जयपुर में कत्लेआम, पहले बनाई रील और फिर दिया खूनी खेल को अंजाम, मौत की ऐसी दास्तान जिसके बारे में सुनकर गर्मी में भी कांप उठेंगे आप

 0
जयपुर में कत्लेआम, पहले बनाई रील और फिर दिया खूनी खेल को अंजाम, मौत की ऐसी दास्तान जिसके बारे में सुनकर गर्मी में भी कांप उठेंगे आप

जयपुर में कत्लेआम, पहले बनाई रील और फिर दिया खूनी खेल को अंजाम, मौत की ऐसी दास्तान जिसके बारे में सुनकर गर्मी में भी कांप उठेंगे आप

राजस्थान की राजधानी जयपुर में बुधवार (5 जून) रात एक घर में कत्लेआम हो गया।जयपुर के झोटवाड़ा थाना इलाके में खूनी वारदात को अंजाम दिया गया। मां अपने दोनो बच्चों को बचाने के लिए अपने ही देवर से रहम की भीख मांगती रही, लेकिन देवर ने मां के सामने ही अपने भतीजा और भतीजी को गाजर - मूली की तरह काट दिया। एक साल के भतीजे की तो आंते तक बाहर निकाल दीं। दोनो की हत्या करने के बाद मां का भी पेट फाड़ दिया और फिर सबको लॉक करने के बाद खुद भी ट्रेन के आगे कूदकर जान दे दी।

कत्लेआम से पहले आरोपी देवर ने रील बनाई और लिखा आज की रात आखिरी रात है। सोशल मीडिया पर इसी रील को पोस्ट करने के बाद लाशें बिछा दीं। झोटवाड़ा पुलिस ने बताया कि वारदात में गंभीर रूप से घायल 11 वर्षीय दिव्यांशी और 1 साल के मासूम सूर्य प्रताप की मौत हो गई। वहीं महिला शकुंतला उर्फ बेबी कंवर का गंभीर अवस्था में इलाज जारी है। 

शकुंतला के पति लक्ष्मण अपने ऑफिस में थे और देवर रघुवीर रात के समय ही घर आया था। उसने पहले किचन में जाकर भाभी शकुंतला के पीठ और पेट पर चाकू मारा। उसके बाद पास वाले कमरे में जाकर भतीजा और भतीजी की हत्या कर दी। फिर बाहर से दरवाजा लॉक किया और चला गया। फिर कनपुरा फाटक के नजदीक ट्रेन के आगे कूदकर सुसाइड कर लिया।

परिवार और संपत्ति का विवाद बनी वजह
पुलिस ने बताया कि परिवार और संपत्ति का विवाद चल रहा था। इस कारण से ये हत्याकांड का मामला सामने आया है। मर्डर और सुसाइड करने से पहले रघुवीर ने सोशल मीडिया पर रील बनाकर पोस्ट की थी, उसमें लिखा था कि आज आखिरी रात है, बाय - बाय जिंदगी। पुलिस ने बताया कि पूरा घर खून से सना हुआ था। बच्चों के शव बेहद ही बुरी हालत में मिले हैं। मां शकुंतला की हालत बेहद गंभीर है।

Massacre in Jaipur, first made a reel and then executed the bloody game, such a tale of death that you will shiver even in the heat after hearing it

A massacre took place in a house in Rajasthan's capital Jaipur on Wednesday (5 June) night. The bloody incident was carried out in Jaipur's Jhotwara police station area. The mother kept begging her brother-in-law for mercy to save her two children, but the brother-in-law cut his nephew and niece like carrots and radishes in front of the mother. He even pulled out the intestines of the one-year-old nephew. After killing both of them, he ripped open the mother's stomach and then after locking everyone, he himself jumped in front of the train and died.

Before the massacre, the accused brother-in-law made a reel and wrote that tonight is the last night. After posting this reel on social media, he strewn the dead bodies. Jhotwara police said that 11-year-old Divyanshi and 1-year-old innocent Surya Pratap, who were seriously injured in the incident, died. At the same time, the woman Shakuntala alias Baby Kanwar is undergoing treatment in a critical condition.

Shakuntala's husband Laxman was in his office and brother-in-law Raghuveer came home at night. He first went to the kitchen and stabbed Bhabhi Shakuntala on the back and stomach. After that, he went to the nearby room and killed his nephew and niece. Then he locked the door from outside and went away. Then he committed suicide by jumping in front of a train near Kanpura gate.

Family and property dispute became the reason
Police said that there was a dispute over family and property. Due to this, this murder case has come to light. Before committing murder and suicide, Raghuveer had made a reel and posted it on social media, in which he wrote that today is the last night, bye-bye life. Police said that the whole house was stained with blood. The bodies of the children were found in a very bad condition. Mother Shakuntala's condition is very critical.