Home देश जीभ पर दिखाई देता है कोरोना का यह अजीब लक्षण, इन 5...

जीभ पर दिखाई देता है कोरोना का यह अजीब लक्षण, इन 5 संकेतों से समझें और टेस्ट कराएं

0

कोरोना वायरस का प्रकोप थमने का नाम नहीं ले रहा है। कोरोना की दूसरी लहर में मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। कोरोना के नए रूप सामने आने के बाद लक्षणों में भी वृद्धि हुई है। अब बुखार, थकान और सूखी खांसी कोरोना के लक्षण नहीं रह गए हैं।

कोरोना का नया लक्षण कोविड टंग

डीएनए इंडिया की एक रिपोर्ट के अनुसार, अमेरिकन एकेडमी ऑफ ओरल मेडिसिन (AAOM) के अनुसार, कोविड टंग एक इंफ्लेमेटरी डिजीज है, जो आमतौर पर जीभ के ऊपर और किनारों पर दिखाई देती है।

वैज्ञानिकों का मानना है कि जीभ में बहुत सारे एसीई रिसेप्टर्स होते हैं, इसलिए वायरस इस क्षेत्र में बहुत अधिक ध्यान केंद्रित करता है। जीभ में, बहुत कोरोना का लोड अधिक हो सकता है। और इससे जीभ के छाले और जीभ में सूजन जैसे लक्षण हो सकते हैं।

ब्रिटेन, ब्राजील और साउथ अफ्रीका में कोरोना के नए रूप आने के बाद इस बीमारी के लक्षण भी तेजी से बढ़े हैं। ब्रिटेन के एक नवीनतम अध्ययन में पाया गया है कि अब कुछ रोगियों में एक दुर्लभ और अजीब लक्षण दिख रहा है, जो मुंह के अंदर है और इसे कोविड टंग कहा जा रहा है।

कोविड टंग में क्या होता है

कोविड टंग में, आपका शरीर लार का उत्पादन करने में विफल रहता है जो आपके मुंह को खराब बैक्टीरिया से बचाता है। इससे आपके मुंह में सूखापन या चिपचिपाहट महसूस हो सकती है। इस लक्षण वाले लोगों को भोजन चबाने और बोलने में भी मुश्किल हो सकती है।

कोविड टंग के लक्षण कोरोना के क्लासिक लक्षणों से अलग हैं। शोधकर्ताओं का कहना है कि कुछ रोगियों में उनकी जीभ पर दर्दनाक मुंह के छाले या सूजन जैसे लक्षण दिख रहे हैं। इसके अलावा मरीज के जीभ के फटने, बढ़ जाने और मुंह के अन्य समस्याओं जैसे अल्सर की शिकायत कर रहे हैं।

कोविड टंग का क्या कारण है

कोशिकाओं में एसीई रिसेप्टर्स नामक एंजाइम होते हैं, जो कि SARS-CoV-2 का कारण बनने वाला वायरस होता है। वहां से वायरस आपके कोशिकाओं में पहुंच जाता है और आपको बीमार करता है।

भारत में एक दिन में कोविड-19 के 3.14 लाख से ज्यादा मरीज
देश में बृहस्पतिवार को कोविड-19 के अब तक के सर्वाधिक 3.14 लाख से ज्यादा मामले आने के साथ ही संक्रमितों की संख्या बढ़कर 1,59,30,965 हो गयी। दुनिया के किसी भी देश में एक दिन में कोरोना वायरस संक्रमण का यह सर्वाधिक आंकड़ा है।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के सुबह आठ बजे अद्यतन किए गए आंकड़ों के मुताबिक, पिछले 24 घंटे में संक्रमण के 3,14,835 मामले आए जबकि 2104 और मरीजों की मौत हो जाने से अब तक इस महामारी की वजह से जान गंवाने वालों की संख्या बढ़कर 1,84,657 हो गई है।

देश में कोविड-19 से ठीक होने की दर 84.46 प्रतिशत हो गयी है। संक्रमण से ठीक हुए लोगों की संख्या 1,34,54,880 हो गयी है। मृत्यु दर 1.16 प्रतिशत हो गयी है।

आईसीएमआर के मुताबिक, 21 अप्रैल तक 27,27,05,103 नमूनों की जांच की जा चुकी है जिनमें से 16,51,711 नमूनों की जांच बुधवार को की गई। स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि मरने वाले 70 फीसदी से अधिक लोग अन्य रोगों से पीड़ित थे। मंत्रालय ने अपनी वेबसाइट पर बताया कि उसके आंकड़ों का आईसीएमआर के आंकड़ों के साथ मिलान किया जा रहा है।

- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here