मंत्री जी का बड़ा दावा- आर्यन खान को NCB ने नहीं, बल्कि बीजेपी नेता ने किया था गिरफ्तार

मंत्री जी का बड़ा दावा- आर्यन खान को NCB ने नहीं, बल्कि बीजेपी नेता ने किया था गिरफ्तार
07
5
width="150px" 5m12c20d21 width="150px" 13m10c20d21s width="220px"

मुंबई में क्रूज ड्रग्स पार्टी मामले में एक नया मोड़ सामने आया है। दरअसल, NCB की कार्रवाई पर महाराष्ट्र सरकार में मंत्री और एनसीपी के वरिष्ठ नेता नवाब मलिक ने इस मामले को फर्जी बताया है। नवाब मलिक का दावा है कि शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान और अरबाज मर्चेंट को एनसीबी ने नहीं, बल्कि बीजेपी से जुड़े मनीष भानुशाली ने गिरफ्तार किया था।

एनसीबी की इस कार्रवाई में बीजेपी का हाथ है
नवाब मलिक ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि एनसीबी की इस कार्रवाई में बीजेपी का हाथ है और यह गिरफ्तारी पूरी तरह से राजनीति से प्रेरित है। नवाब मलिक ने कहा है कि आर्यन खान को एनसीबी के पास लाने वाले और सेल्फी लेने वाले केपी गोस्वावी और मनीष भानुशाली बीजेपी के नेता हैं।

दरअसल आर्यन खान जिस दिन से गिरफ्तार हुआ था, उस दिन उसके साथ एक व्यक्ति की सेल्फी वाली तस्वीर सोशल मीडिया पर खूब वायरल हुई थी, इसके बाद एनसीबी ने कहा था कि सेल्फी लेने वाला शख्स उनके विभाग का आदमी नहीं है, बाद में इस शख्स का संबंध बीजेपी से निकला ऐसे में एनसीबी की इस कार्रवाई पर सवाल खड़े हो रहे हैं।

उन्होंने मेरे नाम का खुलासा किया, मैं मलिक पर मानहानि का केस करूंगा
वहीं दूसरी तरह इस मामले में बीजेपी नेता मनीष भानुशाली का कहना है कि मैं बीजेपी के कार्यकर्ता हूं, क्रूज पर होने वाली इस पार्टी की जानकारी मुझे मिली थी, जिसकी जानकारी मैंने एनसीबी को दी थी और एक विटनेस के तौर पर मुझे एनसीबी दफ्तर भी बुलाया गया था। बाकी इस मामले से मेरा कोई लेना देना नहीं है, मैं मलिक पर मानहानि का केस करूंगा। उन्होंने इस मामले में मेरे नाम का खुलासा किया है, मुझे सुरक्षा दी जाए।

मनीष भानुशाली और केपी गोसावी स्वतंत्र गवाह हैं
इतना ही नहीं इसके साथ ही नवाब मलिक के आरोपों पर एनसीबी के डिप्टी डीजी ज्ञानेश्वर सिंह ने मुंबई में प्रेस कॉन्फ्रेंस की और एनसीबी के ऊपर लगे आरोपों को गलत बताया। ज्ञानेश्वर सिंह ने कहा कि मनीष भानुशाली और केपी गोसावी स्वतंत्र गवाह हैं। उन्होंने कहा कि एजेंसी पर गलत आरोप लगाए जा रहे हैं। अधिकारियों को क्रूज से कई तरह के ड्रग्स मिले और कैश भी बरामद किया गया।

.

.

.

A new twist has come to the fore in the cruise drugs party case in Mumbai. In fact, on the action of NCB, Nawab Malik, a minister in the Maharashtra government and senior NCP leader, has called the matter fake. Nawab Malik claims that Shah Rukh Khan's sons Aryan Khan and Arbaaz Merchant were not arrested by NCB, but by Manish Bhanushali, associated with BJP.

BJP has a hand in this action of NCB
Nawab Malik said in the press conference that BJP has a hand in this action of NCB and this arrest is completely politically motivated. Nawab Malik has said that KP Goswavi and Manish Bhanushali, who brought Aryan Khan to NCB and took selfies, are BJP leaders.

In fact, from the day Aryan Khan was arrested, the picture of a person with a selfie became very viral on social media, after which NCB had said that the person who took the selfie was not a man of their department, later this person The relation of BJP came out, in such a situation questions are being raised on this action of NCB.

He revealed my name, I will file a defamation case against Malik
On the other hand, in this case, BJP leader Manish Bhanushali says that I am a BJP worker, I had got information about this party being on the cruise, about which I had given information to NCB and as a witness I was also called to the NCB office. had gone. I have nothing to do with the rest of the matter, I will file a defamation case against Malik. They have disclosed my name in this case, give me protection.

Manish Bhanushali and KP Gosavi are independent witnesses
Not only this, on the allegations of Nawab Malik, NCB Deputy DG Dnyaneshwar Singh held a press conference in Mumbai and called the allegations against NCB wrong. Dnyaneshwar Singh said Manish Bhanushali and KP Gosavi are independent witnesses. He said that false allegations are being leveled against the agency. The officers found a variety of drugs and cash was also recovered from the cruise.