प्रेम कहानी का ऐसा खौफनाक अंत: पुलिस वाले 2 दिन तक लाशों के टुकड़े बटोरते रह गए

 0
प्रेम कहानी का ऐसा खौफनाक अंत: पुलिस वाले 2 दिन तक लाशों के टुकड़े बटोरते रह गए
ADVERTISEMENT ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT ADVERTISEMENT

प्रेम कहानी का ऐसा खौफनाक अंत: पुलिस वाले 2 दिन तक लाशों के टुकड़े बटोरते रह गए

खबर राजस्थान के बाड़मेर जिले से है । जहां एक प्रेम कहानी का ऐसा अंत हुआ कि पुलिस वाले 2 दिन तक लाशों के टुकड़े बटोरते रहे। इस प्रेम कहानी के अंत के बाद अब दो परिवारों के सामने जीवन भर का दुख खड़ा हो गया है। कहानी 35 साल के राजू और 20 साल की रवीना की है । दोनों के परिवार ने एक दूसरे के खिलाफ आरोप लगाते हुए पुलिस थाने में शिकायत दी है।


20 साल की प्रेमिका और दो बच्चों का पिता था प्रेमी
दरअसल बाड़मेर के नजदीक बालोतरा इलाके में रहने वाले राजू भाट को बालोतरा के ही एक गांव में रहने वाली 20 साल की रवीना से प्यार हो गया । 1 साल पहले दोनों की मुलाकात हुई थी। दोनों छुप-छुप कर मिलने लगे । इस बीच दोनों ने एक दूसरे के साथ शादी का फैसला भी कर लिया। लेकिन इसकी जानकारी कुछ दिन पहले राजू की पत्नी को लगी और साथ ही रवीना के परिजनों को भी इसका अंदाजा हो चुका था। राजू 15 साल पहले शादीशुदा था और उसके आठ और 10 साल के दो बेटे भी हैं।‌

दोनों साथ जी नहीं सके तो कर लिया मरने का फैसला
मजदूरी का काम करने वाला राजू अक्सर रवीना के गांव जाकर उससे मिलता था। दोनों ने गुरुवार को घर से भागने का फैसला किया और गुरुवार को दोनों घर से फरार हो गए ।‌लेकिन दोनों शादी नहीं कर सके। परिवार को उसका पता लगा तो दोनों ने मरने का फैसला किया।

आखिर वक्त में प्रेमिका ने छोड़ दिया प्रेमी का साथ
गुरुवार देर रात बालोतरा रेलवे स्टेशन पर राजू और रवीना ने ट्रेन के आगे छलांग लगाई लेकिन रवीना ने‌ एन वक्त पर राजू का हाथ छोड़ दिया और ट्रेन राजू के शरीर से होते हुए गुजर गई । कुछ देर बाद पुलिस पहुंची और रवीना को हिरासत में लिया । उसे पुलिस कस्टडी में रखा गया और राजू के शरीर के टुकड़े उठाए गए। उन्हें मुर्दाघर में रखवाया गया ।‌राजू के भाई रवि का आरोप था कि रवीना के परिवार ने राजू की जान ले ली।

जिंदा बची तो दो दिन बाद वो भी मर गई...
उधर पुलिस ने रवीना को हिरासत में लिया और उसे डिटेंशन सेंटर में रखा गया लेकिन शनिवार दोपहर वह भी चुपचाप डिटेंशन सेंटर से निकल गई। पता चला शनिवार रात उसने भी ट्रेन के आगे कूद कर जान दे दी इस प्रेम कहानी के अंत के बाद अब दोनों परिवारों के सामने सिवाय दुखों के पहाड़ के कुछ नहीं बचा है।


   
   
   

Such a horrifying end to a love story: The police kept collecting pieces of dead bodies for 2 days.

The news is from Barmer district of Rajasthan. Where a love story ended in such a way that the police kept collecting pieces of dead bodies for 2 days. After the end of this love story, two families are now faced with the sorrow of a lifetime. The story is of 35 year old Raju and 20 year old Raveena. The families of both have filed a complaint in the police station accusing each other.


The lover was the father of 20 year old girlfriend and two children.
Actually, Raju Bhat, living in Balotra area near Barmer, fell in love with 20 year old Raveena, living in a village of Balotra. Both of them had met 1 year ago. Both of them started meeting secretly. Meanwhile, both of them also decided to marry each other. But Raju's wife came to know about this a few days ago and Raveena's family members also came to know about it. Raju was married 15 years ago and has two sons aged eight and 10.

Both of them could not live together so they decided to die.
Raju, who worked as a laborer, often went to Raveena's village and met her. Both of them decided to run away from home on Thursday. But both of them could not get married. When the family found out about him, both of them decided to die.

At last the girlfriend left her boyfriend
Late Thursday night at Balotra railway station, Raju and Raveena jumped in front of the train but Raveena left Raju's hand in time and the train passed through Raju's body. After some time the police arrived and detained Raveena. He was kept in police custody and the pieces of Raju's body were collected. He was kept in the mortuary. Raju's brother Ravi alleged that Raveena's family took Raju's life.

If she survived, she also died after two days...
On the other hand, the police detained Raveena and kept her in the detention center but on Saturday afternoon she also silently left the detention center. It was revealed that on Saturday night he also committed suicide by jumping in front of the train. After the end of this love story, now there is nothing left in front of both the families except a mountain of sorrows.

ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT