Home बीकानेर गणगौर की शाही सवारी पर भारी पड़ा कोरोना,जूनागढ़ से चौतीना कुंआ तक...

गणगौर की शाही सवारी पर भारी पड़ा कोरोना,जूनागढ़ से चौतीना कुंआ तक निकलने वाली सवारी को नहीं मिली अनुमति

0

बढ़ते कोरोना को लेकर प्रशासन सख्त है और जिसके चलते लगातार 2020 की तरह सख्ती के साथ-साथ बंदिशे लगायी जा रही है। प्रत्येक वर्ष राजपरिवार द्वारा निकाली जाने वाली गणगौर की शाही सवारी को इस बार प्रशासन ने अनुमति नहीं दी है। शहर में कोविड-19 के लगातार बढ़ रहे प्रभाव का असर गणगौर पूजन उत्सव पर भी पड़ता नजर आ रहा है। हर साल चैत्र मास की तृतीया और चतुर्थी तिथि को निकलने वाली शाही सवारी इस बार भी नहीं निकलेगी। रायसिंह ट्रस्ट के प्रबंधक कर्नल देवनाथ सिंह के अनुसार गणगौर की सवारी को निकालने के लिए जिला प्रशासन से अनुमति मांगी गई थी, लेकिन कोविड-19 के चलते सवारी निकालने की अनुमति नहीं मिली है

इस बार 15 और 16 अप्रेल को गणगौर की शाही लवाजमें के साथ सवारी निकलनी थी। परम्परा अनुसार पूर्व राजपरिवार की गणगौर शाही लवाजमें के साथ जूनागढ़ जनाना ड्योढ़ी से चौतीना कुआ तक निकलती है। यहां गणगौर को पानी पिलाने, भोग अर्पित करने की परम्परा का निर्वहन होता है। कोरोना संक्रमण के कारण यह तीसरा अवसर है जब जूनागढ़ जनाना ड्योढ़ी से गणगौर माता की सवारी शाही लवाजमें के साथ नहीं निकलेगी। कर्नल देवनाथ सिंह के अनुसार गणगौर माता की सवारी साल में दो बार निकलती है। वर्ष 2020 में दोनो अवसरों पर कोरोना संक्रमण के फैलाव के कारण नहीं निकली थी। इस बार भी कोरोना संक्रमण के फैलाव के कारण सवारी नहीं निकलेगी। प्रबंधक के अनुसार गणगौरी तीज और चौथ को परम्परानुसार जूनागढ़ में ही मां गवरजा का पूजन, पानी पिलाने और भोग अर्पित करने की परम्परा यथावत रहेगी

 

- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here