अफसर मेरा दोस्त है, तेरा काम तो चुटकी में करा दूंगा, TV चैनल का पत्रकार का कांड...

 0
अफसर मेरा दोस्त है, तेरा काम तो चुटकी में करा दूंगा, TV चैनल का पत्रकार का कांड...

अफसर मेरा दोस्त है, तेरा काम तो चुटकी में करा दूंगा, TV चैनल का पत्रकार का कांड...

राजस्थन के जोधपुर जिले में आज तड़के चार बजे एसीबी ने बड़ा एक्शन लिया है। एक आरपीएस अफसर और एक इंस्पेक्टर के नाम से रिश्वत मांग रहे एक पत्रकार को साठ हजार रुपए लेते अरेस्ट किया है। वह एक लाख रुपए की डिमांड कर रहा था, लेकिन बाद में डील साठ हजार में हो गई थी। उसे सड़क पर अपनी का के नजदीक से पकड़ा गया है। एसीबी के डीजी डॉक्टर रवि प्रकाश मेहरडा ने बताया कि पत्रकार का नाम नवीन दत्त है और वह जोधपुर में एक न्यूज चैनल का ब्यूरो चीफ है।

केस क्लोज करने के लिए मांगी थी रिश्वत
डीजी मेहरड़ा ने बताया कि नवीन ने सरदारपुरा थाने में दर्ज एक केस को सैटल करने की एवज में यह पैसा लिया है। थाना क्षेत्र में रहने वाले कार डेकोर करने वाले एक कारोबारी पर पुलिस केस हुआ था। वह नवीन के संपर्क में आया तो नवीन ने कहा कि आरपीएस अफसर दोस्त है, वह एसएचओ को बोल देंगे तो केस निपट जाएगा। लेकिन इसके लिए पैसा देना होगा। एक लाख रूपए की नवीन ने मांग की। पीडित ने इस बारे में एसीबी को सूचना दे दी।

नेशनल हैंडलूम के पास रंगेहाथ धरे गए पत्रकार
नवीन और पीडित के बीच आज सवेरे प्रताप नगर में नेशनल हैंडलूम के पास मुलाकात हुई। नवीन ने जैसे ही साठ हजार रूपए लिए वैसे ही एसीबी के इंस्पेक्टर वहां पहुंच गए और नवीन को रंगे हाथों अरेस्ट कर लिया गया। डीजी ने कहा आरपीएस अफसर और इंस्पेक्टर की भूमिका की भी जांच कर रहे हैं।

The officer is my friend, I will get your work done in a jiffy, TV channel journalist's scandal...

ACB has taken a big action at 4 am today in Jodhpur district of Rajasthan. A journalist demanding bribe in the name of an RPS officer and an inspector has been arrested while taking sixty thousand rupees. He was demanding one lakh rupees, but later the deal was done for sixty thousand. He has been caught on the road near his car. ACB DG Dr. Ravi Prakash Meharda told that the journalist's name is Naveen Dutt and he is the bureau chief of a news channel in Jodhpur.

Bribe was demanded to close the case
DG Meharda told that Naveen has taken this money in lieu of settling a case registered in Sardarpura police station. A police case was filed against a car decor businessman living in the police station area. When he came in contact with Naveen, Naveen said that the RPS officer is a friend, if he tells the SHO, the case will be settled. But for this money will have to be paid. Naveen demanded one lakh rupees. The victim informed the ACB about this.

Journalist caught red handed near National Handloom
Naveen and the victim met near National Handloom in Pratap Nagar this morning. As soon as Naveen took sixty thousand rupees, the ACB inspector reached there and Naveen was arrested red handed. The DG said that the role of the RPS officer and the inspector is also being investigated.