राजस्थानी लेखिकाओं का राष्ट्रीय सम्मेलन 29 को श्रीडॅूंगरगढ़ में

समृद्ध राजस्थानी साहित्य में लेखिकाओं के योगदान पर होगी चर्चा। राजस्थली का महिला लेखन अंक भी होगा लोकार्पित।

राजस्थानी लेखिकाओं का राष्ट्रीय सम्मेलन 29 को श्रीडॅूंगरगढ़ में
width="75px" width="575px" width="575px"
width="575px" width="575px"
width="175px" width="475px" width="375px"

भाषा, साहित्य, संस्कृति और लोक चेतना की राजस्थानी त्रैमासिकी राजस्थली के प्रकाशन के 45 वर्श पूर्ण होने पर लेखिकाओं का राष्ट्रीय सम्मेलन आयोजित किया जाएगा। इस आशय की जानकारी देते हुए पत्रिका के प्रधान संपादक श्याम महर्षि ने बताया कि राजस्थानी की सबसे पुरानी व निरंतर प्रकाशित पत्रिका राजस्थली की इस जीवट-भरी यात्रा के महत्वपूर्ण अवसर पर राजस्थानी लेखिकाओं का राष्ट्रीय सम्मेलन रविवार, 29 अगस्त को कोविड गाईड-लाइन के तहत आयोजित किया जाएगा, जिसमें पूरे देश से राजस्थानी लेखिकाएं शिरकत करेंगी।

 प्रबंध संपादक रवि पुरोहित ने बताया कि इस अवसर पर किरण राजपुरोहित नितिला के अतिथि संपादन में प्रकाशित पत्रिका का महिला लेखन विशेषांक भी लोकार्पित होगा, जिसमें 125 से अधिक लेखिकाएं शामिल हैं।
आयोजन की रूपरेखा साझा करते हुए सम्मेलन की संयोजिका मोनिका गौड़ ने बताया कि प्रो. विमला, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष, बीएसजी, नई दिल्ली के मुख्य आतिथ्य और प्रख्यात साहित्यकार डॉ. शारदा कष्ण, सीकर की अध्यक्षता में होने वाले इस समारोह का उद्घाटन डॉ. दिव्या चौधरी, उपखण्ड अधिकारी, श्रीडॅूंगरगढ़ करेंगी। सावित्री गोदारा, प्रधान, पंचायत समिति, श्रीडॅूंगरगढ़ के स्वागत-सान्निध्य में प्रस्तावित आयोजन में बसंती पंवार, जोधपुर,  मधु झाबक, उपाध्यक्ष, तेरापंथ महिला मंडल,  किरण राजपुरोहित ‘नितिला’ विशिष्ट अतिथि होंगी। कथाकार-गीतकार मनीषा आर्य सोनी के संचालन में होने वाले इस सत्र में बीज भाषण  डॉ. प्रकाश अमरावत, जोधपुर  देंगी। विजयलक्ष्मी देथा, उदयपुर और  रेखा लोढा ‘स्मित’, भीलवाड़ा पत्रिका द्वारा आयोजित कार्यशालाओं की दृष्टिगत अंवेर करेंगी।


पत्रिका के प्रकाशन संस्थान के उपाध्यक्ष बजरंग शर्मा ने बताया कि संस्था के हीरक जयंति वर्ष में आयोजित सम्मेलन के उद्घाटन-सत्र के पश्चात दोपहर 2 बजे कवयित्री सम्मेलन आयोजित होगा। आयोजन समन्वयक लॉयन महावीर माली ने बताया कि  डॉ. धनन्जया अमरावत, जोधपुर की अध्यक्षता व  डॉ. शकुंतला शर्मा, जयपुर के मुख्य आतिथ्य में आयोजित सत्र में  डॉ. जेबा रशीद, जोधपुर,  डॉ. अनुश्री राठौड़, उदयपुर,  संतोष चौधरी, जोधपुर, विमला महरिया, लक्ष्मणगढ़,  हरप्यारी देवी बिहानी, श्रीडॅूंगरगढ़ विशिष्ट अतिथि होंगी। कवयित्री मोनिका गौड़,  बीकानेर के संचालन में अर्चना राठौड़, जयपुर, आशा रानी जैन ‘आशु’, झालावाड़,  इंजि. आशा शर्मा, बीकानेर , इन्द्रा सिंह, चूरू, उर्मिला देवी उर्मि, रायपुर,  डॉ. उषा किरण सोनी, राजलदेसर, डॉ. कृष्णा आचार्य, बीकानेर, कष्णा सिन्हा, चित्तौड़, छैल कंवर चारण ‘हरिप्रिया’, पाली, जयश्री कंवर, जयपुर, तारा प्रजापत ‘प्रीत’, जोधपुर, दीपा परिहार ‘दीप्ति’, जोधपुर, नगेन्द्रबाला बारेठ, जयपुर, नलिनी पुरोहित, जोधपुर, प्रीतिमा पुलक, झालावाड़, जोधपुर, मधु वैष्णव, जोधपुर, मान कंवर ‘मैना’, सीकर, मंजू शर्मा जांगिड़  ‘मनी’, जोधपुर,  मंजू सारस्वत, बीकानेर, राजोल राजपुरोहित, जोधपुर, सुनीता विश्नोलिया, जयपुर, डॉ. संजू श्रीमाली, बीकानेर, डॉ. संतोष विश्नोई, फरीदाबाद सहित अनेक कवयित्रियां अपनी रचनाओं से रू-बरू करवायेंगी।

A national conference of writers will be organized on the completion of 45 years of the publication of Rajasthani Quarterly Rajasthani of Language, Literature, Culture and Public Consciousness. Giving information to this effect, the editor-in-chief of the magazine, Shyam Maharishi said that on the important occasion of this life-filled journey of Rajasthani's oldest and continuously published magazine Rajsthali, the National Conference of Rajasthani Writers on Sunday, 29 August under the Kovid guide-line. will be organized, in which Rajasthani writers from all over the country will participate.


Managing Editor Ravi Purohit said that on this occasion, the women's writing special issue of the magazine published in the guest editing of Kiran Rajpurohit Nitila will also be released, in which more than 125 authors are involved.
Sharing the outline of the event, the convener of the conference, Monica Gaur said that Prof. Dr. Divya Choudhary, Sub-Divisional Officer, Shri Dungargarh will inaugurate the function to be presided over by Dr. Vimala, National Vice President, BSG, Chief Hospitality and eminent litterateur, Dr. Sharda Krishna, Sikar. Basanti Panwar, Jodhpur, Madhu Jhabak, Vice President, Terapanth Mahila Mandal, Kiran Rajpurohit 'Nitila' will be the special guests in the proposed event in the presence of Savitri Godara, Pradhan, Panchayat Samiti, Sri Dungargarh. Narrator-lyricist Manisha Arya will deliver the seed speech in this session to be conducted under the supervision of Dr. Prakash Amrawat, Jodhpur. Vijayalakshmi Detha, Udaipur and Rekha Lodha will explore the workshops organized by 'Smit', Bhilwara Patrika.


Bajrang Sharma, vice-president of the magazine's publication institute, told that after the inaugural session of the conference organized in the diamond jubilee year of the institution, a poetess conference will be held at 2 pm. Organizing coordinator Lion Mahavir Mali told that in the session organized under the chairmanship of Dr. Dhananjaya Amrawat, Jodhpur and the chief hospitality of Dr. Shakuntala Sharma, Jaipur, Dr. Jeba Rashid, Jodhpur, Dr. Anushree Rathod, Udaipur, Santosh Chaudhary, Jodhpur, Vimla Mahariya, Laxmangarh, Harpyari Devi Bihani, Sridungargarh will be the special guests. Archana Rathod, Jaipur, Asha Rani Jain 'Ashu', Jhalawar, Eng. Asha Sharma, Bikaner, Indra Singh, Churu, Urmila Devi Urmi, Raipur, Dr. Usha Kiran Soni, Rajaldesar, Dr. Krishna Acharya, Bikaner, Krishna Sinha, Chittor, Khail Kanwar Charan 'Haripriya', Pali, Jayshree Kanwar, Jaipur, Tara Prajapat 'Preet', Jodhpur, Deepa Parihar 'Deepti', Jodhpur, Nagendrabala Bareth, Jaipur, Nalini Purohit, Jodhpur, Preetima Pulak, Jhalawar, Jodhpur, Madhu Vaishnav, Jodhpur, Man Kanwar 'Maina', Sikar, Manju Sharma Jangid ' Money', Jodhpur, Manju Saraswat, Bikaner, Rajol Rajpurohit, Jodhpur, Sunita Vishnolia, Jaipur, Dr. Sanju Shrimali, Bikaner, Dr. Santosh Vishnoi, Faridabad and many other poets will be introduced to their creations.