मां के साथ अवैध संबंध पर बेटे ने ताऊ का किया कत्ल, कहा- हां मैंने मारा

मां के साथ अवैध संबंध पर बेटे ने ताऊ का किया कत्ल, कहा- हां मैंने मारा
07 .
5

सादुलपुर रेलवे कॉलोनी में पशु खरीद कर बिक्री करने वाले एक व्यक्ति की कल हुई निर्मम हत्या मामले में पुलिस ने चंद घंटों बाद ही आरोपी को गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त की है. आज देर शाम को पुलिस ने हत्या का पर्दाफाश करते हुए मृतक के सगे भतीजे अंकित कुमार को गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त की है.

अवैध संबंधों के कारण हत्या
ASP अशोक बुटालिया तथा थानाधिकारी कृष्ण कुमार बलौदा ने मामले का पर्दाफाश करते हुए बताया की मृतक के भतीजे अंकित कुमार ने प्रारंभिक पूछताछ में पुलिस को बताया कि मृतक विजय सिंह के उसकी मां के साथ अवैध संबंधों के कारण हत्या करना स्वीकार किया है.

घटना को अंजाम देने के बाद आरोपी फरार होने की फिराक में था
उन्होंने बताया कि घटना को अंजाम देने के बाद आरोपी रेलवे कॉलोनी के आसपास क्षेत्रों में ही घूमता रहा तथा बाद में रेलवे स्टेशन पर किसी ट्रेन में सवार होकर फरार होने की कोशिश करते समय पुलिस ने आरोपी को रात को दबोच लिया. पुलिस ने घटनास्थल की फोटोग्राफी तथा वीडियोग्राफी करवाई तथा चूरू से एफएसएल टीम को बुलाया तथा साक्ष्य जुटाये.

थानाधिकारी कृष्ण कुमार बलौदा ने बताया कि देर शाम को धन सिंह जाट उम्र 50 वर्ष निवासी नवा ने मौके पर पहुंचकर मृतक के शव का अपने छोटे भाई विजय सिंह के रूप शिनाख्त की तथा देर रात्रि को धन सिंह ने मामला दर्ज करवाया. धन सिंह ने बताया उसका छोटा भाई विजय सिंह जो अविवाहित है तथा उसके छोटे भाई संजय जो आर्मी में नौकरी करता है उसके साथ सादुलपुर लोको कॉलोनी में रहता है.

सूचना मिली कि शव लोको कॉलोनी में पड़ा
दिनांक 8 अगस्त को शाम चार बजे सूचना मिली कि उसके भाई विजय सिंह की किसी ने हत्या कर दी है जिसका शव लोको कॉलोनी में संजय के घर पर पड़ा है. सूचना पर उसके चाचा के लड़के कुलदीप और कृष्ण कुमार के साथ संजय के मकान पर सादुलपुर पहुंचे तो देखा कि संजय के मकान के अंदर हाल में चारपाई पर उसके भाई विजय सिंह का खून से लथपथ शव पड़ा है. सिर पर काफी धारदार हथियार से चोट आई हुई थी तथा बाएं हाथ की कलाई पर चोट का गहरा घाव बना हुआ था.

मौका पर उसके भाई संजय, उसकी पत्नी सुशीला और भी काफी लोग थे लेकिन उसका भतीजा अंकित नहीं था जिस पर हमने पता किया तो जानकारी मिली की अंकित दोपहर से ही गायब है. दर्ज मामले में धन सिंह ने बताया कि उसके भतीजे तथा भाई विजय सिंह की पहले से ही आपस में बोलचाल हुई थी तब अंकित कहता था कि ताऊ विजय सिंह की हरकतें ठीक नहीं है मुझे यह पसंद नहीं है. अंकित ने कहा या तो इसको समझा लो वरना बड़ा नुकसान हो जाएगा.

मुझे शक है कि मेरे भतीजे अंकित ने मेरे भाई विजय सिंह की हत्या कर दी है. पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू की थी तथा मृतक का पोस्टमार्टम करवा कर शव उसके परिजनों को सौंप दिया.

चंद घंटों में किया खुलासा
पुलिस अनुसार घटना के बाद जिला पुलिस अधीक्षक दिंगत आनंद एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अशोक बुटालिया सीओ बृजमोहन असवाल के निकटतम सुपरविजन में मामले के खुलासे के लिए स्थानीय पुलिस द्वारा टीम वर्क कार्य करते हुए विशेष आम सूचना संकलित की गई. प्राप्त सूचनाओं का तकनीकी विश्लेषण किया. 

घटना के चंद घंटों बाद ही आरोपी अंकित कुमार उम्र 20 वर्ष निवासी नवा तहसील राजगढ़ जिला चुरु हाल निवासी वार्ड नंबर 18 दुर्गा कॉलोनी को गिरफ्तार कर लिया गया तथा आरोपी अंकित कुमार द्वारा घटना करना स्वीकार करते हुए अपने ताऊ विजय सिंह की हत्या करना स्वीकार किया है. थाना अधिकारी ने बताया कि प्राथमिक पूछताछ के अनुसार आरोपी अंकित कुमार ने अपनी माता के साथ अपने ताऊ विजय सिंह के अवैध संबंधों के चलते हत्या करना सामने आया है आरोपी से पूछताछ और अनुसंधान जारी है.