नशे में धुत्त बेटे ने कुल्हाड़ी से काट दिया बाप का गला, पति को बचाने के लिए घावों पर राख लगाती रही पत्नी

 0
नशे में धुत्त बेटे ने कुल्हाड़ी से काट दिया बाप का गला, पति को बचाने के लिए घावों पर राख लगाती रही पत्नी
ADVERTISEMENT ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT ADVERTISEMENT

नशे में धुत्त बेटे ने कुल्हाड़ी से काट दिया बाप का गला, पति को बचाने के लिए घावों पर राख लगाती रही पत्नी

पाली जिले में एक ऐसा मामला सामने आया है कि जिसने हर किसी को अचंभित कर दिय. एक पिता जिसने सुख-दुख न देख कर अपने बच्चों को बड़ा किया लेकिन उन्हें क्या पता था कि यही बेटा एक दिन उनकी मौत का कारण बनेगा और उनकी मौत इस दर्दनाक तरीके से की जाएगी. एक बेटे ने शराब के नशे में अपनी सारी सीमाएं पार कर दी, अपने ही पिता को मारने के बाद भी बेटे के मन मे कोई दुःख नही था बल्कि थी तो सिर्फ हैवानियत.

सूचना के अनुसार जैतपुर थाना क्षेत्र अंतर्गत केरला गांव में चुराराम बावरी खेत मे काम कर रहा था, इस दौरान उनका बेटा ताराराम बावरी नशे में धुत्त होकर खेत में पहुंचा और किसी बात को लेकर पिता पुत्र में झगड़ा हो गया गुस्से में आकर कलयुगी बेटे ने अपने पिता पर धारदार कूल्हाड़ी से गर्दन और सीने पर कई वार किए जिसके बाद मौके पर ही पिता की मौत हो गई. आरोपी बेटे की मां और भाभी बचाने पहुंचे और आसपास के लोगों को भी बुलाया लेकिन हैवानियत पर सवार बेटा लगातार अपने पिता पर हमला करता रहा. पुलिस ने आरोपी बेटे ताराराम बावरी को हिरासत में ले लिया है और देर रात मृतक की बॉडी पाली के बांगड़ हॉस्पिटल की मोर्चरी में रखवाई गई. 

पति को बचाने के लिए पत्नी घाव पर लगाती रही राख
घटना के समय आरोपी की मां खाना बना रही थी और उसकी भाभी बच्चों के साथ पास में ही बैठी थी. वृद्ध के चिल्लाने की आवाज सुन कर दोनों सास-बहू बच्चों को लेकर खेत से बाहर की तरफ लोगों को बुलाने के लिए भागी लेकिन जब तक लोग जूटे आरोपी ने अपने पिता की हत्या कर दी थी. यही नहीं पत्नी अपने पति को बचाने के लिए घावों पर राख लगाती रही ताकि जहां से खून निकल रहा है वो बंद हो जाए और पति की जान बच जाए. लेकिन ऐसा हो नहीं सका.


   
   
   

Drunken son cut father's throat with an axe, wife kept applying ash on wounds to save her husband

A case has come to light in Pali district which has surprised everyone. A father who raised his children without considering happiness or sorrow, but how did he know that one day this son would become the reason for his death and his death would be done in such a painful way. A son crossed all limits under the influence of alcohol. Even after killing his own father, there was no sorrow in the son's mind but only cruelty.

According to the information, Churaram Bawri was working in the field in Kerala village under Jaitpur police station area, during this time his son Tararam Bawri reached the field drunk and there was a fight between father and son over some issue. In anger, the Kalyugi son killed his son. The father was attacked several times on the neck and chest with a sharp axe, after which the father died on the spot. The mother and sister-in-law of the accused son came to save him and also called the people nearby, but the son, driven by cruelty, continued attacking his father. The police have taken the accused son Tararam Bawri into custody and late in the night the body of the deceased was kept in the mortuary of Bangar Hospital in Pali.

Wife keeps applying ashes on wound to save husband
At the time of the incident, the mother of the accused was cooking and her sister-in-law was sitting nearby with the children. Hearing the shouting of the old man, both mother-in-law and daughter-in-law ran out of the field with their children to call people, but by the time people gathered, the accused had murdered their father. Not only this, to save her husband, the wife kept applying ash on the wounds so that the bleeding from where it was coming out would stop and the husband's life could be saved. But this could not happen.

ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT