बड़ा खुलासा:अजमेर की हाई सिक्योरिटी जेल में रची गई जयपुर शराब कारोबारी की हत्या की साजिश, लॉरेंस गैंग के गुर्गे से NIA कर रही पूछताछ

 0
बड़ा खुलासा:अजमेर की हाई सिक्योरिटी जेल में रची गई जयपुर शराब कारोबारी की हत्या की साजिश, लॉरेंस गैंग के गुर्गे से NIA कर रही पूछताछ
ADVERTISEMENT ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT ADVERTISEMENT

बड़ा खुलासा:अजमेर की हाई सिक्योरिटी जेल में रची गई जयपुर शराब कारोबारी की हत्या की साजिश, लॉरेंस गैंग के गुर्गे से NIA कर रही पूछताछ

जयपुर में शराब कारोबारी की हत्या की साजिश रचने के मामले में बड़ा खुलास हुआ है. मामले की जांच कर रही एनएआई के अनुसंधान में हुए ताजा खुलासे में आंशका जताई गई है कि कही शराब कारोबारी की हत्या की साजिश अजमेर की हाई सिक्योरिटी जेल में रची गई थी?.हालांकि अभी तक मामले को लेकर एनआईए टीम द्वारा कोई पुष्टि नहीं की गई है

जयपुर शराब कारोबारी हत्या की गुत्थी को सुलझाने के लिए एनआईए टीम अजमेर हाई सिक्योरिटी जेल में बंद राजपूत करणी सेना प्रमुख सुखदेव सिंह गोगामेड़ी के हत्यारे कुख्यात नितिन फौजी और रोहित राठौड को चार दिन पहले गिरफ्तार करके अपने साथ जयपुर ले गई है.

गौरतलब है जयपुर शराब कारोबारी की हत्या की साजिश नाकाम हो गई थी और शराब कारोबारी की हत्या की साजिश रचने वाले दोनों  बदमाश लॉरेंस गैंग के गुर्गे बताई जा रहे हैं. सुखदेव सिंह गोगामेड़ी हत्याकांड में मुख्य आरोपी नितिन फौजी और रोहित राठौर पर जयपुर के शराब कारोबारी के कत्ल की साजिश हाई सिक्योरिटी जेल में रचने का आरोप है.


जयपुर के सोडाला थाने में दोनों से हो रही पूछताछ 
जयपुर शराब कारोबारी की हत्या की साजिश मामले की जांच कर रही एनआईए की टीम चार दिन पहले अजमेर हाई सिक्योरिटी जेल से कड़ी सुरक्षा के बीच रोहित और नितिन फौजी को जयपुर के सोडाला थाने में लेकर गई है, जहां शराब कारोबारी की हत्या की साजिश रचने के बारे में कड़ी पूछताछ की जा रही है.

लॉरेंस के गुर्गों से पूछताछ के दौरान छावनी में बदला सोडाला थाना
लॉरेंस गैंग से जुड़े दोनों बदमाशों नितिन फौजी और रोहित राठौर से पूछताछ के चलते सोडाला थाने पर सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं.थाना परिसर और आसपास के इलाके को छावनी में तब्दील कर दिया गया है. 


गिरफ्तार तीन बदमाशों ने पूछताछ में खोले थे हत्या की साजिश के राज
गत 11 मार्च, 2024 को राजधानी जयपुर की हरमाड़ा थाना पुलिस ने जयपुर शराब कारोबी की हत्या के मामले तीन बदमाशों को हथियार के साथ गिरफ्तार किया था.पकड़े गए उर्वेश मीणा, आकाश बंजारा और कुश अग्रवाल से पूछताछ में सामने आया कि व बदमाश जयपुर में एक शराब कारोबारी की हत्या करने आए हैं.

आरोपियों ने अजमेर जेल में बंद रोहित राठौर से करवाई थी बात
गिरफ्तार आरोपियों से पूछताछ में सामने आया कि उर्वेश मीणा, कुश अग्रवाल और आकाश बंजारा की लॉरेंस विश्नोई गैंग के एक गुर्गे ने जेल में बंद रोहित राठौड़ से बात करवाई थी. इसी दौरान उन्हें रोहित राठौड़ ने जयपुर के एक शराब कारोबारी को उड़ाने का जिम्मा दिया. 

कारोबारी हत्या को अंजाम देने के लिए जयपुर में ठहरे थे आरोपी
जयपुर शराब कारोबी की हत्या को अंजाम देने के लिए दोनों बदमाश अपने एक साथी कुश के साथ जयपुर आए और होटल में ठहरे. तीनों आरोपियों ने शराब कारोबारी की पूरी रैकी की थी और घटना को अंजाम देते इससे पहले पुलिस ने उन्हें दबोच लिया.

Big disclosure: A conspiracy to murder a Jaipur liquor businessman was hatched in the high security jail of Ajmer, NIA is interrogating the henchman of Lawrence gang.

A big revelation has come to light in the case of conspiracy to murder a liquor businessman in Jaipur. In the latest revelations made in the research of NAI, which is investigating the case, it is suspected that a conspiracy to murder the liquor businessman was hatched in the high security jail of Ajmer. However, till now no confirmation has been given by the NIA team regarding the matter. Is

To solve the mystery of Jaipur liquor businessman murder, the NIA team has arrested the notorious Nitin Fauji and Rohit Rathod, the murderers of Rajput Karni Sena chief Sukhdev Singh Gogamedi, lodged in Ajmer High Security Jail, four days ago and took them with them to Jaipur.

It is worth noting that the conspiracy to murder a Jaipur liquor businessman had failed and both the criminals who conspired to murder the liquor businessman are said to be henchmen of the Lawrence Gang. Nitin Fauji and Rohit Rathore, the main accused in the Sukhdev Singh Gogamedi murder case, are accused of conspiring to murder a liquor businessman from Jaipur in a high security jail.


Both are being interrogated in Jaipur's Sodala police station.
Four days ago, the NIA team investigating the case of conspiracy to murder a liquor businessman in Jaipur took Rohit and Nitin Fauji from Ajmer High Security Jail under tight security to Sodala police station in Jaipur, where they were arrested for conspiring to murder a liquor businessman. Strict inquiries are being made regarding this.

During interrogation of Lawrence's henchmen, Sodala police station changed into cantonment.
Due to the interrogation of Nitin Fauji and Rohit Rathore, two criminals associated with Lawrence Gang, tight security arrangements have been made at Sodala police station. The police station premises and the surrounding area have been converted into a cantonment.


The three arrested criminals had revealed the secrets of the murder conspiracy during interrogation.
On March 11, 2024, the Harmada police station of the capital Jaipur had arrested three miscreants with weapons in the case of murder of a Jaipur liquor dealer. During interrogation of the arrested Urvesh Meena, Akash Banjara and Kush Aggarwal, it came to light that the miscreants were in Jaipur. Have come to murder a liquor businessman.

The accused had talked to Rohit Rathore, lodged in Ajmer jail.
During interrogation of the arrested accused, it was revealed that a henchman of Lawrence Vishnoi gang of Urvesh Meena, Kush Aggarwal and Akash Banjara had got Rohit Rathod, who was in jail, talking to him. During this time, Rohit Rathore gave him the responsibility of blowing up a liquor businessman from Jaipur.

The accused had stayed in Jaipur to commit the businessman murder.
To carry out the murder of a Jaipur liquor baron, both the criminals came to Jaipur along with one of their associates, Kush, and stayed in a hotel. The three accused had done a thorough raid on the liquor businessman and the police caught them before they could commit the crime.

ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT