Home क्राइम एक ही पंखे पर लटके मिले युवक-युवति,फैली सनसनी

एक ही पंखे पर लटके मिले युवक-युवति,फैली सनसनी

0

जिले के शंभुगढ़ क्षेत्र में बहन के घर में भाई, एक युवती के साथ फंदे पर लटका मिला। घटना का पता चलते ही गांव में सनसनी फैल गई। बहन मायके गई थी, इसलिए भाई को रखवाली की कहकर गई थी। फिलहाल, युवती की शिनाख्त नहीं हुई है। मौके पर पहुंची पुलिस ने दोनों के शव को फंदे से उतारकर पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया। प्रेम प्रसंग में दोनों ने सुसाइड किया या फिर हत्या है? इस बारे में पुलिस का कहना है कि पोस्टमार्टम के बाद ही कुछ कहा जा सकता है। पुलिस ने एफएसएल टीम को भी मौके पर बुलाया। मौके से कोई सुसाइड नोट बरामद नहीं हुआ है।

पुलिस ने बताया कि घटना शंभुगढ़ क्षेत्र के नायोकों का खेड़ा गांव की है। यहां सरोज नायक नाम की महिला शुक्रवार को अपने मायके गई थी। सरोज पशुओं की देखभाल के लिए अपने भाई अर्जुन (22) को घर पर छोड़कर गई थी। अर्जुन शनिवार सुबह घर में फंदे से एक युवती के साथ लटका हुआ मिला। दोनों का शव एक ही पंखे पर अलग-अलग फंदे पर लटके थे। पुलिस ने युवती का शव मोर्चरी में रखवा दिया है। शिनाख्त के बाद ही उसका पोस्टमार्टम किया जाएगा।

सुबह सबसे पहले पड़ोसी ने देखे शव
पुलिस ने बताया कि जब सुबह काफी देर तक सरोज के घर में कोई हलचल नहीं हुई तो पड़ोसी आए। अंदर आवाज लगाई लेकिन कोई रिस्पांस नहीं मिला। इसके बाद खिड़की से झांककर देखा तो युवक-युवती के शव लटके नजर आए। फिर पुलिस को सूचना दी।

युवती कौन थी? इसका पता नहीं
इस वारदात में सबसे चौंकाने वाली बात यह है कि युवती का कुछ पता नहीं चल पा रहा है। गांव के लोग भी युवती की शिनाख्त नहीं कर पा रहे हैं। युवती कब अर्जुन के पास आई थी? इस बारे में भी कुछ पता नहीं चल पाया है। अर्जुन के परिवार वाले भी युवती के बारे में नहीं जानते हैं। ऐसे में सबसे पहले पुलिस युवती की शिनाख्त करने का प्रयास कर रही है। पुलिस ने अर्जुन के मोबाइल को जब्त कर लिया है। उसकी जांच कर रही है। माना जा रहा है कि मोबाइल से युवती के बारे में कुछ पता चल सकता है।

जांच में एक एंगल यह भी
पुलिस का कहना है कि हत्या की शंका कम है। ऐसा भी हो सकता है कि आसपास के गांव में रहने वाली युवती अर्जुन से मिलने आई हो। यहां दोनों में किसी बात को लेकर विवाद हुआ हो। इसके बाद युवती की हत्या करने के बाद युवक ने सुसाइड कर लिया हो। हालांकि, इस थ्योरी में एक पेंच यह है कि अगर ऐसा होता तो शव को फंदे पर लटकाने की संभावनाएं बेहद कम होती हैं। फिलहाल, जब तक पोस्टमार्टम रिपोर्ट नहीं आ जाती है। तब तक कुछ भी नहीं कहा जा सकता है।

- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here