कोरोना कहर के बीच अब दक्षिण कोरिया के लोगों के लिए अच्छी खबर है कि वे वहां जल्द ही घर के बाहर भी बेखौफ घूम सकते हैं। दक्षिण कोरिया ने बुधवार को कहा कि अब जुलाई से घर से बाहर मास्क लगाने की आवश्यकता नहीं होगी। कोरोना टीके की एक डोज लेने वालों को भी यह छूट दी गई है।

दक्षिण कोरिया का यह कदम टीकाकरण को बढ़ावा देने के मकसद से है। सरकार ने कहा कि यह कदम लोगों को टीकाकरण के लिए प्रोत्साहित करने के लिए है क्योंकि दक्षिण कोरिया का लक्ष्य सितंबर तक अपने 52 मिलियन लोगों में से कम से कम 70% का टीकाकरण करना है। अभी देश में केवल 7.7% लोगों को ही टीका लग पाया है।

कोरोना वायरस को लेकर रिसपॉन्स बैठक में प्रधानमंत्री किम बू-क्यूम ने बताया कि वैक्सीन की कम से कम एक खुराक ले चुके लोगों को भी जून से बड़ी संख्या में इकट्ठा होने की अनुमति दी जाएगी। हालांकि, क्वारंटाइन के नियमों में अक्टूबर तक छूट नहीं मिल पाएगी। उन्होंने कहा कि जब देश में 70% से अधिक लोगों को वैक्सीन पहली खुराक मिल गई जाएगी तो सभी क्वारंटाइन उपायों को अक्टूबर में खत्म कर दिया जाएगा।

स्वास्थ्य मंत्री क्वोन देओक-चिओल ने कहा कि 60 से 74 वर्ष की आयु के 60% से अधिक लोगों ने टीकाकरण के लिए रजिस्ट्रेशन किया है। बता दें कि मंगलवार को दक्षिण कोरिया में एक दिन में कोरोना वायरस के 707 नए मामले मिले, जिससे यहां कुल मामलों की संख्या 1 लाख 37 हजार 682 पार कर गई है। इस देश में कोरोना से अब तक 1940 लोगों की मौत हो चुकी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here