Home बीकानेर ड्रग्स सप्लाई करने आए पाक तस्कर, बीएसएफ ने फायरिंग की 1 किलो...

ड्रग्स सप्लाई करने आए पाक तस्कर, बीएसएफ ने फायरिंग की 1 किलो हेरोइन छोड़कर भागे

0

श्रीगंगानगर। हिंदुमलकोट बॉर्डर की मदनलाल चौकी के पास पाकिस्तान की ओर से हेरोइन तस्करी की कोशिश की गई। यह घटना रविवार देर रात करीब 12 बजे हुई। बीएसएफ की 125वीं बटालियन के जवानों ने तारबंदी के निकट हलचल देखकर ललकारा तो आरोपी हेरोइन का पैकेट मौके पर ही पटककर भाग छूटे। इस दौरान क्रॉस फायरिंग भी हुई। लेकिन आरोपी रात के अंधेरे का फायदा उठाकर जीरो लाइन पार कर भाग छूटे। घटना के बाद बीएसएफ और पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी घटनास्थल पहुंचे। रातभर तारबंदी और जीरो लाइन के बीच सर्च ऑपरेशन चलाया गया। इस दौरान बीएसएफ को तारबंदी के निकट ही एक पैकेट हेरोइन बरामद हुई। इसमें एक किलो 40 ग्राम मादक पदार्थ हेरोइन पकड़ी गई है। दो पाक तस्करों के पैरों के निशान भी मिले हैं। बीएसएफ की ओर से सोमवार शाम को हिंदुमलकोट थाना में पाकिस्तानी अज्ञात तस्करों के खिलाफ मादक पदार्थ हेरोइन तस्करी के आरोप में मुकदमा दर्ज करवाया गया है।

रात 12 बजे तारबंदी पर हलचल तो बीएसएफ अलर्ट: रात 12 बजे का समय था। मदनलाल चेक पोस्ट एरिया में तारबंदी के निकट हलचल महसूस हुई। कृष्ण पक्ष की रात होने के कारण अंधेरा था लेकिन तारबंदी पर लगी लाइटों से दूर से महसूस हुआ कि कोई जीरो लाइन पार कर तारबंदी के निकट पहुंचा है।

बीएसएफ ने की फायरिंग: बीएसएफ जवानों ने तस्करों को सावधान होने के लिए ललकारा। बीएसएफ जवानों को आता देख तस्कर हड़बड़ाकर वापस जीरो लाइन की ओर भाग छूटे। इस दौरान आरोपियों के हाथ से एक पैकेट वहीं गिर गया और आरोपी जीरो लाइन की ओर भागते हुए बीएसएफ जवानों पर गोलियां बरसाने लगे। खेतों में तस्करों के पैरों के निशान मिले: तस्करों की ओर से तीन रांउड फायरिंग हुई। इस पर बीएसएफ जवानों ने भी मुस्तैदी दिखाते हुए 6 राउंड फायर किए। काफी समय तक कोई हलचल नहीं हुई, तब उच्चाधिकारियों को सूचित किया गया। सर्च ऑपरेशन के दौरान तारबंदी से जीरो लाइन तक दो पाक तस्करों के पैरों के निशान भी देखे गए।

फसलों की आड़ में आए थे तस्कर…भारतीय सीमा में चना और वहां पाकिस्तान जीरो लाइन पर गेहूं
जिस जगह पर हेरोइन की तस्करी की कोशिश की गई है, उस एरिया में जीरो लाइन से तारबंदी के बीच भारतीय सीमा में एक से डेढ़ फीट से अधिक ऊंचाई की फसल बीजने की मनाही है। इन दिनों इस एरिया में चने की फसल खड़ी है। उधर जीरो लाइन से उस पार पाकिस्तानी सीमा में गेहूं की फसल बताई जा रही है। इसलिए तस्कर रात को जीरो लाइन से आगे पाकिस्तानी सीमा में गेहूं के खेतों में छुपकर भागने में कामयाब हो गए।

8 साल बाद दोबारा यहां तस्करी….2012 में हिंदुमलकोट एरिया में हुई हेरोइन तस्करी
हिंदुमलकोट एरिया की बॉर्डर से हेरोइन तस्करी की आखिरी कोशिश 2012 दिसंबर में की गई थी। तब एक ही माह में पहली बार 13 किलो व दूसरी 5 किलो हेरोइन की तस्करी की गई थी। यह तस्करी हिंदुमलकोट बीओपी के पास ही एरिया में की गई थी। इसमें पंजाब के तरनतारण की भोलू गैंग का नाम सामने आया था। तब कुलदीपसिंह उर्फ कीपा को गिरफ्तार किया था। उसके 8 साल बाद दोबारा इसी एरिया को टारगेट किया है।

2020 में हुई थी घुसपैठ…गजसिंहपुर सीमा में दो पाक तस्करों का एनकाउंटर हुआ था, ड्रग्स जब्त
श्रीगंगानगर जिले में गजसिंहपुर थाना एरिया में लगती भारत-पाक अंतरराष्ट्रीय सीमा पर दो पाकिस्तानी तस्करों के हेरोइन और हथियार तस्करी के प्रयास को भी बीएसएफ जवानों द्वारा नाकाम कर दिया गया था। इस दौरान हथियारबंद दोनों पाकिस्तानी तस्करों को मार गिराया गया था। उनके पास से भारी मात्रा में हथियार व मादक पदार्थ हेरोइन के 7 पैकेट बरामद किए गए थे। इस संबंध में गजसिंहपुर थाना में मुकदमा भी दर्ज है।

बीएसएफ अलर्ट….पुलिस ने जगह-जगह की नाकेबंदी, चलाया सर्च ऑपरेशन, देर रात तक कोई संदिग्ध हाथ नहीं लगा
जिला पुलिस ने इलाके में जगह-जगह सघन नाकेबंदी की। पुलिस ने वाहनों की सघनता से जांच की। क्योंकि यह एरिया पंजाब के साथ लगता है। हर बार तस्कर पंजाब से श्रीगंगानगर एरिया में तस्करी की खेप लेने आते रहे हैं। इसलिए रविवार रात से सोमवार देर रात तक नाकेबंदी और तलाशी जारी रही। इस दौरान एनकाउंटर एरिया में भारतीय सीमा में खेतों में भी डिलीवरी लेने आए तस्करों की तलाश की गई लेकिन कोई हाथ नहीं आया।

 

- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here