हे भगवान! राजस्थान के इस जिले में एक ही कटोरी में नाग और इंसान पीते हैं दूध

हे भगवान! राजस्थान के इस जिले में एक ही कटोरी में नाग और इंसान पीते हैं दूध
...
width="120px" width="175px"

इसे विश्वास कहे या अंधविश्वास... बारां जिले के सीसवाली कस्बे में तेजाजी के थानक की बिनौरी में घोड़े पर सवार होकर घोड़ले (भोपा) और नाग द्वारा एक साथ एक कटोरी में दूध पीने का वाक्या सामने आया. वहीं, रोज सांप दंश पीड़ित झांड पौछ से लोगों का उपचार भी किया जाता है. इसे ग्रामीणों ने बड़े ही कोतुहलता से देखतें, लेकिन यह मामला क्या है, कैसे यह संभव है लोगों की समझ नहीं आ रहा है. 

बारां में खतरनाक नाग व इंसान एक ही कटोरी से एक साथ पीते दूध हैं. जिले के सीसवाली कस्बे में तेजाजी के थानक पर घोड़ले और नाग द्वारा एक साथ एक कटोरी में दूध पीने का वाक्या सामने आया. इसे ग्रामीणों ने बड़े ही कोतुहलता से देखा. सीसवाली कस्बे के कृषि उपज मंडी प्रांगण में स्थित तेजाजी महाराज के थानक पर तेजाजी महाराज का जागरण किया गया. 

यहां जागरण के दौरान गुर्जर समाज के मंदिर की परिक्रमा की जगह से नागराजा को पुजारी रामबाबू कुम्हार के द्वारा लाया गया, जहां तेजाजी महाराज के घोड़ले ने नागराजा को अपने गले में डाल कर घोड़ले और नाग ने शोभायात्रा में घोड़े पर सवार होकर एक ही कटोरी में एक साथ दूध पीया. 

इस दृश्य को सैकड़ों लोगों ने अपनी आंखों से देखते हैं. जागरण में आए सभी ग्रामीण श्रद्धालुओं ने नागराजा के दर्शन किए. ग्रामीण यहां पर जहरीले कीड़े के काटने पर ढंसी भी तेजाजी के थानक पर काटवाने आते हैं और रोज सांप दंश से पीड़ित लोगें इलाज के लिए यहां पर आते हैं. 

सांप के साथ एक कटोरी में दूध पीने वाले रामबाबू प्रजापति भोपा का कहना है कि तेजादशमी के दिन यहां पर सांप स्वंय मंदिर से निकलता है और मैं और सांप दोनों एक ही कटोरी से दूध पीतें है और ये चमत्कार पिछलें कई बर्ष से होता आ रहा है. 

साथ ही, रोज जहरीलें सांप और अन्य कीडें क दंश से प्रभावित लोग यहां आते है और इनका झांड फूक से शरीर से जहर निकाल कर सही किया जाता हैय यह सब तेजाजी महाराज की कृपा है. 

जहरीलें सापं और अन्य कीडें के दंश से प्रभावित लोगों जो यहां पर उपचार कराने आए उनका कहना है कि यह तेजाजी महाराज का स्थान चमत्कारिक है, यहां पर जहरीलें कीड़े के दंश से प्रभावित लोग सही होकर जाते हैं. आज तक यहां पर दंश प्रभावित लोग आए है वो सब लोग सही होकर गए हैं. यह चमत्कार है ओर लोगों की आस्था है.