मैं भक्ति करना चाहती हूं...नीट एग्जाम से पहले छात्रा ने लिखा अजब-गजब सुसाइड नोट

 0
मैं भक्ति करना चाहती हूं...नीट एग्जाम से पहले छात्रा ने लिखा अजब-गजब सुसाइड नोट

मैं भक्ति करना चाहती हूं...नीट एग्जाम से पहले छात्रा ने लिखा अजब-गजब सुसाइड नोट

राजस्थान के कोटा जिले से इस बार अच्छी खबर है।  पुलिस, पुलिस और परिवार जिसे सुसाइड मानकर जांच पड़ताल कर रहा था वह छात्रा जीवित निकली।  उसे परीक्षा नहीं देनी थी इस कारण परीक्षा से पहले वह कोचिंग से सीधे ही पंजाब चली गई । घटना राजस्थान की कोटा जिले की है और छात्र को पंजाब से पकड़ा गया है । वह पंजाब जाने से पहले कुछ दिन मथुरा रही और वहां से पंजाब चली गई।

सुसाइड नोट छोड़कर कोटा से लापता हुई छात्रा
पुलिस ने बताया कि अनंतपुर थाना इलाके में स्थित एक पीजी में रहने वाली 21 साल की तृप्ति सिंह 21 अप्रैल से लापता थी । वह  कोचिंग जाने के लिए निकली थी , उसके बाद घर वापस नहीं लौटी।  पीजी की मालकिन ने इस बारे में पुलिस को सूचना दी और कोचिंग संचालक को जानकारी दी । बाद में तृप्ति सिंह की जांच पड़ताल की गई तो पता चला उसने अपने कमरे में एक सुसाइड नोट छोड़ा है । इससे परिवार और पुलिस के पसीने छूट गए।

सुसाइड नोट मैं लिखा दो शब्दों से पुलिस ने खोल दिया पूरा राज
सुसाइड नोट पर पुलिस ने दो शब्द बड़े गौर से पढ़े।  सुसाइड नोट के नीचे राधा और कृष्णा लिखा था । पुलिस ने परिवार से पूछताछ की तो पता चला तृप्ति सिंह कुछ दिन पहले मथुरा वृंदावन गई थी और वहां से वापस लौट आई थी।  पुलिस ने मथुरा वृंदावन से तृप्ति सिंह की जांच पड़ताल शुरू की पता चला वह कुछ दिन वृंदावन में ठहरी थी।  

उसके बाद जानकारी मिली कि वह पंजाब चली गई । पुलिस की टीम पंजाब पुलिस के साथ मिलकर तृप्ति सिंह को तलाश रही थी। कल उसके बारे में जानकारी मिल गई उसे पंजाब से कोटा लाया गया है।  परिवार भी पिछले 10 दिन से परेशान था , फिलहाल तृप्ति सिंह को उसके परिवार के साथ भेज दिया गया है।

5 मई से हैं नीट एक्जाम...उससे पहले गायब छात्रा
उल्लेखनीय है कि 5 मई से नीट परीक्षाएं शुरू हो रही है। कोटा जिले में देश भर से आने वाले बच्चे नीट परीक्षा पास करने के लिए कोचिंग करते हैं। लाखों बच्चे एक साथ परीक्षा दे रहे हैं। लेकिन परीक्षा से पहले दो बच्चे सुसाइड कर चुके हैं और तीसरी बच्ची सुसाइड करने की तैयारी में थी उसे परीक्षा नहीं देनी थी।

यह खबर भी पढ़ें:-


I want to do devotion... Before NEET exam, student wrote a strange suicide note.

This time there is good news from Kota district of Rajasthan. The student, who was being investigated by the police and family as a suicide, turned out to be alive. She did not have to take the exam, hence before the exam she went to Punjab directly from the coaching center. The incident took place in Kota district of Rajasthan and the student was caught from Punjab. She stayed in Mathura for a few days before going to Punjab and from there went to Punjab.

Girl student goes missing from Kota leaving suicide note
Police said that 21-year-old Trupti Singh, who lived in a PG located in Anantapur police station area, was missing since April 21. She had left to go to coaching, after which she did not return home. The owner of the PG informed the police about this and also informed the coaching operator. Later, when Trupti Singh was investigated, it was found that she had left a suicide note in her room. Due to this, the family and the police lost their sweat.

Police revealed the whole secret with two words written in the suicide note.
The police read two words on the suicide note very carefully. Radha and Krishna were written below the suicide note. When the police interrogated the family, they came to know that Trupti Singh had gone to Mathura Vrindavan a few days ago and had returned from there. Police started investigating Trupti Singh from Mathura Vrindavan and found out that she had stayed in Vrindavan for a few days.

After that information was received that she had gone to Punjab. The police team along with Punjab Police was searching for Trupti Singh. Yesterday we got information about him that he has been brought to Kota from Punjab. The family was also worried for the last 10 days, at present Trupti Singh has been sent with her family.

NEET exam is from 5th May...student missing before that
It is noteworthy that NEET examinations are starting from May 5. In Kota district, children coming from all over the country take coaching to pass the NEET exam. Lakhs of children are appearing for the exam simultaneously. But before the examination, two children had committed suicide and the third child was preparing to commit suicide as she did not have to take the examination.