पति की शर्ट के लिए सुसाइड, बीमार रहती थी पत्नी:पेट-सिर के दर्द से परेशान रहती थी, कई डॉक्टरों से इलाज कराया लेकिन ठीक नहीं हुई...

पति की शर्ट के लिए सुसाइड, बीमार रहती थी पत्नी:पेट-सिर के दर्द से परेशान रहती थी, कई डॉक्टरों से इलाज कराया लेकिन ठीक नहीं हुई...
07 ..............................
5
width="300px" M24C01D20S21 width="220px" M26C01D20S21 width="220px" width="220px"

पति की शर्ट के लिए सुसाइड, बीमार रहती थी पत्नी:पेट-सिर के दर्द से परेशान रहती थी, कई डॉक्टरों से इलाज कराया लेकिन ठीक नहीं हुई


अंजली ने फांसी लगाकर सुसाइड कर लिया था।

जयपुर। शहर के आरके पुरम थाना क्षेत्र में मंगलवार को 23 साल की विवाहिता अंजली ने फांसी लगाकर सुसाइड कर लिया था। बात इतनी थी कि पति से उसकी पसंद की शर्ट पहनने को कहा जिसे लेकर बहस हो गई। महज इतनी सी बात पर महिला के सुसाइड ने सभी को चौंकाकर रख दिया। भास्कर भी पीड़ित परिवार के घर पहुंचा। उनसे महिला के बारे में जाना तो पता चला कि अंजली की तबीयत अक्सर खराब रहती थी। जिससे वो परेशान चल रही थी। घटनावाले दिन भी सुबह से उसके पेट में काफी दर्द हो रहा ता।

शुभम ने भास्कर को बताया कि मुझे पता नहीं था वो ऐसा कदम उठा लेगी। पता होता तो मैं उससे अच्छी तरह से फोन पर बात कर लेता। शुभम ने बताया कि अंजली की अक्सर तबीयत खराब रहती थी। पेट व सिर दर्द के कारण चिढ़ चिढ़ापन रहता था। इसलिए छोटी-छोटी बातों पर परेशान हो जाती थी। आयुर्वेदिक व यूनानी इलाज करवाया। कई डॉक्टर को दिखाया, लेकिन कोई फर्क नहीं हुआ। सोनोग्राफी समेत अन्य जांच करवाई। बीमारी ट्रेस नहीं हुई। डॉक्टर केवल गोलियां दे देते थे।

अंजली की मौत के बाद पति शुभम सदमे में है।

घटना वाले दिन हो रहा था पेट दर्द
मंगलवार को भी उसका पेट दर्द हो रहा था। उसकी दीदी को दो बार फोन करके अंजली को संभालने के लिए भी बोला था। लेकिन वो ऐसा कदम उठा लेगी सोचा नहीं था। अगर थोड़ा भी अंदेशा होता तो मैं उससे बात कर लेता।

अंजली की अक्सर तबीयत खराब रहती थी।

6 महीने पहले ही नई जॉब में लगा था पति
शुभम ने बताया कि 7-8 साल से प्राइवेट जॉब कर रहा है। 6 महीने पहले ही फाइबर केबल लगाने वाली कम्पनी में लगा था। इस कारण खड़े गणेश मंदिर इलाके से मकान खाली करके आवली रोझड़ी इलाके में रहने लगा था। आर्थिक स्थित शुरू से ही ठीक नहीं थी। लोन लेकर सम्मेलन में 2 साल पहले शादी की थी। शादी में फोटोग्राफी भी नहीं करवाई।

BA की स्टूडेंट थी अंजली, कभी झगड़े की बात नहीं आई
मृतका अंजली के पिता प्रेमशंकर ड्राइवर है। प्रेमशंकर ने बताया कि उनके दो बच्चों में अंजली सबसे बड़ी थी। अंजली ने BA फाइनल फार्म भरा था। वो अक्सर मायके में आती-जाती रहती थी। पति-पत्नी के बीच कभी झगड़ा होने की बात सामने नहीं आई। अंजली ने भी कभी कोई ऐसी बात भी नहीं बताई। मामले की जांच के लिए पुलिस में शिकायत दी है।