Whatsapp यूजर सावधान: एक मैसेज पढ़ा और खाते से गायब हो गए लाखों रुपए, खतरनाक है यह लिंक

 0
Whatsapp यूजर सावधान: एक मैसेज पढ़ा और खाते से गायब हो गए लाखों रुपए, खतरनाक है यह लिंक
ADVERTISEMENT ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT ADVERTISEMENT

Whatsapp यूजर सावधान: एक मैसेज पढ़ा और खाते से गायब हो गए लाखों रुपए, खतरनाक है यह लिंक

स्मार्टफोन यूज करने वाला शायद ही कोई ऐसा व्यक्ति होगा जो व्हाट्सएप यूज नहीं करता हो....। राजधानी जयपुर में रहने वाले झाबर सिंह के मोबाइल में भी व्हाट्सएप इंस्टॉल था। डेयरी का काम करने वाले झाबर सिंह के व्हाट्सएप पर डेयरी से संबंधित ही एक ग्रुप बना हुआ था, जैसे ही इस ग्रुप में आए प्रधानमंत्री से संबंधित एक लिंक पर क्लिक किया तो खाता साफ हो गया । खाते से चार लाख ₹50000 निकल गए । इसकी जानकारी करधनी थाना पुलिस को दी गई है , पुलिस ने जांच पड़ताल शुरू कर दी है।


पता नहीं चला और मोबाइल में अपडेट हो गया वो एप
करधनी थाना पुलिस ने बताया कि दूध बेचने और डेयरी का काम करने वाले झाबर सिंह ने डेयरी के नाम से जो ग्रुप बनाया था , उस ग्रुप में प्रधानमंत्री की पशु योजना से जुड़ने के लिए एक लिंक आया था । इस लिंक को जैसे ही क्लिक किया अपने आप एक एप झाबर सिंह के मोबाइल में इंस्टॉल हो गया । झाबर सिंह को पता ही नहीं चला कि मोबाइल में यह ऐप आ चुका है। उसके कुछ देर बाद ही झाबर सिंह के मोबाइल में 4 से 5 ओटीपी आए और इन ओटीपी के जरिए चार लाख ₹50000 खाते से निकल गए।

प्रधानमंत्री के नाम से आया था वो लिंक
जब मोबाइल में जांच की तो पता चला प्रधानमंत्री के नाम से जो मैसेज का लिंक आया था वह लिंक एक स्कैम था और उसे डाउनलोड करते ही मोबाइल से संबंधित सारी जानकारी साइबर ठग के पास चली गई थी। उसने पलक झपकते ही पूरा बैंक बैलेंस उड़ा दिया। करधनी थाना पुलिस ने बताया कि पहले भी इस तरह से कई ग्रुप में मैसेज आए और जैसे ही उनको क्लिक किया गया मोबाइल में ऐप इंस्टॉल हो गए । जिसका मोबाइल धारकों को पता ही नहीं चला और कई लोगों के बैंक खाते साफ हो गए । फिलहाल पुलिस आरोपियों तक पहुंचाने की कोशिश कर रही है।

Whatsapp user beware: read one message and lakhs of rupees disappeared from the account, this link is dangerous

There would hardly be any person using a smartphone who does not use WhatsApp. Jhabar Singh, who lives in the capital Jaipur, also had WhatsApp installed in his mobile. There was a group related to dairy on WhatsApp of Jhabar Singh, a dairy worker, as soon as he clicked on a link related to the Prime Minister in this group, his account got wiped. Four lakh ₹50000 were withdrawn from the account. This information has been given to Kardhani police station, the police has started investigation.


It was not detected and that app got updated in the mobile.
Kardhani police station said that Jhabar Singh, who sells milk and does dairy work, had created a group in the name of Dairy, in that group there was a link to join the Prime Minister's Pashu Yojana. As soon as this link was clicked, an app was automatically installed in Jhabar Singh's mobile. Jhabar Singh did not even know that this app was available in his mobile. Shortly thereafter, 4 to 5 OTPs came in Jhabar Singh's mobile and through these OTPs, Rs 4 lakh and 50,000 were withdrawn from his account.

That link came in the name of the Prime Minister
When we checked the mobile, it was found that the link of the message that came in the name of the Prime Minister was a scam and as soon as it was downloaded, all the information related to the mobile had gone to the cyber thug. He spent the entire bank balance in the blink of an eye. Kardhani police station said that earlier also messages like this had come in many groups and as soon as they were clicked, the apps were installed in the mobile. The mobile holders did not even know about it and many people's bank accounts were wiped out. At present the police is trying to reach the accused.

ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT