भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो की कार्रवाई: अस्पताल में रिश्वत के बदले अंग प्रत्यारोपण के आरोपी गिरफ्तार

 0
भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो की कार्रवाई: अस्पताल में रिश्वत के बदले अंग प्रत्यारोपण के आरोपी गिरफ्तार
ADVERTISEMENT ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT ADVERTISEMENT

भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो की कार्रवाई: अस्पताल में रिश्वत के बदले अंग प्रत्यारोपण के आरोपी गिरफ्तार

भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो ने रविवार देर रात 1:30 बजे एसएमएस हॉस्पिटल में कार्रवाई करते हुए, रिश्वत के बदले अंग प्रत्यारोपण की फर्जी एनओसी देने वाले सहायक प्रशासनिक अधिकारी गौरव सिंह और ईएचसीसी अस्पताल के ऑर्गन ट्रांसप्लांट को-ऑर्डिनेटर अनिल जोशी को पकड़ा। एसीबी ने मौके से 70 हजार रुपए और 3 फर्जी एनओसी पत्र बरामद किए।

एसीबी के एडीजी हेमंत प्रियदर्शी ने बताया कि इस संबंध में एसएमएस अस्पताल के उच्च प्रबंधन के अधिकारी ने अंदेशा जताते हुए सूचना दी कि यहां का कोई अधिकारी अंग प्रत्यारोपण के फर्जी एनओसी सर्टिफिकेट बिना कमेटी की बैठक के जारी कर रहा है, जो यहां की गठित समिति द्वारा अधिकृत नहीं किए गए हैं।

सूचना के बाद, डीआईजी रवि के नेतृत्व में गठित टीम ने गोपनीय तरीके से संदिग्ध अधिकारी की पहचान की और पीछा शुरू किया। इस दौरान, रविवार रात को एसएमएस के सहायक प्रशासनिक अधिकारी गौरव सिंह और ईएचसीसी अस्पताल के ऑर्गन ट्रांसप्लांट को-ऑर्डिनेटर अनिल जोशी को लेन-देन करते समय रंगे हाथों से पकड़ लिया गया। जांच में सामने आया कि सहायक प्रशासनिक अधिकारी गौरव सिंह ने रिश्वत के बदले पिछले कई महीनों से कमेटी के सदस्यों के फर्जी हस्ताक्षर करते हुए फर्जी एनओसी बनाकर कई अस्पतालों को दे चुका था।

Action of Anti Corruption Bureau: Accused of organ transplant in exchange for bribe in hospital arrested

The Anti-Corruption Bureau, while taking action at SMS Hospital at 1:30 am on Sunday night, caught Assistant Administrative Officer Gaurav Singh and Organ Transplant Co-ordinator of EHCC Hospital Anil Joshi, who had given fake NOC for organ transplant in exchange of bribe. ACB recovered Rs 70 thousand and 3 fake NOC letters from the spot.


ACB ADG Hemant Priyadarshi said that in this regard, the higher management officer of SMS Hospital expressed apprehension and informed that some official here is issuing fake NOC certificates for organ transplant without the committee meeting, which is done by the committee formed here. Have not been authorized by.


After the information, the team formed under the leadership of DIG Ravi secretly identified the suspected officer and started the chase. Meanwhile, on Sunday night, SMS Assistant Administrative Officer Gaurav Singh and EHCC Hospital's Organ Transplant Coordinator Anil Joshi were caught red-handed while making the transaction. Investigation revealed that in exchange of bribe, Assistant Administrative Officer Gaurav Singh had for the past several months made fake NOCs by forging the signatures of the committee members and given them to many hospitals.

ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT