स्टूडेंट ने दी जान, सुसाइड नोट में लिखा 'पापा मैं नहीं कर पाउंगा, मेरे से नहीं हो सकेगी JEE, मुझे माफ कर देना

 0
 स्टूडेंट ने दी जान, सुसाइड नोट में लिखा 'पापा मैं नहीं कर पाउंगा, मेरे से नहीं हो सकेगी JEE, मुझे माफ कर देना
ADVERTISEMENT ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT ADVERTISEMENT

 स्टूडेंट ने दी जान, सुसाइड नोट में लिखा 'पापा मैं नहीं कर पाउंगा, मेरे से नहीं हो सकेगी JEE, मुझे माफ कर देना

राजस्थान के कोटा में फिर एक स्टूडेंट ने सुसाइड कर लिया है। महज 16 साल के स्टूडेंट ने सिर्फ इसलिए सुसाइड कर लिया, क्योंकि उससे पढ़ाई का प्रेशर सहन नहीं हो रहा था। ये बात उसने सुसाइड नोट में भी लिखी। उसने अपने पापा को बोलते हुए लिखा कि पापा मैं नहीं कर पाउंगा, मेरे से जेईई नहीं हो रही है। वह एक साल से इंजीनियरिंग की तैयारी कर रहा था। उसने सेल्फॉस की काफी सारी गोलियां खा ली और जान दे दी। सुसाइड की यह घटना कोटा जिले के विज्ञान नगर थाना इलाके की है।


बिहार के स्टूडेंट ने दी जान
पुलिस ने बताया कि बिहार के भागलपुर का रहने वाला अभिषेक एक साल से कोटा में था। वह विज्ञान नगर इलाके में पीजी में रह रहा था और जेईई की तैयारी कर रहा था। वह करीब एक महीने पहले ही दूसरे पीजी मेंं शिफ्ट हुआ था। कुछ दिन पहले ही उसके परिवार के सदस्य उससे मिलकर गए थे।

रूम नहीं खोला तब हुआ खुलासा
पीजी में रह रहे स्टूडेंट ने जब शुक्रवार को सुबह अपना रूम नहीं खोला तो उसके साथियों ने हॉस्टल मालिक को सूचना दी। वहां से जानकारी पुलिस को दी गई। पुलिस मौके पर पहुंची और दरवाजा खोला तो अंदर अभिषेक अचेत पड़ा था। तुरंत फोरेंसिक टीम को जानकारी दी गई। जांच पड़ताल के बाद पता चला कि उसने सेल्फॉस खाया है। उसके पास तीन लाइन का एक सुसाइड नोट मिला है। उसमें उसने अपने पिता के लिए लिखा है कि.... पापा मैं नहीं कर पाउंगा....। जेईई मेरे से नहीं हो सकेगी....। मुझे माफ कर देना.....। पुलिस की सूचना के बाद परिवार बिहार से रवाना हो गया है। शव को जिला अस्पताल की मोर्चरी में रखवाया गया है।

Big accident in Kota on Mahashivratri: 14 children stuck to electric wire during Shiva procession

Big news is coming from Kota. Kota MP Om Birla is also taking information about this. A crowd is gathering in the hospital. The person who had organized the event was beaten badly by the people. The police have rescued him. Police officers are also reaching the hospital. Actually, a big incident has happened in Kota district some time ago. Electrocution has spread in the Shiva procession passing through Kunhadi police station area. Fourteen children have been injured so far in this accident. The condition of some remains very serious. A crowd is gathering in the hospital.


Such an accident happened during Shiv procession in Kota
Actually, some time ago, some people organized a Shiva procession in Kali Basti located in Kunhadi police station area. More than fifty children were also involved in this, dancing and singing in the procession of Lord Shiva. One of the children also had a religious flag in his hand. This flag touched the high tension line passing through there and after that the current started spreading. There was a stampede on the spot.

Innocent children admitted to Kota hospital
People admitted the burnt children to a nearby private hospital and then to a government hospital. Many children have been admitted to MBS Hospital, the largest government hospital in Kota. There are four children who have suffered burns ranging from thirty percent to seventy percent. On the other hand, the organizers were beaten badly by the parents of the children. He is also being treated. Police and administrative staff are present in the district hospital.

ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT