते हैं हैकर्स, ऐसे रहें सुरक्षित

 0
eSIM भी खतरे में: ई-सिम के जरिए आपके बैंक अकाउंट में सेंध लगा सकते हैं हैकर्स, ऐसे रहें सुरक्षित
ADVERTISEMENT ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT ADVERTISEMENT

eSIM भी खतरे में: ई-सिम के जरिए आपके बैंक अकाउंट में सेंध लगा सकते हैं हैकर्स, ऐसे रहें सुरक्षित

eSIM को इसीलिए डिजाइन किया गया था कि उसकी चोरी ना हो और फिजिकल सिम कार्ड की झंझट ना रहे, लेकिन अब हैकर्स eSIM का ही इस्तेमाल करके लोगों के फोन और बैंक अकाउंट में सेंध लगाने लगे हैं। हैकर्स eSIM की एक खामी का फायदा उठाकर लोगों के सिम कार्ड को अपने फोन में पोर्ट कर रहे हैं। यह वाकई हैरान करने वाली रिपोर्ट है लेकिन यह सच भी है। 

साइबर सिक्योरिटी फर्म ने किया दावा

रूस की साइबर सिक्योरिटी फर्म FACCT ने अपनी एक रिपोर्ट में दावा किया है कि अभी तक 100 से अधिक लोगों के eSIM को हैकर्स ने पोर्ट करने की कोशिश की है। इससे पहले हैकर्स लोगों के सिम कार्ड को पोर्ट करने के लिए सोशल इंजीनियरिंग का इस्तेमाल करके टेलीकॉम कंपनियों के डाटाबेस में सेंध लगाते थे।
क्या होता है eSIM?

eSIM एक सॉफ्टवेयर आधारित सिम कार्ड होता है जिसे क्यूआर कोड को स्कैन करके फोन में इंस्टॉल किया जाता है। फिलहाल प्रीमियम फोन में ही ई-सिम की सुविधा मिल रही है, लेकिन यह धीरे-धीरे पोपुलर भी हो रहा है। eSIM को पोर्ट करके आपके बैंक अकाउंट, क्रिप्टो वॉलेट आदि को खाली किया जा सकता है और आपके नाम पर किसी के साथ ठगी भी हो सकती है।


FACCT ने eSIM यूजर्स को अपने फोन की सिक्योरिटी को पुख्ता रखने के लिए कहा है। सुझाव दिया गया है कि पासवर्ड को जटिल रखें। बैंक अकाउंट के पासवर्ड को भी टू फैक्टर ऑथेंटिकेशन के साथ सुरक्षित रखें।

eSIM is also in danger: Hackers can break into your bank account through e-SIM, stay safe like this

eSIM was designed so that it cannot be stolen and there is no hassle of physical SIM card, but now hackers have started breaking into people's phones and bank accounts using eSIM only. Hackers are taking advantage of a flaw in eSIM and porting people's SIM cards to their phones. This is really a shocking report but it is also true.

Cyber security firm claimed

Russian cyber security firm FACCT has claimed in one of its reports that till now hackers have tried to port the eSIM of more than 100 people. Earlier, hackers used to break into the databases of telecom companies by using social engineering to port people's SIM cards.
What is eSIM?

eSIM is a software based SIM card which is installed in the phone by scanning the QR code. At present, e-SIM facility is available only in premium phones, but it is gradually becoming popular. By porting eSIM, your bank account, crypto wallet etc. can be emptied and someone can also be defrauded in your name.
FACCT has asked eSIM users to keep the security of their phones strong. It is suggested to keep the password complex. Also keep your bank account password safe with two-factor authentication.

ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT