राजस्थान में मानसून फिर एक्टिव, बीकानेर में भी छाए बादल

राजस्थान में मानसून फिर एक्टिव, बीकानेर में भी छाए बादल
...
width="120px" width="175px"

बीकानेर। शहर में पिछले दो दिनों से तेज धूप ने आमजन को गर्मी का एहसास कराया था लेकिन शुक्रवार को अलसुबह से ही बादल छाए रहे। इससे गर्मी का एहसास थोड़ा कम हुआ। हालंाकि रात को अब ठंडी हवाएं चलने लगी हंैं। इससे कलूर बंद हो गए है और रात को सोते समय चद्दर की जरुरत पडऩे लगी है। मौसम के करवट बदलने का पहला कारण राजस्थान में फिर से सक्रिय हुए मानसून से हुआ है। शुक्रवार को जयपुर समेत पूर्वी राजस्थान के कई जिलों में बारिश हो रही है। भरतपुर, जयपुर, अजमेर, कोटा संभाग के कई जिलों में आज आसमान सुबह से घने बादलों से घिरा हुआ है। वहीं, मौसम विभाग के अनुसार बारिश का यह दौर आने वाले दिनों में भी जारी रह सकता है। दो दिन से हो रही बारिश के कारण दिन के तापमान में भी कमी आई है।

बदले मौसम के कारण तैयार खड़ी खरीफ की फसल के नुकसान होने की आशंका बढ़ गई है। मौसम विशेषज्ञों के अनुसार बंगाल की खाड़ी से आए सिस्टम से राजस्थान में फिर से तेज बारिश का दौर स्टार्ट हुआ है। बारिश के कारण जयपुर के तापमान में गिरावट हुई, कल दिन का अधिकतम तापमान 29.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ, जो सामान्य से 5 डिग्री सेल्सियस कम रहा। इससे लोगों को दिन और रात में हल्की ठंडक का अहसास हुआ।


मौसम विभाग के अनुसार बीकानेर शहर और ग्रामीण इलाकों में बादलों की आवाजाही लगी रहेगी। इससे तापमान में गिरावट होने की संभावना है। रात को हल्की ठंडी हवाएं चलेगी। हालांकि बारिश होने की अभी कोई उम्मीद नजर नहीं आ रही है।

मौसम केन्द्र जयपुर से मिली रिपोर्ट देखें तो पिछले 24 घंटे में सबसे ज्यादा बरसात अलवर के कोटकासिम में 118एमएम (4.64 इंच) बारिश दर्ज हुई। इसके अलावा बानसूर, गोविंदगढ़, रामगढ़, टपूकड़ा में भी 50एमएम से ज्यादा बारिश हुई। इधर भरतपुर, दौसा, सवाई माधोपुर, टोंक, कोटा, झालावाड़, बूंदी, बारां में भी कई स्थानों पर तेज बारिश हुई।