ये कैसी किस्मत: सबकुछ देकर छीन ली जिंदगी: सरकारी नौकरी लगी, 21 दिन पहले शादी और मौत

 0
ये कैसी किस्मत: सबकुछ देकर छीन ली जिंदगी: सरकारी नौकरी लगी, 21 दिन पहले शादी और मौत

ये कैसी किस्मत: सबकुछ देकर छीन ली जिंदगी: सरकारी नौकरी लगी, 21 दिन पहले शादी और मौत

राजस्थान के दौसा जिले में हुए एक सड़क हादसे में एक युवक की मौत हो गई। वह सरकारी शिक्षक था और एक साल पहले ही उसकी नौकरी लगी थी। 21 दिन पहले उसकी शादी हुई थी और अब छुट्टियां आते ही पत्नी के साथ हनीमून जाने का प्लान था। लेकिन एक पल ने सारी खुशियों को ग्रहण लगा दिया।

जयपुर - आगरा नेशनल हाइवे पर दर्दनाक एक्सीडेंट
दरअसल दौसा जिले के सिकराय इलाके से होकर गुजरने वाले जयपुर - आगरा नेशनल हाइवे पर कल शाम को सरकारी शिक्षक उमादत्त शर्मा पर टाइल से भरा हुआ ट्रेलर पलट गया। हादसा बालाजी थाना इलाके में हुआ। पुलिस पहुंची तो पाया कि उमादत्त ट्रेलर के टायरो में फंसा हुआ है। उसे जनता की मदद से बाहर निकाला गया और अस्पताल पहुंचाया गया, लेकिन उसकी मौत हो चुकी थी। शाम होने के कारण शव का पोस्टमार्टम नहीं किया गया। आज शव का पोस्टमार्टम करने के बाद शव परिजनों को सौंपा गया है।

धौलपुर जिले का रहने वाला था...सरकारी टीचर था
पुलिस ने बताया कि उमादत्त शर्मा धौलपुर जिले का रहने वाला था। वह धौलपुर में महात्मा गांधी सरकारी स्कूल में ग्रेड थर्ड का टीचर था। गर्मियों की छुट्टियां शुरू होने से पहले सर्विस बुक और अन्य जरूरी दस्तावेज जमा कराने के लिए दौसा जिले के सिकराय स्थित एक सरकारी स्कूल में बाइक से आया था। वापस लौटने के दौरान सिकराय के नजदीक ही एक ट्रेलर उमादत्त की बाइक पर पलट गया।

पहली ही पोस्टिंग में हो गई मौत
उमाद्त्त की यह पहली ही पोस्टिंग थी। पत्नी और परिवार के लोग खुश थे कि अब शादी के बाद पहली छुट्टियां आ रही है। इसी कारण घुमने का प्रोग्राम बनाया गया था। लेकिन घर पहुंचने से पहले ही उमादत्त की जान चली गई। घर उसकी लाश ही पहुंची। परिवार में कोहराम मचा हुआ है। पत्नी और मां का रो रोकर हाल बुरा है।

What kind of luck is this: Life was taken away after giving everything: Got a government job, got married and died 21 days ago.

A youth died in a road accident in Dausa district of Rajasthan. He was a government teacher and had got the job only a year ago. He got married 21 days ago and now as the holidays approached, there were plans to go on honeymoon with his wife. But one moment eclipsed all the happiness.

Painful accident on Jaipur-Agra National Highway
In fact, a trailer filled with tiles overturned on government teacher Umadatt Sharma yesterday evening on the Jaipur-Agra National Highway passing through Sikrai area of Dausa district. The accident happened in Balaji police station area. When the police arrived, they found Umadatt trapped in the tire of the trailer. He was pulled out with the help of the public and taken to the hospital, but he had already died. Since it was evening, post-mortem of the body was not done. Today, after post-mortem, the body has been handed over to the relatives.

Was a resident of Dholpur district...was a government teacher
Police said that Umadatt Sharma was a resident of Dholpur district. He was a grade three teacher at Mahatma Gandhi Government School in Dholpur. Before the start of summer holidays, he had come by bike to a government school located in Sikrai in Dausa district to submit the service book and other important documents. While returning, a trailer overturned on Umadatt's bike near Sikrai.

Died in the very first posting
This was Umadatta's first posting. The wife and family members were happy that now the first holidays after marriage are coming. For this reason a traveling program was made. But Umadatt lost his life before reaching home. Only his dead body reached home. There is chaos in the family. The condition of wife and mother is bad due to crying.