20 किलो बजरी की बोरी के लिए पूर्व सरपंच की दिनदहाड़े हत्या, सामने आया सीसीटीवी फुटेज

 0
20 किलो बजरी की बोरी के लिए पूर्व सरपंच की दिनदहाड़े हत्या, सामने आया सीसीटीवी फुटेज

20 किलो बजरी की बोरी के लिए पूर्व सरपंच की दिनदहाड़े हत्या, सामने आया सीसीटीवी फुटेज

राजस्थान के भीलवाड़ा जिले में बजरी की 20 किलोग्राम की बोरी की चोरी करने से रोकना और टोकना एक पूर्व सरपंच को महंगा पड़ गया. टोकने से नाराज लोगों ने भोजपुरा (बदनोर) के पूर्व सरपंच जगदीश मेवाड़ा की हत्या कर दी. हत्याकांड का सीसीटीवी फुटेज भी सामने आया है. हत्या के बाद ग्रामीणों में रोष व्याप्त है. परिजन और ग्रामीण आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग कर रहे हैं. पूर्व सरपंच मेवाड़ा का शव अजमेर चिकित्सालय में रखा हुआ है.

अजमेर रेफर के दौरान हुई मौत
बदनोर थाना प्रभारी राज दीपेंद्र ने बताया कि पूर्व सरपंच जगदीश मेवाड़ा छोटे भाई दिनेश मेवाड़ा की हार्डवेयर की दुकान पर मंगलवार को बैठा था. इसी बीच कार में आए तीन नाकाबपोश बदमाशों ने जगदीश मेवाड़ा पर हमला कर दिया. बीच बचाव में आया छोटा भाई भी घायल हो गया. हमले के बाद तीनों बदमाश कार में सवार होकर फरार हो गए. हमले में घायल पूर्व सरपंच जगदीश मेवाड़ा जमीन पर गिर गए, जिन्हें बदनोर चिकित्सालय ले गए, जहां प्राथमिक उपचार के बाद हालत गंभीर होने पर अजमेर रेफर कर दिया गया.

अजमेर जिला चिकित्सालय में इलाज के दौरान पूर्व सरपंच मेवाड़ा ने दम तोड़ दिया. पुलिस अब तीनों हमलावरों की तलाश में जुट गई है. घटनास्थल का बारीकी से मुआयना किया जा रहा है. गांव में पूर्व सरपंच के घर के बाहर ग्रामीणों की भीड़ एकत्रित है. ग्रामीण आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग कर रहे हैं.

यह खबर भी पढ़ें:-


हमलावरों से पुरानी रंजिश का शक
सूत्रों के अनुसार, पहले से ही दोनों पक्षों में रंजिश चल रही थी. आपसी रंजिश के बीच बजरी के छोटे से बोलचाल और बहस के विवाद ने आग में घी का काम किया. रंजिश पाले लोगों को झगड़े का मौका मिल गया. भोजपुरा के पूर्व सरपंच जगदीश मेवाड़ा पर जानलेवा हमला कर दिया. बदनोर पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज कब्जे में लिए हैं. सीसीटीवी वीडियो में तीन लोग दिख रहे हैं, जो कार में सवार होकर आते हैं. इधर-उधर देखते हैं. फिर दो व्यक्ति पहले बाहर निकल के पूर्व सरपंच से वार्तालाप करते हैं.

वहां उनकी कहासुनी होते देखे तीसरा व्यक्ति कार से बाहर निकलता है, जिसका मुंह वॉइट स्टॉल से ढका हुआ होता है. वह सेंसिटिव फुटेज में लोहे के पाइप या हॉकी से पूर्व सरपंच पर ताबड़तोड़ हमला करता दिख रहा है. वह व्यक्ति हमले के बाद वह सीधा पैदल आगे की ओर भाग कर निकल जाता है. अन्य दो साथी भी कुछ देर बाद कार में सवार होकर मौके से भाग जाते हैं.

यह खबर भी पढ़ें:-


Former Sarpanch murdered in broad daylight for bag of 20 kg gravel, CCTV footage surfaced

Stopping and stopping the theft of a 20 kg bag of gravel in Rajasthan's Bhilwara district proved costly for a former sarpanch. Angered by the interruption, people killed former sarpanch of Bhojpura (Badnore), Jagdish Mewada. CCTV footage of the massacre has also surfaced. There is anger among the villagers after the murder. Family members and villagers are demanding the arrest of the accused. The body of former Sarpanch Mewada is kept in Ajmer hospital.

Death occurred during Ajmer referral
Badnore police station in-charge Raj Deependra said that former sarpanch Jagdish Mewada was sitting at the hardware shop of his younger brother Dinesh Mewada on Tuesday. Meanwhile, three masked miscreants who came in a car attacked Jagdish Mewada. The younger brother who came to the rescue was also injured. After the attack, the three miscreants fled in a car. Former Sarpanch Jagdish Mewada, who was injured in the attack, fell on the ground and was taken to Badnore hospital, where after first aid, he was referred to Ajmer as his condition became critical. Former Sarpanch Mewada died during treatment in Ajmer District Hospital. The police have now started searching for the three attackers. The incident site is being inspected closely. A crowd of villagers has gathered outside the house of the former Sarpanch in the village. The villagers are demanding the arrest of the accused.

Suspicion of old enmity with the attackers
According to sources, there was already enmity between both the parties. Amidst mutual rivalry, small talk and debate over gravel added fuel to the fire. People harboring grudges got an opportunity to fight. Deadly attack on former sarpanch of Bhojpura, Jagdish Mewada. Badnore police has captured CCTV footage. Three people are seen in the CCTV video, who come in a car. Let's look here and there. Then two persons first go out and talk to the former Sarpanch. Seeing their argument going on, a third person comes out of the car, whose face is covered with a white scarf. In the sensitive footage, he is seen attacking the former Sarpanch with an iron pipe or hockey stick. After the attack, the person runs straight ahead on foot. After some time, the other two companions also run away from the spot in the car.