Home देश कोरोना: कांग्रेस नेता राहुल गांधी भी महामारी की चपेट में, ट्वीट करके...

कोरोना: कांग्रेस नेता राहुल गांधी भी महामारी की चपेट में, ट्वीट करके लोगों से की यह अपील

0

 कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी कोरोना संक्रमित हो गए हैं। उन्होंने कहा कि संपर्क में आए लोग अपना जांच जरूर करा लें।

राहुल गांधी ने मंगलवार को ट्वीट कर यह जानकारी दी। कांग्रेस नेता ने ट्वीट किया, ”हल्के-फुल्के लक्षण दिखने के बाद जांच कराया, जिसमें मेरे कोरोना से संक्रमित होने का पता चला।” राहुल गांधी ने कहा, ”हाल के दिनों में मेरे संपर्क में आए लोग सभी सुरक्षा प्रोटोकॉल का अनुसरण करें और सुरक्षित रहें।”

देश के कई नेता कोविड के चपेट में आ गए हैं। कल पूर्व पीएम मनमोहन सिंह कोरोना संक्रमित पाए गए थे। हाल ही में केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावेडकर भी कोविड पॉजिटिव पाए गए थे। देश ने कई नेताओं, स्टार को खो दिया है। कोविड कहर दुनिया भर में जारी है।

 

 

केंद्रीय जितेन्द्र सिंह कोरोना संक्रमित हुए

केंद्रीय मंत्री जितेन्द्र सिंह कोविड-19 जांच में संक्रमित पाए गए है। सिंह ने मंगलवार को ट्वीट कर यह जानकारी दी । उन्होंने अपने सम्पर्क में आए लोगों को जांच कराने का सुझाव दिया है । सिंह ने ट्वीट किया, ” मैं आज जांच में लक्षणों के साथ कोरोना पोजिटिव पाया गया। अगर आप मेरे सम्पर्क में हाल में आए हैं तब जांच कराये और अपना ध्यान रखें।” गौरतलब है कि सिंह के पास प्रधानमंत्री कार्यालय में राज्य मंत्री सहित कई मंत्रालयों का पदभार है । वे जम्मू कश्मीर के उधमपुर सीट से लोकसभा का प्रतिनिधित्व करते हैं ।

कल पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह सोमवार को कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए जिसके बाद उन्हें यहां अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में भर्ती कराया गया था। सूत्रों ने बताया कि 88 वर्षीय सिंह को एम्स के ट्रॉमा सेंटर में भर्ती कराया गया है। ट्रॉमा सेंटर को कोविड के उपचार केंद्र के तौर पर इस्तेमाल किया जा रहा है।

सूत्रों के मुताबिक, सिंह को सोमवार सुबह हल्का बुखार था और बाद में जांच में उनके कोरोना से संक्रमित होने की पुष्टि हुई है। सिंह की हालत स्थिर है और वह चिकित्सकों की निगरानी में हैं। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने मंगलवार को आरोप लगाया कि केंद्र सरकार की टीकाकरण की रणनीति भेदभाव वाली है और उसने कमजोर वर्गों के लिए टीके की कोई गारंटी नहीं दी है। उन्होंने ट्वीट किया, ”18 से 45 साल के आयुवर्ग के लोगों के लिए कोई मुफ्त नहीं टीका नहीं होगा। कीमतों पर नियंत्र किए बिना बिचौलियों को ला दिया गया। कमजोर वर्गों के लिए टीके की कोई गारंटी नहीं है।”

 

 

- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here