Home राजस्थान CM गहलोत की कैबिनेट ने भी कहा- लगा दो लॉकडाउन, अब मुख्यमंत्री...

CM गहलोत की कैबिनेट ने भी कहा- लगा दो लॉकडाउन, अब मुख्यमंत्री करेंगे फाइनल फैसला

0

जयपुर. राजधानी के सीएमआर में कैबिनेट की बैठक सीएम अशोक गहलोत की अध्यक्षता में हुई. इसमें कोरोना से उपजे हालातों पर हुई चर्चा हुई. मंत्रियों ने सुझाव दिया कि सरकार संक्रमण रोकने के लिए प्रदेश में लॉकडाउन लगाएं, कैबिनेट के सुझावों के बाद सीएम अशोक गहलोत ओपर रिव्यू करेंगे, इसके बाद लॉकडाउन पर फैसला करेंगे.

कैबिनेट में मंत्रियों ने कहा है कि लॉकडाउन लगाया जाए, लेकिन मजदूरों का विशेष ध्यान रखना होगा, जिससे मजदूर पलायन के लिए विवश न हों. शादी-समारोह के लिए पटवारी और दूसरे विभाग के कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई जाए. ताकि जितनी छूट दी गई है, उससे ज्यादा लोग एकत्रित न हों. जिन छोटे शहरों में संक्रमण कम है, वहां वीकेंड कर्फ्यू दो की जगह तीन दिन कर सकते हैं.

गहलोत मंत्रिपरिषद् की बैठक के बारे में जानकारी देते हुए मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने बताया कि लॉकडाउन को लेकर बैठक में विचार हुआ है, जिसमें सभी मंत्रियों ने अपने सुझाव दिए हैं. उन्होंने कहा कि कोरोना प्रोटोकॉल को लेकर ज्यादा सख्ती होनी चाहिए, लेकिन लॉकडाउन अभी नहीं होना चाहिए. इसके कई तरह की समस्याएं खड़ी हो जाती हैं. अब सीएम को लेना है इसे लेकर निर्णय. लॉकडाउन पर फैसला अभी नहीं हुआ, सीएम लेंगे फैसला. कोरोना को लेकर लोग ज्यादा डरें नहीं. बचाव के लिए एहतियात बरतें.

केंद्र सरकार आरोप- ऑक्सीजन पर कर रही है भेदभाव 
मंत्री प्रतापसिंह खाचरियावास ने केंद्र सरकार पर गंभीर आरोप लगाया है. उन्होंने कहा कि ऑक्सीजन को लेकर केन्द्र सरकार भेदभाव कर रही है. केन्द्र सरकार ने ऑक्सीजन को लेकर नेशनल पॉलिसी बना दी. किस राज्य को कितनी ऑक्सीजन देनी है. यह भारत सरकार तय करेगी. राजस्थान के प्लांट्स की व्यवस्था भी केंद्र ने अपने हाथ में ले ली है.

प्रताप सिंह खाचरियावास ने कहा कि राजस्थान और गुजरात में लगभग बराबर मरीज आ रहे हैं, इसके बाद भी गुजरात को 900 मीट्रिक टन ऑक्सीजन और राजस्थान को 124 मीट्रिक टन ही दी जा रही. ऑक्सीजन हम बना रहे हैं और मिल गुजरात को ज्यादा रही. कम से कम मेडिकल इलाज में तो केन्द्र ईमानदारी बरते. क्या राजस्थान में लोग बीमार नहीं हो रहे?

मीटिंग में आए ये भी सुझाव आए

    • गहलोत मंत्रिपरिषद् की बैठक मंत्रियों ने कोरोना और लॉकडाउन को लेकर कई सुझाव दिए है.
    • जहां केस कम है वहां नहीं लगे लॉकडाउन. सिर्फ वीकेंड कर्फ्यू में की जाए बढ़ोतरी.
    • लॉकडाउन की बजाय प्रोटोकॉल की सख्ती से पालना करवाई जाए.
    • लॉकडाउन से पहले पूरी तैयारी की जाए.
    • ऑक्सीजन सप्लाई की केन्द्र की पॉलिसी पर नाराजगी. मंत्रियों ने जताई बैठक में नाराजगी.
  • इसमें राज्यों में ऑक्सीजन सप्लाई केन्द्र अपने हिसाब से करेगा.

 

- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here