Petrol-Diesel: और सस्ता होगा पेट्रोल-डीजल,स्ट्रैटजिक रिजर्व से 5 मिलियन बैरल तेल बाजार में उतारने का फैसला

Petrol-Diesel: और सस्ता होगा पेट्रोल-डीजल,स्ट्रैटजिक रिजर्व से 5 मिलियन बैरल तेल बाजार में उतारने का फैसला
07
5
width="150px" 5m12c20d21 width="150px" 13m10c20d21s width="220px"

सरकार ने हाल में बी पेट्रोल-डीजल पर टैक्स घटाकर कीमतों में थोड़ी राहत दी। केंद्र के बाद राज्य सरकारों ने भी टैक्स कटौती कर अपने-अपने राज्यों में पेट्रोल-डीजल की कीमत में कटौती कर दी।

वहीं अब केंद्र सरकार एक और बड़ा कदम उठाने जा रही है, जिसके बाद पेट्रोल-डीजल की कीमत में और कमी आएगी। दरअसल सरकार कच्चे तेल की कीमतों में बड़ी गिरावट करने की तैयारी कर ली है। सरकार ने इमरजेंसी स्ट्रैटजिक रिजर्व से 5 मिलियन बैरल कच्चा तेल बाजार में उतारने का फैसला किया है।

सरकार के इस कदम से बाजार में कच्चे तेल की कीमतों में कमी आएगी, जिसका असर पेट्रोल-डीजल के दामों पर भी होगा। आपको बता दें कि भारत के पास 38 मिलियन बैरल कच्चा तेल का है इमरजेंसी स्ट्रैटजिक रिजर्व हैं । इसे इमरजेंसी के लिए सरकार स्टोर करके रखती है। ईस्ट और वेस्ट कोस्टल एरिया में इसे अंडरग्राउंड स्टोर करके रखा जाता है।

अमेरिका और जापान के कदम को देखने के बाद अब भारत सरकार ने भी अपने स्ट्रैटजिक रिसोर्ट से अगले 10 दिनों के भीतर 5 मिलियन बैरक कच्चा तेल निकालकर बाजार में उतारने का फैसला किया है। ये कच्चा तेल मैंगलोर रिफाइनरी और पेट्रोकेमिकल्स और हिदुस्तान पेट्रोलियम कॉरपोरेशन को बेचा जाएगा, जिसकी रिफाइनरी इन रिजर्व स्टोर से जुड़ी है।

.

.

.

The government recently gave some relief in prices by reducing the tax on petrol and diesel. After the center, the state governments also cut the price of petrol and diesel in their respective states by cutting taxes.

At the same time, now the central government is going to take another big step, after which the price of petrol and diesel will come down further. In fact, the government has made preparations to make a big fall in the prices of crude oil. The government has decided to offload 5 million barrels of crude oil from the Emergency Strategic Reserve.

This move of the government will reduce the prices of crude oil in the market, which will also affect the prices of petrol and diesel. Let us tell you that India has an emergency strategic reserve of 38 million barrels of crude oil. The government stores it for emergencies. It is stored underground in the East and West Coastal areas.

After seeing the move of America and Japan, now the Indian government has also decided to extract 5 million barracks of crude oil from its strategic resort within the next 10 days and bring it to the market. This crude will be sold to Mangalore Refinery and Petrochemicals and Hindustan Petroleum Corporation, whose refinery is attached to these reserve stores.