यूपीआई आईडी डीएक्टिवेशन के लिए नए निर्देश जारी, भारतीय राष्ट्रीय भुगतान निगम की नई गाइडलाइन

 0
 यूपीआई आईडी डीएक्टिवेशन के लिए नए निर्देश जारी, भारतीय राष्ट्रीय भुगतान निगम की नई गाइडलाइन
ADVERTISEMENT ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT ADVERTISEMENT

 

यूपीआई आईडी डीएक्टिवेशन के लिए नए निर्देश जारी, भारतीय राष्ट्रीय भुगतान निगम की नई गाइडलाइन

 आज कल सभी उम्र के लोग और खासकर युवा कैश रखना बंद कर डिजिटल पेमेंट पर आश्रित हो चुके हैं। ज्यादातर लोग फोन पे, गूगल पे, पेटीएम, भीम या ऑनलाइन बैंकिंग का सहारा लेते हैं। पेमेंट करने के लिए सबसे पहले यूपीआई आईडी बनाना पड़ता है। लेकिन इसी बीच खबर आ रही है कि कुछ यूपीआई यूजर्स के लिए ट्रांजेक्शन सर्विस बंद हो सकती है, लेकिन इसके पीछे कारण क्या है, आइए इसके बारे में जानते हैं।

इस वजह से आई नई गाइडलाइन?
किसी तरह के गलत ट्रांजेक्शन को रोकने के लिए भारतीय राष्ट्रीय भुगतान निगम ने यूपीआई आईडी की नई गाइडलाइन जारी की है। इस वजह से लोगो लेनदेन में काफी सेफ हो जाएंगे। लेनदेन प्रक्रिया गलत यूजर तक नहीं हो सकेगी और इसका कोई गलत इस्तेमाल भी नहीं हो सकेगा
कुछ यूजर्स 31 दिसंबर के बाद यानी 1 जनवरी 2024 से अपना यूपीआई इस्तेमाल नहीं कर पाएंगे। भारतीय राष्ट्रीय भुगतान निगम द्वारा कुछ दिन पहले नोटिफिकेशन जारी किया गया था जिसमें बताया गया है कि यूपीआई यूजर्स के लिए एक्टिव होना जरूरी है। इस नोटिफिकेशन के मुताबिक अगर किसी यूजर ने पिछले 1 साल में किसी तरह का कोई लेनदेन नहीं किया है तो उनकी यूपीआई आईडी को डीएक्टिवेट कर दिया जाएगा।

इस तरह एक्टिव कर पाएंगे यूपीआई आईडी
अगर आपका यूपीआई आईडी इनएक्टिव हो गया है तो उसको एक्टिव करने के लिए आपको किसी के साथ लेनदेन करना होगा। यूपीआई के जरीय आप ट्रांजेक्शन सर्विस के अलावा भुगतान जैसे- बिल पेमेंट, फोन रिचार्ज, रेंट पे आदि भी कर सकते हैं। लेकिन ध्यान रहे यह काम आपको 31 दिसंबर 2023 से पहले करना होगा। अगर नहीं करेंगे तो भारतीय राष्ट्रीय भुगतान निगम के नियम मुताबिक आपकी यूपीआई आईडी को डीएक्टिवेट कर दिया जाएगा।

New instructions issued for UPI ID deactivation, new guidelines of National Payment Corporation of India

  Nowadays, people of all ages and especially youth have stopped carrying cash and have become dependent on digital payments. Most people resort to Phone Pay, Google Pay, Paytm, BHIM or online banking. To make payment, first you have to create UPI ID. But meanwhile news is coming that transaction service may be stopped for some UPI users, but what is the reason behind this, let us know about it.

New guidelines came because of this?
To prevent any kind of wrong transaction, National Payment Corporation of India has issued a new guideline of UPI ID. Because of this, people will become quite safe in transactions. The transaction process will not reach the wrong user and it will not be misused.
Some users will not be able to use their UPI after December 31 i.e. from January 1, 2024. A notification was issued a few days ago by the National Payments Corporation of India stating that it is necessary for UPI users to be active. According to this notification, if a user has not done any transaction in the last 1 year, then his UPI ID will be deactivated.

You will be able to activate UPI ID in this way
If your UPI ID has become inactive then to activate it you will have to transact with someone. Apart from transaction services, you can also make payments like bill payment, phone recharge, rent payment etc. through UPI. But keep in mind that you will have to do this work before 31 December 2023. If you do not do so, your UPI ID will be deactivated as per the rules of National Payment Corporation of India.

ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT