राजस्थान: तेल की कड़ाही में गिरी 5 साल की बच्ची, सामाजिक कार्यक्रम में हुई यह दुखद घटना, इलाज के दौरान तोड़ा दम

 0
राजस्थान: तेल की कड़ाही में गिरी 5 साल की बच्ची, सामाजिक कार्यक्रम में हुई यह दुखद घटना, इलाज के दौरान तोड़ा दम
ADVERTISEMENT ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT ADVERTISEMENT

राजस्थान: तेल की कड़ाही में गिरी 5 साल की बच्ची, सामाजिक कार्यक्रम में हुई यह दुखद घटना, इलाज के दौरान तोड़ा दम

भीलवाड़ा के परोली थाना क्षेत्र के धनवाड़ा में सामजिक कार्यक्रम के दौरान तेल के कड़ाही में गिरने से झुलसी बालिका ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। जानकारी के अनुसार धनवाड़ा में शरद पूर्णिमा पर शनिवार शाम भागचंद धाकड़ के यहां प्रसादी कार्यक्रम था। भोज के लिए पुडियां बनाने आई महिला के साथ पांच साल की बेटी निधि भी थी, वह कड़ाही के समीप ही बैठी थी और खेलते समय तेल में गिर गई।

दरअसल हलवाई ने गर्म तेल की कड़ाही नीचे उतारी ही थी, कि अचानक निधी खेलते खेलते वहां आ गई और गर्म तेल में गिर गई। घटनास्थल पर मौजूद लोगों ने उसे तुरंत बाहर निकला, लेकिन तब तक बच्ची झुलस चुकी थी। उसे प्राथमिक उपचार के तुरंत बाद परिजन उदयपुर ले गए। यहां महाराणा भोपाल चिकित्सालय में 20 घंटे ज़िन्दगी और मौत से जूझने के बाद रविवार को निधि ने दम तोड़ दिया। वहां मौजूद लोगों ने उसे तुरंत अस्पताल पहुंचाया, जहां से उसे उदयपुर के महाराणा भूपाल हॉस्पिटल रेफर कर दिया गया। रविवार देर शाम को इलाज के दौरान निधि ने दम तोड़ दिया।

Rajasthan: 5 year old girl fell into oil pan, this tragic incident happened in a social program, she died during treatment.


A girl who got burnt due to oil falling in a pan during a social program in Dhanwada of Paroli police station area of Bhilwara, died during treatment. According to the information, there was a Prasadi program at Bhagchand Dhakad's house on Saturday evening on Sharad Purnima in Dhanwara. The woman who had come to make pudis for the feast was accompanied by her five-year-old daughter Nidhi. She was sitting near the pan and fell into the oil while playing.

Actually, the confectioner had just taken down the pan of hot oil, when suddenly Nidhi came there while playing and fell into the hot oil. The people present at the spot immediately pulled her out, but by then the girl was burnt. The family took him to Udaipur immediately after first aid. Nidhi died on Sunday after battling for life and death for 20 hours at Maharana Bhopal Hospital. The people present there immediately took him to the hospital, from where he was referred to Maharana Bhupal Hospital in Udaipur. Nidhi died during treatment late on Sunday evening.

ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT