बीकानेर के पांचू में एक महिला व उसके दस महीने के बेटे की हत्या का मामला सामने आया है। पांचू पुलिस ने विवाहिता गायत्री जाट व उसके 10 माह के बच्‍चे प्रमोद जाट की दहेज हत्‍या का मामला उसी के पति, सास व देवर के खिलाफ दर्ज किया है।

बंगलानगर निवासी 35 वर्षीय प्रभुराम जाट ने पुलिस को बताया कि शुक्रवार 4 जून को उसके बहनोई ओमप्रकाश जाट ने उसे फोन कर कहा कि हमने तुम्‍हारी बहन व भाणजे को मार दिया है, तुम्‍हे जो करना है कर लो।

दहेज के लिए करते थे परेशान

प्रभुराम ने पुलिस को बताया कि उसकी छोटी बहन गायत्री की शादी 7 जुलाई 2019 को नोखा तहसील में नाथूसर गांव निवासी ओमप्रकाश जाट से हुई थी। शादी के थोडे समय बाद ही बहन का पति, ससुर, सास व देवर बहन गायत्री को और दहेज लाने के लिये तंग परेशान करने लगे। मारपीट करने लगे।

परिवादी ने पुलिस को बताया कि अगस्‍त 2020 में बहन के लडका हुआ था। चार माह बाद सामाजिक रीति रिवाज के साथ बहन का वापस ससुराल के लिये काफी सामान देकर विदा किया। इससे भी गायत्री के ससुराल वाले संतुष्‍ट नहीं हुए। गायत्री को पीटा। हमने समझाइश की मगर वो नहीं माने।

विवाहिता को थी पहले से ही आशंका

गत दिनों आरोपियों ने बहन को पीटा तो उसने कई बार इसकी जानकारी फोन पर दी और रोते हुए आशंका जताई कि उसका पति व ससुराल के लोग उसे व उसके बेटे की हत्‍या कर सकते हैं। शुक्रवार 4 जून को गायत्री ने सुबह 8 बजे फोन किया कि आरोपी उसे पीट रहे हैं। इसके बाद शाम को 5:30 बजे बहनोई ओमप्रकाश ने फोन कर कहा कि हमने तुम्‍हारी बहन व भाणजे को मार दिया है, तुम्‍हे जो करना है कर लो। थानाधिकारी विकास बिश्‍नोई ने बताया कि आरोपियों के खिलाफ आईपीसी की धारा 498ए, 304बी, 302 व 34 के तहत मामला दर्ज कर जांच शुरू की गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here