पेपरलीक केस में 3 महिला ट्रेनी SI समेत 7 गिरफ्तार:एक प्लाटून कमांडर शामिल, नकल के बारे में पूछा तो घबरा गई

 0
पेपरलीक केस में 3 महिला ट्रेनी SI समेत 7 गिरफ्तार:एक प्लाटून कमांडर शामिल, नकल के बारे में पूछा तो घबरा गई

पेपरलीक केस में 3 महिला ट्रेनी SI समेत 7 गिरफ्तार:एक प्लाटून कमांडर शामिल, नकल के बारे में पूछा तो घबरा गई

 पुलिस उपनिरीक्षक भर्ती परीक्षा 2021 पेपर लीक मामले में एसओजी लगातार शिकंजा कसता जा रही है। जांच के बाद एसओजी को लगातार इस मामले में साक्ष्य मिलते जा रहे हैं। उसी के हिसाब से एसओजी पेपर खरीदकर या डमी अभ्यर्थी बैठाकर परीक्षा पास करने वालों की धरपकड़ कर रही है। एसओजी की दो टीमों ने शनिवार को जोधपुर स्थित ट्रेनिंग सेंटर और जयपुर स्थित राजस्थान पुलिस अकादमी में ट्रेनिंग कर रहीं 3 महिला एसआई को गिरफ्तार किया। एसओजी ने दो दिन पहले भी 4 आरोपियों को गिरफ्तार किया था।

एसओजी के एडीजी वीके सिंह ने बताया कि जोधपुर स्थित पुलिस ट्रेनिंग सेंटर प्लाटून कमांडर प्रभा विश्नोई को हिरासत में लिया है। जांच के दौरान सामने आया था कि जोधपुर में प्लाटून कमांडर प्रभा ने परीक्षा पास करने के लिए पोरव कालेर से ब्लूटूथ से पर्चा खरीदा था। इसके बाद ही वह परीक्षा में बैठी और अच्छे नंबरों से उत्तीर्ण होकर उपनिरीक्षक बनी। एसओजी की टीम प्लाटून कमांडर को जयपुर लेकर आई है। एसओजी अब विस्तार से पूछताछ कर नकल के खेल में शामिल अन्य आरोपियों का भी खुलासा करेगी।

इसी तरह जयपुर स्थित ट्रेनिंग सेंटर से भी दो महिला एसआई बीकानेर के गंगाशहर विश्वकर्मा निवासी मनीषा सियाग (25) और बीकानेर के नोखा स्थित जोरावपुरा निवासी अंकिता गोदारा (24) को गिरफ्तार किया है। वहीं श्रीगंगानगर लिख्मेवाला हाल वैशाली नगर निवासी प्रवीण कुमार विश्नोई (35), चूरू हाल बीकानेर स्थित नागणेच माता मंदिर सुदर्शन नगर निवासी पोवर कालेर (37), बीकानेर के कोलायत निवासी नरेशदान चारण (39) तथा बीकानेर लालगढ़ रामपुर बस्ती निवासी दिनेश सिंह चौहान (49) को पुलिस ने गिरफ्तार किया है।


अब तक 44 लोग पकड़े जा चुके हैं
एडीजी वीके सिंह ने बताया कि एसआई 2021 पर्चा लीक मामले में अब तक सरगना जगदीश विश्नोई सहित 44 लोगों को पकड़ा जा चुका है। जैसे-जैसे पुलिस जांच में जो नाम सामने आ रहे हैं। एसओजी उन पर शिकंजा कसती जा रही है। एसओजी ने पेपर लीक से लेकर पेपर सॉल्व कराने वाले और उस पेपर को पढ़कर या डमी अभ्यर्थी के तौर पर परीक्षा में बैठने वाले लाभार्थियों के खिलाफ कार्रवाई को तेज कर दिया है।


पोरव कालेर से इनपुट के बाद कार्रवाई
एडीजी वीके सिंह ने बताया कि पेपर लीक मामले में सरगना 50 हजार रुपए के ईनामी पोरव कालेर को गिरफ्तार किया था। उससे पूछताछ में सामने आया कि उसने अपने सहयोगी राजू मैट्रिक्स की मदद से बीकानेर में रामसहाय आदर्श सैकण्डरी स्कूल के सचिव दिनेश सिंह चौहान से 13 सितंबर 2021 को दोनों पारियों के हिंदी और सामान्य ज्ञान के प्रश्न पत्र प्राप्त किए थे। हिंदी के शिक्षक नरेशदान चारण से हिंदी पेपर हल कराया। सामान्य ज्ञान के प्रश्न पत्र को स्वयं और प्रवीण कुमार की मदद से हल किया। पुलिस ने बताया कि पेपर हल करने के बाद पोरव कालेर ने इन प्रश्न पत्रों को ब्लूटूथ के जरिए बड़ी राशि लेकर हल कराया। इसी प्रश्न पत्र को प्रभा विश्नोई, मनीषा सियोग व अंकिता गोदारा ने पढ़ा और चयनित हुई।

एसओजी टीम को देख छूटे पसीने
ट्रेनिंग सेंटर पर एसओजी की टीम को देखकर प्रभा विश्नोई बुरी तरह घबरा गई। एसओजी ने उससे परिसर में ही पूछताछ की। फिर परीक्षा में नकल के संबंध में सवाल किए गए तो वह बुरी तरह घबरा गई। उससे कोई जवाब नहीं निकला। इस पर एसओजी की टीम उसे हिरासत में लेकर जयपुर के लिए रवाना हो गई। इसी तरह मनीषा सियाग व अंकिता गोदारा भी कार्रवाई को देखकर भयभीत ही रही।

7 arrested including 3 female trainee SI in paper leak case: One platoon commander involved, panicked when asked about cheating

The SOG is continuously tightening the noose in the Police Sub Inspector Recruitment Exam 2021 paper leak case. After investigation, the SOG is continuously getting evidence in this case. Accordingly, the SOG is arresting those who passed the exam by buying the paper or by making dummy candidates sit. Two teams of SOG on Saturday arrested 3 female SIs who were training at the Jodhpur-based training center and the Rajasthan Police Academy in Jaipur. The SOG had also arrested 4 accused two days ago.

SOG ADG VK Singh said that Jodhpur-based Police Training Center Platoon Commander Prabha Vishnoi has been taken into custody. During the investigation, it was revealed that Platoon Commander Prabha in Jodhpur had bought the paper from Porv Kaleer via Bluetooth to pass the exam. Only after this she sat in the exam and passed with good marks and became a sub-inspector. The SOG team has brought the platoon commander to Jaipur. The SOG will now interrogate him in detail and reveal the names of other accused involved in the cheating case.

Similarly, two women SIs Manisha Siyag (25), resident of Gangashahar Vishwakarma, Bikaner and Ankita Godara (24), resident of Joravpura, Nokha, Bikaner have been arrested from the Jaipur-based training center. At the same time, Praveen Kumar Vishnoi (35), resident of Sriganganagar Likhmewala Hall, Vaishali Nagar, Powar Kaler (37), resident of Nagnech Mata Mandir Sudarshan Nagar, Churu Hall, Bikaner, Nareshdan Charan (39), resident of Kolayat, Bikaner and Dinesh Singh Chauhan (49), resident of Lalgarh Rampur Basti, Bikaner have been arrested by the police.

So far 44 people have been arrested
ADG VK Singh said that so far 44 people including the mastermind Jagdish Vishnoi have been arrested in the SI 2021 paper leak case. As the names are coming out in the police investigation, the SOG is tightening the noose around them. SOG has intensified the action against the beneficiaries of paper leak, getting the paper solved and reading that paper or appearing in the exam as a dummy candidate.

Action after input from Porav Kaleer

ADG VK Singh said that in the paper leak case, the mastermind Porav Kaleer, who has a reward of Rs 50,000 on his head, was arrested. During interrogation, it was revealed that with the help of his associate Raju Matrix, he had obtained the Hindi and General Knowledge question papers of both the shifts on 13 September 2021 from Dinesh Singh Chauhan, secretary of Ramsahay Adarsh ​​Secondary School in Bikaner. Got the Hindi paper solved by Hindi teacher Nareshdan Charan. Solved the General Knowledge question paper himself and with the help of Praveen Kumar. Police said that after solving the paper, Porav Kaleer got these question papers solved by taking a huge amount through Bluetooth. Prabha Vishnoi, Manisha Siyog and Ankita Godara read the same question paper and got selected.

Seeing the SOG team, Prabha Vishnoi got very nervous after seeing the SOG team at the training center. The SOG interrogated her in the campus itself. Then when she was asked questions regarding cheating in the exam, she got very nervous. No answer came out of her. On this, the SOG team took her into custody and left for Jaipur. Similarly, Manisha Siyag and Ankita Godara also remained frightened after seeing the action.