चोरी हुई कार देखी तो बदमाशों को पकड़ने के लिए मालिक बोनट पर लटक गया, करीब 200 मीटर तक बोनट पर लटका

एक व्यक्ति ने अपनी चोरी हुई कार को देखा और बदमाशों को पकड़ने के लिए बोनट पर लटक गया। बदमाश कार को तेजी से भगाकर उसे 200 मीटर तक बोनट पर लटकाए रखा और फिर उसे गिरा दिया।

 0
चोरी हुई कार देखी तो बदमाशों को पकड़ने के लिए मालिक बोनट पर लटक गया, करीब 200 मीटर तक बोनट पर लटका

चोरी हुई कार देखी तो बदमाशों को पकड़ने के लिए मालिक बोनट पर लटक गया, करीब 200 मीटर तक बोनट पर लटका

जयपुर में खुद की चोरी हुई कार दिखी तो बदमाशों को पकड़ने के लिए मालिक बोनट पर लटक गया। बदमाश भी बचने के लिए कार को तेज रफ्तार में भगा ले गए। इस दौरान कार मालिक करीब 200 मीटर तक बोनट पर लटका रहा। दिल्ली-अजमेर एक्सप्रेस-वे की पुलिया के पास गाड़ी को झटका देकर बदमाशों ने कार मालिक को नीचे गिरा दिया और फरार हो गए। कार मालिक ने वैशाली नगर थाने में कार चोरी की शिकायत दर्ज करवाई। करीब 12 दिन की मशक्कत के बाद कार मालिक ने खुद ही चोरी कार को एक वर्कशॉप में ढूंढ निकाला है।

पुलिस ने बताया कि माचवा कालवाड़ निवासी हिम्मत सिंह नाथावत (29) ने रिपोर्ट दर्ज करवाई है। उन्होंने बताया कि 5 मई की रात घर के बाहर खड़ी उनकी कार चोरी हो गई थी। उन्होंने कार चोरी की कंप्लेंट थाने में दर्ज करवा दी थी। 9 मई की रात करीब 8:45 बजे वह अपने दोस्त राजपाल सिंह के साथ ऑफिस से घर जा रहे थे। इस दौरान वैशाली नगर में दाता पेट्रोल पंप के पास उनकी चोरी हुई कार दिखाई दी। इस पर उन्होंने बाइक आगे लगाकर अपनी चोरी हुई कार को रुकवा लिया। इस दौरान कार में 3 लोग बैठे थे। जब उन्होंने कार उनकी होने की बात कही तो तीनों झगड़ने लगे। तीनों बदमाशों ने उनके साथ मारपीट की और कार लेकर भागने लगे।


बोनट पर लटका, दोस्त रोड पर गिरा
पीड़ित हिम्मत सिंह ने बताया- तीनों बदमाशों के कार लेकर भागने पर वह कार को रोकने के लिए आगे खड़े हो गए। इसके बाद भी बदमाश कार को लेकर भागने लगे तो वह बोनट पर लटक गए। उनके बोनट पर लटकने के बाद भी बदमाश रुके नहीं और कार तेज रफ्तार में दौड़ाने लगे। इस दौरान उनका दोस्त राजपाल सिंह सड़क पर गिरकर घायल हो गया।

पीड़ित ने बताया- उनके बोनट पर लटके होने के बाद भी बदमाशों ने 80 KM की स्पीड से कार दौड़ाई। बदमाश उनको करीब 200 मीटर तक बोनट पर लटकाकर ले गए। इसके बाद दिल्ली-अजमेर एक्सप्रेस-वे की पुलिया के पास कार को झटका देकर उनको नीचे गिरा दिया। उनके सड़क पर गिरने के बाद बदमाश कार लेकर बजरी मंडी की तरफ भाग गए।

वर्कशॉप में खड़ी मिली चोरी हुई कार
पीड़ित हिम्मत सिंह ने बताया कि इसके बाद वह वैशाली नगर थाने पहुंचे और चोरों की करतूत के बारे में बताया। इसके बाद करीब 12 दिन मशक्कत कर उन्होंने अपनी चोरी हुई कार खुद ही ढूंढ निकाली। वैशाली नगर स्थित एक वर्कशॉप में उनकी चोरी हुई कार खड़ी थी। इस पर उन्होंने वैशाली नगर थाना में शिकायत दी। पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है और जांच में जुटी है।

जांच अधिकारी हेड कॉन्स्टेबल विक्रम सिंह का कहना है- प्रथम दृष्टया जांच में मामला कार चोरी नहीं, लेन-देन का प्रतीत होता है।

When he saw the stolen car, the owner hung on the bonnet to catch the miscreants, hanging on the bonnet for about 200 meters

When he saw his stolen car in Jaipur, the owner hung onto the bonnet to catch the miscreants. The miscreants also drove the car away at high speed to escape. During this time the car owner remained hanging on the bonnet for about 200 metres. The miscreants jolted the car near the culvert of Delhi-Ajmer Expressway, knocked down the car owner and fled away. The car owner lodged a complaint of car theft at Vaishali Nagar police station. After about 12 days of hard work, the car owner himself found the stolen car in a workshop.

Police said that Himmat Singh Nathawat (29), resident of Machhwa Kalwad, has lodged the report. He told that on the night of May 5, his car parked outside his house was stolen. He had lodged a complaint of car theft in the police station. On May 9, around 8:45 pm, he was going home from office with his friend Rajpal Singh. During this time, his stolen car was seen near Data Petrol Pump in Vaishali Nagar. On this, he stopped his stolen car by putting the bike in front. During this time 3 people were sitting in the car. When they said that the car was theirs, all three started fighting. The three miscreants beat him up and started running away with the car.


Hanged on the bonnet, friend fell on the road
Victim Himmat Singh told that when the three miscreants ran away with the car, he stood in front to stop the car. Even after this, when the miscreants started running away with the car, he hanged himself on the bonnet. Even after hanging on his bonnet, the miscreants did not stop and started driving the car at high speed. During this time his friend Rajpal Singh fell on the road and got injured.

The victim told that even after hanging on his bonnet, the miscreants drove the car at a speed of 80 KM. The miscreants took him hanging on the bonnet for about 200 metres. After this, they jolted the car near the culvert of Delhi-Ajmer Expressway and made them fall down. After he fell on the road, the miscreants ran away with the car towards Bajri Mandi.

Stolen car found parked in workshop
Victim Himmat Singh told that after this he reached Vaishali Nagar police station and informed about the misdeeds of the thieves. After this, after working hard for about 12 days, he himself found his stolen car. His stolen car was parked in a workshop located in Vaishali Nagar. On this he lodged a complaint in Vaishali Nagar police station. Police have registered the case and are busy investigating.

Investigating officer Head Constable Vikram Singh says - Prima facie the investigation does not seem to be a case of car theft but of a transaction.