राजस्थान में पुलिस थानेदार को 50 हजार रुपये रिश्वत लेते गिरफ्तार, ACB की कार्रवाई से जनता को उम्मीद की किरण 

 0
राजस्थान में पुलिस थानेदार को 50 हजार रुपये रिश्वत लेते गिरफ्तार, ACB की कार्रवाई से जनता को उम्मीद की किरण 
ADVERTISEMENT ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT ADVERTISEMENT

राजस्थान में पुलिस थानेदार को 50 हजार रुपये रिश्वत लेते गिरफ्तार, ACB की कार्रवाई से जनता को उम्मीद की किरण 

राजस्थान के झुंझुनूं जिले में पुलिस थानेदार की भ्रष्टाचार की घटना सामने आई है, जिसमें उन्होंने रिश्वत लेने का मामला अपने ऊपर उठाया गया है। इस मामले में पश्चिम बंगाल पुलिस के उपनिरीक्षक स्वप्न कुमार राय को 50 हजार रुपये की रिश्वत लेते पकड़ा गया है।

ब्रियोग के अनुसार, एंटी-करप्शन ब्यूरो (ACB) की टीम ने रिश्वत की धाराओं में उन्हें पकड़ा है, जो एक रेप के आरोपी को गिरफ्तार नहीं करने की एवज में मांग की गई थी। पहले उन्हें 1 लाख रुपये की रिश्वत मांगी गई थी, लेकिन बाद में 50 हजार रुपये पर समझौता किया गया।

आरोपी के परिवादी द्वारा शिकायत के बाद, ACB ने तत्काल कार्रवाई की और थानेदार को गिरफ्तार कर लिया। उनकी गिरफ्तारी के बाद, ACB ने नवलगढ़ में उनके आवास पर भी तलाशी की। इस मामले में भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत प्रकरण दर्ज किया जाएगा।

एसीबी के अधिकारियों ने बताया कि इस मामले को संज्ञान में लेते हुए तत्काल कार्रवाई की गई और दोषी को गिरफ्तार किया गया है। इस घटना से जनता को आशा की किरण मिली है कि भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई में सशक्त एवं निष्ठावान जांच तंत्र कामयाबी से काम कर रहा है।

इस घटना को देखते हुए राजस्थान की नागरिकता में भ्रष्टाचार के खिलाफ जागरूकता और साहस बढ़ाने की आवश्यकता है। साथ ही, पुलिस विभाग को भ्रष्टाचार के खिलाफ निष्ठा से लड़ने और जनता की सेवा में समर्पित रहने का संकल्प लेना चाहिए।

इस मामले में ACB की निष्ठावान और त्वरित कार्रवाई की सराहनीय है। लोगों को विश्वास है कि सरकार भ्रष्टाचार के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करेगी और ऐसे अपराधियों को सख्त से सख्त सजा दिलाएगी। इसके अलावा, लोगों को भी जागरूक होने की आवश्यकता है कि वे भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज उठाएं और समाज में जागरूकता फैलाएं। भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई में लोगों की सहयोगिता और साथ होना अत्यंत महत्वपूर्ण है।

इस संबंध में, लोगों को भी अपनी जानकारी देने का साहस दिखाना चाहिए, ताकि भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई में सरकारी और गैर-सरकारी अधिकारियों को सहायता मिल सके। इस प्रकार, राजस्थान के इस मामले से साफ है कि भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई में ACB ने निरंतर अद्वितीय और सशक्त कदम उठाए हैं। जनता को उन पर भरोसा है कि वे भ्रष्टाचार को पूरी तरह से उखाड़ फेंकेंगे और न्याय की नींव मजबूत करेंगे।

Rajasthan Police Station Officer arrested for taking bribe of Rs 50 thousand, ACB's action gives ray of hope to the public

An incident of corruption of a police station officer has come to light in Jhunjhunu district of Rajasthan, in which he has taken up the matter of taking bribe. In this case, West Bengal Police Sub-Inspector Swapan Kumar Rai has been caught taking a bribe of Rs 50 thousand.

According to Briog, the Anti-Corruption Bureau (ACB) team has caught him under bribery charges, which was demanded in return for not arresting a rape accused. Earlier he was asked for a bribe of Rs 1 lakh, but later a compromise was reached at Rs 50 thousand.

Following the complaint by the accused complainant, the ACB took immediate action and arrested the SHO. After his arrest, the ACB also conducted searches at his residence in Nawalgarh. A case will be registered in this matter under the Prevention of Corruption Act.

ACB officials said that taking cognizance of the matter, immediate action was taken and the culprit has been arrested. This incident has given a ray of hope to the public that a strong and dedicated investigative system is working successfully in the fight against corruption.

In view of this incident, there is a need to increase awareness and courage against corruption among the citizens of Rajasthan. Also, the police department should pledge to fight corruption sincerely and remain dedicated in the service of the public.

The sincere and prompt action of ACB in this matter is commendable. People are confident that the government will take strict action against corruption and will give the harshest punishment to such criminals. Apart from this, people also need to be aware that they should raise their voice against corruption and spread awareness in the society. People's cooperation and togetherness is extremely important in the fight against corruption.

In this regard, people should also show courage in giving their information, so that government and non-government officials can assist in the fight against corruption. Thus, this case from Rajasthan clearly shows that ACB has consistently taken unique and strong steps in the fight against corruption. The public has confidence in him that he will completely root out corruption and strengthen the foundation of justice.

ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT