अजीबोगरीब मामला: एक युवक ने 24 घंटे में तीन बार खुदकुशी करने का प्रयास किया फिर भी नहीं छोड़ पाया जिंदगी....

अजीबोगरीब मामला: एक युवक ने 24 घंटे में तीन बार खुदकुशी करने का प्रयास किया फिर भी नहीं छोड़ पाया जिंदगी....
07
5
width="150px" 5m12c20d21 width="150px" 13m10c20d21s width="220px"

अजीबोगरीब मामला: एक युवक ने 24 घंटे में तीन बार खुदकुशी करने का प्रयास किया फिर भी नहीं छोड़ पाया जिंदगी....

मध्‍यप्रदेश के बैतूल में एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है। यहां एक युवक ने तीन बार खुदकुशी करने का प्रयास किया लेकिन जिंदगी ने तब भी साथ नहीं छोड़ा। पहले ज्यादा शराब पीकर जान देने की कोशिश की।

असफल रहा तो जहर खाया। बच गया तो फांसी लगा ली। इस सबके बाद युवक का गंभीर हालत में जिला अस्पताल में इलाज चल रहा है।

मामला बैतूल के चिचोली थाना इलाके के पाठाखेड़ा का है। डॉक्टरों के मुताबिक, चिचोली सीएचसी से रैफर होकर जिला अस्पताल भेजे गए 35 साल के रविन्द्र कटारे ने आत्महत्या के लिए एक साथ तीन प्रयास किए हैं। डॉ. अजय महोरे ने बताया कि रविन्द्र ने पहले बेसुध होने तक शराब पी। जब उसे होश आया तो उसने कोई जहरीला पदार्थ खा लिया। उसके बाद भी बच गया तो फांसी के फंदे पर लटक गया। जहरीला पदार्थ तो निकाल दिया गया है, लेकिन उसकी हालत गंभीर है। डॉक्टर के मुताबिक मरीज बिल्कुल सहयोग नहीं कर रहा है, जिसके चलते इलाज में दिक्कत आ रही है।

युवक की हालत गंभीर होने पर पुलिस नहीं ले पाई बयान

युवक की खुद की टैक्सी है। वह शुक्रवार सुबह ही घर लौटा था। भाई विनोद ने बताया कि रविन्द्र द्वारा कुछ खा लेने और फांसी लगाने की जानकारी मिलने पर वह उसे लेकर अस्पताल पहुंचा है। शायद भाभी सीमा से कुछ अनबन हो गई थी। जिसके चलते उसने पहले खूब शराब पी और फिर कुछ खा लिया। उसने क्या खाया इसकी जानकारी नहीं है। इसके बाद उसने घर में ही फांसी लगाने का प्रयास भी किया। समय पर देखने से उसे फंदे से नीचे उतार लिया। युवक की हालत गंभीर होने पर पुलिस उसके बयान नहीं ले पाई है चिचोली थाना टीआई अजय सोनी का कहना है क‍ि चिचोली अस्पताल से सूचना नहीं आई है, इस मामले की जानकारी लेकर जांच की जाएगी।